रियो डी जनेरियो : ब्राजील में बैंक लूटने वाले गिरोह और पुलिस के बीच गोलीबारी में 12 लोगों की मौत हो गई। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, यह गोलीबारी सेरा के मिलाग्रेस में शुक्रवार को उस समय हुई, जब हथियारबंद समूह के 30 लोगों ने लोगों को बंधक लगाकर दो बैंकों को लूटने की कोशिश की लेकिन पुलिस मौके पर पहुंच गई।

स्थानीय मेयर लेइलसन लैंडिम ने फोल्हा डि साओ पाउलो समाचार पत्र को बताया कि मारे गए पांचों बंधक एक ही परिवार के थे। ये लोग पास के एक हवाईअड्डे से लौट रहे थे कि तभी कुछ लुटेरों ने इन्हें बंधक बना लिया था।

वहीं, सिएरा प्रांत के सुरक्षा मंत्री एन्ड्रे कोस्टा ने एक बयान में कहा कि मारे गए लोगों की शिनाख्त की जा रही है साथ ही मौत की परिस्थितियों के बारे में पता लगाने की कोशिश की जा रही है। हालांकि उन्होंने यह नहीं बताया कि बंधकों की मौत किसकी गोली से हुई है। लैंडिम ने पहले कहा था कि प्रारंभिक सूचना से उन्हें लगा था कि ''अपराधियों ने बंधकों को मार दिया और पुलिस ने अपराधियों को ढेर कर दिया।'' कोस्टा के कार्यालय के अनुसार दो संदिग्धों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

इसे भी पढ़ें अमेरिकी बैंक में हुई गोलीबारी में आंध्र प्रदेश के युवक की मौत

जी1 न्यूज वेबसाइट के अनुसार लुटेरों ने ट्रक लगाकर मार्ग अवरुद्ध कर दिया और कार को रोका। इस कार में एक परिवार तथा उनके रिश्तेदार सवार थे। ये लोग परिवार के साथ क्रिसमस मनाने के लिए साओ पाउलो पहुंचे थे। न्यूज वेबसाइट के अनुसार लुटेरों ने पुलिस के आने पार बंधकों की हत्या कर दी और गिरोह के कुछ लोग फरार हो गए। स्थानीय निवासी सैंटा हेलेना ने मीडिया से कहा, ''मैंने इस तरह की घटना पहले कभी नहीं देखी। मैं घर में रही, छिपी थी और डरी हुई थी।''