लंदन : ब्रिटेन में संसद के बाहर एक आतंकी हमले में एक तेज रफ्तार कार ने व्यस्त समय के दौरान सुरक्षा अवरोधकों को टक्कर मार दी जिसमें तीन लोग घायल हो गए। स्काटलैंड यार्ड ने कहा कि उसने आतंकी कृत्य के संदेह में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। मेट्रोपॉलिटन पुलिस की आतंकवाद रोधी कमान घटना को आतंकी हमला मान रही है।

आतंकी कृत्य के संदेह में लगभग 28-29 साल के एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है। मेट्रोपॉलिटन पुलिस के सहायक आयुक्त एवं आतंक रोधी अभियानों के भारतीय मूल के प्रमुख अधिकारी नील बसु ने कहा कि पुलिस व्यक्ति की पहचान की कोशिश कर रही है, लेकिन वह पुलिस के साथ सहयोग नहीं कर रहा।

ये भी पढ़ें : मैनचेस्टर की स्ट्रीट पार्टी में गोलीबारी, 10 लोग घायल

बसु ने कहा, ‘‘यदि हम कर सके तो हमारी प्राथमिकता संदिग्ध की औपचारिक रूप से पहचान स्थापित करने और घटना का कारण पता लगाने की है। फिलहाल वह सहयोग नहीं कर रहा है।'' उन्होंने कहा, ‘‘इस घटना को लेकर इस समय लंदनवासियों या शेष ब्रिटेन को कोई और खतरा होने की खुफिया सूचना नहीं है।'' बसु ने कहा, ‘‘यह जानबूझकर किया गया हमला प्रतीत होता है, इसका तरीका और घटना की जगह, हम इसे आतंकी घटना मान रहे हैं।''

मेट्रोपॉलिटन पुलिस के एक प्रवक्ता ने कहा कि वाहन में कोई और नहीं था, जो घटनास्थल पर खड़ा है तथा इसकी तलाशी ली जा रही है। अभी कोई हथियार बरामद नहीं हुआ है। पुलिस ने इस घटना को लेकर ठीक वैसी ही घेराबंदी की है जैसी कि आतंकी हमलों के दौरान की जाती है।

मेट्रोपॉलिटन पुलिस ने कहा, ‘‘स्थानीय समयानुसार आज सात बजकर 37 मिनट पर कार ने संसद भवन के बाहर सुरक्षा अवरोधकों को टक्कर मार दी।'' कार हाउस ऑफ लार्ड्स की तरफ जाने वाले रास्ते के अवरोधकों से टकराई जिससे ऐसा लगता है कि हो सकता है कि चालक संसद भवन तक पहुंचने की कोशिश कर रहा हो।

ये भी पढ़ें : मैनचेस्टर के स्टेडियम में हुए धमाके के बाद की कुछ तस्वीरें

ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीजा मे ने कहा, ‘‘वेस्टमिंस्टर घटना में घायल हुए लोगों के प्रति मैं सहानुभूति प्रकट करती हूं और तत्काल साहसिक कार्रवाई करने वाली आपातकालीन सेवाओं को मेरा धन्यवाद।'' गृह सचिव साजिद जाविद ने भी त्वरित कार्रवाई के लिए आपातकालीन सेवाओं के प्रति आभार प्रकट किया।

लंदन के मेयर सादिक खान ने कहा कि वह पुलिस से लगातार संपर्क रखे हुए हैं। हमले में कुल तीन लोग घायल हुए हैं। लंदन एंबुलेंस सेवा ने एक बयान में कहा कि इसने दो लोगों का घटनास्थल पर ही इलाज किया और फिर उन्हें अस्पताल पहुंचाया गया।