इस्लामाबाद : पाकिस्तान का कहना है कि रूस के साथ उसके रक्षा संबंधों में प्रगति हुई है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने रूसी उपरक्षा मंत्री कर्नल जनरल अलेक्जेंडर वी. फोमिन के पाकिस्तान के दौरे के दो दिन बाद गुरुवार को यह टिप्पणी की।

फोमिन ने पाकिस्तानी सेना के प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा और अन्य सैन्य अधिकारियों के साथ वार्ता की थी।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने अपने साप्ताहिक प्रेस ब्रीफिंग में कहा, "गुजरते सालों के साथ हमारे रक्षा संबंध लगातार बढ़े हैं और दोनों देशों की सेनाओं ने नियमित रूप से सैन्य संपर्क स्थापित किए हैं।" दोनों देशों के बीच 2016 में पाकिस्तान में और रूस में 2017 में 'ड्रजबा '(मैत्री) नामक संयुक्त सैन्याभ्यास के दो संस्करण आयोजित हुए।

यह भी पढ़ें : 32 साल पुराने समझौते के हवाले से भारत मांगेगा पाकिस्तान से जैश आतंकवादी का ब्यौरा

पाकिस्तान और रूस ने मंगलवार को एक समझौते पर हस्ताक्षर किए जो रूसी सैन्य प्रशिक्षण संस्थानों में पाकिस्तानी सैनिकों के प्रशिक्षण की अनुमति देता है। रक्षा मंत्रालय ने बयान में कहा,"दोनों देशों ने आरएफ (रूसी संघ) प्रशिक्षण संस्थानों में पाकिस्तान के सेवा सदस्यों के प्रवेश पर अनुबंध पर हस्ताक्षर किए।"