मनुष्य को स्वस्थ रहने के लिए प्रति दिन योग करना बेहद जरूरी है, लेकिन इसके लिए कुछ खास नियम और समय का पालन करने से स्वस्थ तन और सुंदर मन मिलता है।भारतवर्ष की सबसे प्रचान पद्धतियों में से एक योग अभ्यास के प्रति अब पूरी दूनिया में चर्चा हो रही है।

दुनिया के अन्य देश भी जानने लगे हैं, कि योग स्वस्थ तन और मन के लिए काफी फायदेमंद है। यही वजह है कि अब हर वर्ष 21 जून को विश्व योग दिवस के रूप में मनाया जा रहा है, जिसदिन भारत सहित सभी देशों के प्रमुख योग अभ्यास में हिस्सा लेकर दूसरों के लिए प्रेरणा बन रहे हैं।

मनुष्यों में पिछले कुछ समय से स्वास्थ्य को लेकर जागरूकता बढ़ी है और यह वजह है कि फिट और स्वस्थ रहने के लिए आजकल हर जगह हेल्थ-क्लब्स, स्कूल्स और अस्पतालों में भी योग करवाया जा रहा है, लेकिन योग करने से पहले आपको कुछ नियमों का पता होना चाहिए।

योग के दौरान जरूरी सावधानियां नहीं बरने की स्थिति में आपको इसका फायद तो नहीं होता,लेकिन उल्टा उससे नुकसान होने का खतरा है। आज हम आपको कुछ ऐसे नियम बताएंगे, जो आपके लिए फायदेमंद साबित होंगें और आपको योग का पूरा लाभ मिलेगा।

योग अभ्यास से पहले शरीर को ऐसे करें तैयार

आम तौर पर हम जिम्स में एक्सरसाइज से पहले खुद को वार्मअप करते हैं, ठीक उसी तरह योग से पहले भी आपको वार्मअप करना चाहिए। योग अभ्यास करने से पहले आपको भी हल्का-फुल्का एक्सरसाइज के जरिए वार्मअप करना चाहिए, ताकि आपका शरीर लचिला बन जाए। योगासन खुली और ताजी हवा में करना सबसे अच्छा माना गया है। फिर भी अगर ऐसा करना संभव न हो तो, किसी भी खाली जगह पर आसन करें।

योग सिखाता एक टीचर 
योग सिखाता एक टीचर 

सरल योग आसान से करें शुरूआत

योगासन की शुरूआत हल्के आसन से करें। योग की शुरूआत किसी कठिन आसन से नहीं करनी चाहिए, चाहे आपको कितनी भी प्रैक्टिस क्यों न हो। बिना शरीर को तैयार (वार्मअप) किए आप कठिन योग करने लगेंगे तो चोट लगने का डर रहता है। 3-7 साल तक के बच्चे हल्के योगासन कर सकते हैं। 7 साल से ज्यादा उम्र के बच्चे हर तरह के योगासन कर सकते हैं। प्रैग्नेंसी के दौरान मुश्किल आसन और कपाल भारती बिल्कुल भी न करें।

अनुभवी योग गुरु से ले सलाह

अक्सर लोग योग करने के लिए टीवी या कोई किताब पढ़ने लगते हैं, लेकिन योग हमेशा किसी एक्सपर्ट की सलाह से ही करना चाहिए। इसके अलावा अगर आप किसी बीमारी से छुटकारा पाने के लिए योग कर रहें तो भी एक्सपर्ट से सलाह लेना न भूलें। योग करते समय हमेशा ढीले और आरामदायक कपड़े ही पहनें। आप टी-शर्ट या ट्रैक पैंट पहनकर भी योगासन कर सकते है।

ये है योग का सही समय

योग सूरज के लिए सबसे अच्छा समय उगने से पहले और सूर्य डूबने के बाद का होता है। दिन के समय योग करना ठीक नहीं है। योगासन सुबह के समय करने से अधिक लाभ मिलता है। मगर फिर भी अगर आप किसी कारण से सुबह योग नहीं कर पाएं तो शाम या रात को भोजन से आधा घंटा पहले भी कर सकते हैं। भोजन करने के 3-4 घंटे बाद और हल्का नाश्ता लेने के 1 घंटे बाद आप योगासन करें।

भोजन के तुरंत बाद ना करें योग

सुबह हो या शाम, कभी भी भोजन के तुरंत बाद योग नहीं करना चाहिए। योग हमेशा खाने के करीब 3 घंटे बाद करें। इसके अलावा सुबह आप खाली पेट भी योग कर सकते हैं। केवल वज्रासन ही ऐसा योग है, जिसे भोजन के बाद किया जा सकता है।

योग के दौरान ठंडा पानी न पीएं

योग करते समय बीच में ठंडा पानी पीना आपके लिए हानिकारक हो सकता है। योग के दौरान शारीरिक गतिविधि के बाद शरीर गर्म हो जाता है। ऐसे में ठंडा पानी पीने से सर्दी जुकाम, कफ और एलर्जी की शिकायत हो सकती है। इसलिए योग के समय और बाद में नार्मल पानी ही पीएं।

बीमारी में न करे योग

अगर आपको कोई भी गंभीर समस्या, जोड़ों, कमर, घुटनों में अधिक दर्द है तो योग करने के लिए डॉक्टर से सलाह लें। इसके अलावा योग करने के दौरान बाथरूम नहीं जाना चाहिए बल्कि अपने शरीर का पानी पसीने के जरिए बाहर निकलना चाहिए।

योग के तुरंत बाद न नहाएं

योगासन करने के तुरंत बाद न नहाएं बल्कि कुछ समय बाद स्नान करें। क्योकि किसी भी व्यायाम या अन्य शारीरिक गतिविधि के बाद शरीर गर्म हो जाता है और आप एकदम से नहाएंगे तो सर्दी-जुकाम, बदन दर्द जैसी तकलीफ हो सकती है। इसलिए योग करने के एक घंटे बाद ही नहाएं।

ध्यान भंग होने वाली चीजें पास न रखें

योगासन करते समय अपने मोबाइल फोन ऑफ कर दें, क्योंकि इससे आपका ध्यान इधर-उधर आपका ध्यान भटकने की पूरी संभावना होता है।