सहजन की फली को तो आपने कई बार खाया होगा। यह स्वादिष्ट तो होती ही है साथ ही सेहत को भी कई तरह से फायदा पहुंचाती है। इसे दाल में तो डाला ही जाता है साथ ही इसकी सब्जी के अलावा अचार बनाकर भी खाया जाता है।

यह ऐसी सब्जी है जो किसी भी तरीके से खाई जाए सेहत को लाभ पहुंचाती है।

सहजन की फली ही नहीं बल्क इसकी पत्तियां, जड़, छाल सभी सेहत को फायदा पहुंचाते हैं। सहजन में पोषक गुण तो होते ही हैं साथ ही इसमें पालक से भी ज्यादा लौह तत्व पाया जाता है।

अगर सुबह सवेरे सहजन की पत्तियों की चाय या यूं कहें कि काढ़ा बनाकर पिया जाए तो दिनभर ऊर्जा का संचार होता है शरीर में।

इतना ही नहीं सहजन में विटामिन ए की अधिकता होती है जो हमारी आंखों के लिए बेहद लाभदायक सिद्ध होती है।

इसे भी पढ़ें :

फेफड़ों के जानलेवा आघात को रोकने में कारगर हो सकती है विटामिन डी की गोलियां

वहीं दूसरी ओर सहजन में संतरे से ज्यादा विटामिन सी पाया जाता है। सहजन में कैल्शियम की मात्रा दूध से ज्यादा होती है जो हड्डियों को मजबूत बनाने का काम करता है।

तमाम शोध से यह भी पता लग चुका है कि सहजन में कैंसर जैसी बीमारी से लड़ने की क्षमता भी होती है। शोध से पता चला है कि सहजन में एंटी कैंसर कंपाउंड पाए जाते हैं जो कैंसर से लड़ने का काम करते हैं। सहजन ओवरी, लीवर, लंग और मेलानोमा जैसे घातक कैंसर में कारगर साबित होती है।