वाशिंगटन : यदि आप बढ़ती उम्र संबंधी बीमारियों से बचना चाहते हैं और बुढ़ापे में भी स्वस्थ रहना चाहते हैं तो उपवास करना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। एक अध्ययन में यह बात सामने आई है।

पत्रिका ‘सेल रिपोर्ट्स' में प्रकाशित एक अनुसंधान में कहा गया है कि उपवास रखने से शरीर की चयापचय प्रक्रिया पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है और आयु संबंधी बीमारियों को दूर रखने में मदद मिलती है। ऐसा माना जाता है कि भोजन मनुष्य के ‘बॉडी क्लॉक' को प्रभावित करता है, लेकिन अभी तक यह स्पष्ट नहीं था कि भोजन की कमी का इस पर क्या असर पड़ता है।

कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय में प्रोफेसर पाओलो सास्सोने कोर्सी ने कहा, ‘‘हमनें पाया कि भोजन नहीं करने से शरीर के भीतर सिर्केडियन क्लॉक और उपवास संचालित कोशिकीय प्रतिक्रियाओं पर प्रभाव पड़ता है।'' यह अनुसंधान चूहों पर किया गया जिन्हें 24 घंटे तक कुछ खाने को नहीं दिया गया।

ये भी पढ़ें: शोध में हुआ खुलासा, पुरुषों के मुकाबले महिलाएं जल्दी भूल जाती हैं अपना दर्द

अनुसंधानकर्ताओं ने पाया कि खाना नहीं दिए जाने के दौरान चूहों ने ऑक्सीजन की खपत, आरईआर (चयापचय के दौरान पैदा हुई कार्बनडाईऑक्साइड एवं इस्तेमाल की गई ऑक्सीजन की मात्रा के अनुपात)और ऊर्जा खपत में कमी दिखाई। खाना दिए जाने के बाद ऐसा होना बंद हो गया। मनुष्यों में भी इसी प्रकार का परिणाम देखा गया है।

कोर्सी ने कहा कि यदि समयबद्ध तरीके से उपवास किया जाए तो इससे शरीर की कोशिकीय प्रणाली पर सकारात्मक असर पड़ेगा जो अंतत: स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होगा और बढ़ती आयु संबंधी बीमारियों से बचाएगा।