वॉशिंगटन : दुख और क्रोध जैसे नकारात्मक भाव सूजन एवं जलन के बढ़े हुए स्तर से संबंधित हैं और ये खराब सेहत का संकेत हो सकते हैं। एक अध्ययन में ऐसा दावा किया गया है।

अमेरिका के पेनसिल्वानिया स्टेट यूनिवर्सिटी के अनुसंधानकर्ताओं ने पाया कि समय-समय पर एक दिन में मापी गई नकारात्मक मनोदशा सूजन एवं जलन बायोमार्कर के बढ़े हुए स्तर से जुड़ी हुई होती है। यह अध्ययन पूर्व में हुए शोध का विस्तार है जिसमें देखा गया था कि क्लीनिकल अवसाद एवं शत्रुता का संबंध जलन से होता है।

इसे भी पढ़ें :

अपने शरीर के बारे में नकारात्मक धारणाएं त्यागना एक बेहतर विचार

लंबे समय तक जलन या सूजन होने से मधुमेह, ह्रदयवाहिनी एवं कुछ तरह के कैंसर समेत कई बीमारियां हो सकती हैं। यह अध्ययन ‘ब्रेन, बिहेवियर एंड इम्युनिटी' पत्रिका में प्रकाशित हुआ है।