Tue Oct 23, 2018 Telugu English E-Paper Education
ब्रेकिंग न्यूज़
हावड़ा के संतरागाछी स्टेशन पर भगदड़ करीब 35 घायल 
असम में नागरिकता विधेयक को लेकर आज बंद, जनजीवन प्रभावित
सुप्रीम कोर्ट ने नहीं लगाई पटाखों की बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध
सबरीमाला मामला : पुनर्विचार याचिकाओं पर 13 नबंवर को होगी सुनवाई
CBI घूसकांड: आरोपी Dy SP देवेंद्र कुमार गिरफ्तार  

सेहत

बिना दवा के आप कर सकते हैं अपने घुटने के दर्द का इलाज 
सेहत

बिना दवा के आप कर सकते हैं अपने घुटने के दर्द का इलाज 

अगर आपके घुटने में दर्द होता है या आपके घुटने कमजोर हैं तो आपको कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए। आप अपनी दिनचर्या में कुछ व्‍यायामों का नियमित अभ्यास करके अपने घुटनों को मजबूत बना सकते हैं।

 स्वाइन फ्लू के कारण 542 मौत, जानिए किस राज्य में गई है सबसे ज्यादा जान
राष्ट्रीय

स्वाइन फ्लू के कारण 542 मौत, जानिए किस राज्य में गई है सबसे ज्यादा जान

स्वाइन फ्लू के कारण इस साल 542 लोगों की मौत हुई है और इसमें से करीब 50 प्रतिशत मामले महज महाराष्ट्र से सामने आये हैं। एक सरकारी अधिकारी ने बताया कि 14 अक्टूबर तक प्रकाश में आये 1,793 मामलों में से महाराष्ट्र में 217 मौत का आंकड़ा दर्ज किया गया।

 गर्भवती महिलाएं घर बैठे नाप सकेंगी अजन्मे बच्चे की दिल की धड़कन    
सेहत

गर्भवती महिलाएं घर बैठे नाप सकेंगी अजन्मे बच्चे की दिल की धड़कन   

अब महिलाएं गर्भ में पल रहे अपने बच्चे की दिल की धड़कन को घर बैठे ही नाप सकती हैं। वैज्ञानिकों ने ऐसा ऐसा सेंसर बनाया है जिससे गर्भवती महिलाएं घर में ही बच्चे की दिल की धड़कनों का पता लगा सकती हैं।

बुखार, खांसी, मतली हो तो कराएं स्वाइन फ्लू की जांच
सेहत

बुखार, खांसी, मतली हो तो कराएं स्वाइन फ्लू की जांच

किसी व्यक्ति को खांसी, गले में दर्द, बुखार, सिरदर्द, मतली और उल्टी के लक्षण हैं, तो स्वाइन फ्लू की जांच करानी चाहिए। इस स्थिति में दवाई केवल चिकित्सक की निगरानी में ही ली जानी चाहिए।

 ऑस्टियोपोरोसिस में हड्डियों के टूटने की संभावना अधिक  
सेहत

ऑस्टियोपोरोसिस में हड्डियों के टूटने की संभावना अधिक  

बुजुर्गो या उम्र बढ़ने पर हड्डियों का कमजोर होना यानी ऑस्टियोपोरोसिस एक आम समस्या है, जिससे उनके टूटने/ फ्रैक्च र की संभावना बढ़ जाती है। विशेष रूप से कूल्हे, रीढ़ की हड्डी और कलाई की हड्डी में फ्रैक्च र की सं

संभलकर त्योहारों का मजा उठाएं मधुमेह के रोगी! 
सेहत

संभलकर त्योहारों का मजा उठाएं मधुमेह के रोगी! 

मधुमेह या डायबिटीज से पीड़ित लोगों के लिए अनियमित उपवास और त्योहार के बाद बार-बार खाते रहना हानिकारक साबित हो सकता है। भारत में लगभग 7.2 करोड़ मधुमेह रोगी हैं, जिनके 2025 तक 13.4 करोड़ तक होने की उम्मीद है। मधुमेह के रोगियों को त्योहारों का आनंद लेने के विशेष सावधानी और देखभाल की जरूरत होती है।

हैदराबाद के अस्पतालों में बीते महीने भर्ती रहे वायरल फीवर से पीड़ित10-20 प्रतिशत मरीज
तेलंगाना

हैदराबाद के अस्पतालों में बीते महीने भर्ती रहे वायरल फीवर से पीड़ित10-20 प्रतिशत मरीज

मौसम में हुए बदलाव के चलते बीते महीने लोग वायरल बुखार से परेशान हुए। हैदराबाद के अस्पतालों में वायरल बुखार, डेंगू, चिकन गुनिया और एन्फ्लुएंजा के मरीजों की संख्या बढ़ी। अस्पतालों में भर्ती होने वाले मरीजों में 10-20 प्रतिशत मरीज वायरल फ्लू से पीड़ित थे।

 ऑर्थराइटिस की रोकथाम के लिए अपनाएं यह तरीका
सेहत

ऑर्थराइटिस की रोकथाम के लिए अपनाएं यह तरीका

ऑर्थराइटिस में जोड़ों में सूजन आ जाती है, जिसके कारण मरीज को चलने-फिरने में परेशानी होने लगती है। आज के शहरी लोग बिल्कुल गतिहीन हो गए हैं, जिसका बुरा असर उनके मांस और हड्डियों की ताकत पर पड़ता है। 

विश्व आर्थराइटिस डे : गठिया की चपेट में हर छठा भारतीय
सेहत

विश्व आर्थराइटिस डे : गठिया की चपेट में हर छठा भारतीय

भारतीय महिलाओं में घुटने की समस्याओं की शुरुआत के लिए औसत उम्र 50 साल है, जबकि भारतीय पुरुषों में यह 60 साल है। महिलाओं में घुटने की समस्याओं के जल्द शुरू होने का कारण मोटापा, व्यायाम नहीं करना, धूप में कम रहना और खराब पोषण है।

अधिक सोना मस्तिष्क के लिए हानिकारक हो सकता है : अध्ययन
सेहत

अधिक सोना मस्तिष्क के लिए हानिकारक हो सकता है : अध्ययन

अधिक सोने से आपके मस्तिष्क के काम करने के तरीके को नुकसान पहुंच सकता है। एक नए अध्ययन में यह बात सामने आयी है कि जो कम सोता है या रात में सात से आठ घंटे से ज्यादा की नींद लेता है उसकी समझने-जानने की क्षमता कम हो जाती है।

देश के कई राज्यों में 23 फीसदी बच्चों को हाई बीपी 
राष्ट्रीय

देश के कई राज्यों में 23 फीसदी बच्चों को हाई बीपी 

हाइपरटेंशन को बार-बार ऊंचे होते रक्तचाप के रूप में परिभाषित किया जाता है, जो 90 मिमीएचजी से ऊपर 140 तक पहुंच जाता है। इससे हृदय रोग और स्ट्रोक हो सकता है, जो भारत में मृत्यु के दो प्रमुख कारण हैं।

दिल की बीमारियों को दूर रख सकते हैं  ये तरीके
सेहत

दिल की बीमारियों को दूर रख सकते हैं ये तरीके

भारत में दिल की बीमारियों के कारण होने वाली मौतों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। मधुमेह, उच्च रक्तचाप, हाई कॉलेस्ट्रॉल, धूम्रपान एवं आनुवंशिक कारणों से दिल की बीमारियों की संभावना बढ़ रही है। दक्षिण-पूर्वी एशियाई आबादी में आनुवंशिक रूप से दिल की बीमारियों की संभावना अधिक होती है।

 ज्यादा शराब पीने से दिल को ‘कैड’ का खतरा  
सेहत

ज्यादा शराब पीने से दिल को ‘कैड’ का खतरा  

पिछले तीन दशकों में आम भारतीयों में दिल की बीमारी ‘कोरोनरी आर्टरी डिजीज’ (कैड) के मामलों में 300 प्रतिशत की बढ़ोतरी देखी गई है। इससे पीड़ित 2 से 6 प्रतिशत लोग गांव-कस्बों में और 4 से 12 प्रतिशत फीसदी लोग शहरों में रहते हैं। कई चीजों के अलावा, इसके लिए जीवनशैली से जुड़े कारक जैसे कि शराब का अत्यधिक मात्रा में सेवन भी जिम्मेदार है।

 दिल के रोग सताने लगे हैं 30 की उम्र में  
सेहत

दिल के रोग सताने लगे हैं 30 की उम्र में  

देश में आधुनिक जीवनशैली और अनियमित आहार के कारण 30 से 40 साल की उम्र के लोगों को दिल संबंधी रोगों की बीमारियों होने लगी हैं। समस्या इतनी आम हो चुकी है कि छोटी उम्र के बच्चे भी इस बीमारी का शिकार होते जा रहे हैं। हृदय रोग, दुनिया में मृत्यु और विकलांगता का प्रमुख कारण है और ह्रदय रोगों के कारण हर साल किसी और रोग की तुलना में अधिक मौतें होती हैं। 

40 फीसदी पुरुष अपनी ‘इनफर्टिलिटी’ से अनजान
सेहत

40 फीसदी पुरुष अपनी ‘इनफर्टिलिटी’ से अनजान

कई महिलाओं को स्वाभाविक रूप से गर्भ धारण करने में मुश्किल आती है। यहां तक कि कई परीक्षण रिपोर्ट सामान्य होने के बाद वे स्वाभाविक रूप से गर्भ धारण में असमर्थ रहती हैं। पुरुषों में ‘इनफर्टिलिटी’ उन प्रमुख कारकों में से एक है।

अपनों को बेगाना कर देने वाली नामुराद बीमारी है अल्जाइमर, पहचानें इसके लक्षण
संपादक की पसंद

अपनों को बेगाना कर देने वाली नामुराद बीमारी है अल्जाइमर, पहचानें इसके लक्षण

मालती अकसर छोटी मोटी चीजें इधर उधर रखकर भूल जाया करती थी। कई बार उसे लगता उसकी याद्दाश्त कम हो रही है, लेकिन उसने इसे गंभीरता से नहीं लिया। उस दिन हद हो गई जब वह अपने बच्चों को स्कूल से लाने के लिए घर से निकली और स्कूल का रास्ता भूल गई। वह घंटों सड़क पर कार दौड़ाती रही और उधर बच्चे स्कूल के बाहर मां का इंतजार करते रहे। बाद में पता चला कि मालती को अल्जाइमर है।

 दही से बने उत्पादों में सॉफ्ट ड्रिंक्स से ज्यादा शर्करा हो सकती है    
सेहत

दही से बने उत्पादों में सॉफ्ट ड्रिंक्स से ज्यादा शर्करा हो सकती है   

एक नए शोध में बेहद चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है कि दही से बने उत्पाद, खासतौर पर बच्चों के लिए बनाए गए उत्पादों में सॉफ्ट डिंक्स की तुलना में ज्यादा शर्करा हो सकती है।

 देश में 34 फीसदी लोग नहीं करते हैं पर्याप्त व्यायाम, ये होता है खतरा 
सेहत

देश में 34 फीसदी लोग नहीं करते हैं पर्याप्त व्यायाम, ये होता है खतरा 

देश में लगभग 34 प्रतिशत लोग (24.7 प्रतिशत पुरुष और 43.9 प्रतिशत महिलाएं) स्वस्थ रहने के लिए पर्याप्त व्यायाम नहीं करते हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की हाल में आई एक रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है। रिपोर्ट के मुताबिक, वैश्विक स्तर पर 1.4 अरब से अधिक वयस्कों को पर्याप्त शारीरिक गतिविधि न करने से बीमारियों का खतरा है।

 गर्भावस्था के दौरान ध्यान में रखें ये टिप्स, ये आहार भी हैं जरूरी  
सेहत

गर्भावस्था के दौरान ध्यान में रखें ये टिप्स, ये आहार भी हैं जरूरी  

गर्भावस्था ऐसा समय है जब मां को अच्छे पोषण की जरूरत होती है। इस दौरान सही पोषण बच्चे के विकास और मां के स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए जरूरी है। माताओं को ध्यान रखना चाहिए कि उनके पोषण में विटामिन और मिनरल्स की कमी न हो। गर्भावस्था के दौरान सही डायट चार्ट बनाना और उसका पालन करना जरूरी है।

 कार्बन डाईऑक्साइड के कारण कम हो रही पौष्टिकता, भारतीयों में पोषक तत्वों की हो सकती है कमी    
सेहत

कार्बन डाईऑक्साइड के कारण कम हो रही पौष्टिकता, भारतीयों में पोषक तत्वों की हो सकती है कमी   

भारत में कार्बन डाइऑक्साइड के स्तर में वृद्धि के कारण 2050 तक करोड़ों लोगों के शरीर में पोषक तत्वों की कमी होने का खतरा है क्योंकि एक नये अध्ययन में दावा किया गया है कि इस गैस के कारण चावल और गेहूं जैसी मुख्य फसलें कम पौष्टिक होती जा रही हैं।

घर के अंदर का वायु प्रदूषण कर सकता है 10 गुना अधिक नुकसान
सेहत

घर के अंदर का वायु प्रदूषण कर सकता है 10 गुना अधिक नुकसान

घर के अंदर का वायु प्रदूषण दूसरा सबसे बड़ा हत्यारा है, जो भारत में हर साल लगभग 13 लाख मौतों का कारण बनता है। यह एक गंभीर स्वास्थ्य जोखिम है, और भारत जैसे देश में, जहां घर के अंदर खाना पकाने से लेकर हानिकारक रसायनों और अन्य सामग्रियों के कारण मकान के अंदर की हवा की गुणवत्ता भी खराब हो जाती है और यह बाहरी वायु प्रदूषण की तुलना में 10 गुना अधिक नुकसान कर सकती है।

CKD के खतरे को बढ़ा सकता है प्रदूषित वायू : अध्ययन
सेहत

CKD के खतरे को बढ़ा सकता है प्रदूषित वायू : अध्ययन

प्रदूषित वायु क्रॉनिक किडनी डिजीज(CKD) के खतरे को बढ़ा सकता है और यह तब होता है जब किसी व्यक्ति का गुर्दा खराब हो जाए या गुर्दा खून को सही तरीके से शुद्ध करने में सक्षम न हो।

Periods के दर्द में मोनोपॉज दिलाता है छुटकारा
सेहत

Periods के दर्द में मोनोपॉज दिलाता है छुटकारा

महिला के जीवन में माहवारी और शारीरिक बदलाव होना बहुत महत्वपूर्ण है। महिला के लिए जितनी जरूरी माहवारी है, उसी तरह से उसके जीवन में मीनोपॉज भी अहम है।

 ब्लड प्रेशर चेक करना अब होगा चुटकियों का खेल, माइक्रोसॉफ्ट ला रहा डिवाइस 
सेहत

ब्लड प्रेशर चेक करना अब होगा चुटकियों का खेल, माइक्रोसॉफ्ट ला रहा डिवाइस 

माइक्रोसॉफ्ट अपने स्मार्ट ग्लासेज (चश्मा) की अगली पीढ़ी विकसित करने में जुटी है, जो ब्लडप्रेशर नापने के डिवाइस के रूप में काम करेगी। इसे ग्लाबेला नाम दिया गया है। इसे ब्लडप्रेशर को नापने वाले किसी अन्य डिवाइस की तुलना में पहनना और इस्तेमाल करना काफी आसान होगा।

 लंबी आयु चाहते हैं तो कम खाएं कार्बोहाइड्रेट  
सेहत

लंबी आयु चाहते हैं तो कम खाएं कार्बोहाइड्रेट  

अगर आप लंबी आयु चाहते हैं तो अपने आहार में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा सीमित कर दीजिए, क्योंकि भोजन में जरूरत से कम या ज्यादा कार्बोहाइड्रेट की मात्रा लेने वालों को मौत का खतरा बना रहता है। यह बात हालिया एक शोध में सामने आई है।

 गुर्दा रोग के उपचार में उचित आहार व हर्बल फार्मूले कारगर  
सेहत

गुर्दा रोग के उपचार में उचित आहार व हर्बल फार्मूले कारगर  

गुर्दे से जुड़ी बीमारियों में जहां संतुलित आहार जरूरी है, वहीं आयुर्वेद के कई फार्मूले भी कारगर पाए गए हैं। इसलिए ‘नेशनल किडनी फाउंडेशन एंड द एकेडमी ऑफ न्यूट्रीशियन डाइटिक्स’ ने गुर्दे के मरीजों के लिए ‘मेडिकल न्यूट्रीशियन थैरेपी’ की सिफारिश की है।

 गोभी, ब्रोकली से आंतों के कैंसर से होता है बचाव : अध्ययन  
सेहत

गोभी, ब्रोकली से आंतों के कैंसर से होता है बचाव : अध्ययन  

गोभी या ब्रोकली जैसी हरी पत्तेदार सब्जियां खाने से आंत स्वस्थ रहते हैं और आंतों के कैंसर से बचाव होता है। एक नए अध्ययन में यह जानकारी दी गई है।

खाए अब सुपर ‘पिल’, करिए Blood Pressure कंट्रोल
जीवन शैली

खाए अब सुपर ‘पिल’, करिए Blood Pressure कंट्रोल

ब्लड शुगर (BP) को सामान्य स्तर तक लाने वाले अद्भुत गोली (पिल) का वैज्ञानिकों ने पता लगा लिया है। वेज्ञानिकों की मानें तो ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने वाली तीन दवाइयों के कॉम्बीनेशन से बनी यह गोली रक्तचाप के रोगियों के लिए वरदान साबित होगा।

 आपका काम, ई-मेल स्वास्थ्य, संबंधों को कर सकता है प्रभावित  
सेहत

आपका काम, ई-मेल स्वास्थ्य, संबंधों को कर सकता है प्रभावित  

क्या आपके बॉस आपको हमेशा ई-मेल से जुड़े रहने और बिना सीमा के कार्य करने की हिदायत देते हैं? अगर हां, तो यह आपके स्वास्थ्य व सेहत को नुकसान पहुंचाने के साथ-साथ आपके परिवारिक रिश्तों में टकराव पैदा कर सकता है। एक नए अध्ययन में इस बात का खुलासा हुआ है।

 गर्मी में इसलिए ज्यादा पनपते हैं वायरस और बैक्टीरिया, काम की है जानकारी
सेहत

गर्मी में इसलिए ज्यादा पनपते हैं वायरस और बैक्टीरिया, काम की है जानकारी

गर्मी में पेट से जुड़ी कई परेशानियां सामने आती हैं। जैसे-जैसे मौसम गर्म होता है, हमारी लाइफस्टाइल और खानपान की आदतें बदलने लगती हैं। मौसम के बढ़े हुए तापमान से न केवल हमें पसीना ज्यादा होता है, बल्कि इससे हमारी प्रतिरक्षा शक्ति भी कमजोर होती है। ऐसे में दूसरे किसी मौसम की तुलना में हमारे शरीर पर बैक्टिरिया और वायरस का अधिक आक्रमण होता है।

 मलेरिया बुखार से बचाता है प्लेटलेट  
सेहत

मलेरिया बुखार से बचाता है प्लेटलेट  

रक्त में पाए जाने वाला प्लेटलेट मानव शरीर की प्रतिरोधी क्षमता बढ़ाने में सहायक होता है और मलेरिया बुखार से बचाता है। एक अध्ययन के अनुसार, प्लेटलेट से रक्त में संचरित 60 फीसदी मलेरिया परजीवी नष्ट हो जाते हैं।

आज से शुरू हो रहा है विश्व स्तनपान सप्ताह, मां-बच्चे व समाज को हैं इसके कई फायदे 
संपादक की पसंद

आज से शुरू हो रहा है विश्व स्तनपान सप्ताह, मां-बच्चे व समाज को हैं इसके कई फायदे 

‘विश्व स्तनपान सप्ताह’ हर साल अगस्त माह के पहले सप्ताह 1 अगस्त से 7 अगस्त तक मनाया जाता है। इसका उद्देश्य महिलाओं को स्तनपान एवं कार्य को दृढ़तापूर्वक एक साथ करने का समर्थन देना है।

बच्चे के लिए ही नहीं, मां के स्वास्थ्य के लिए जरूरी है स्तनपान.. जानें कैसे..! 
सेहत

बच्चे के लिए ही नहीं, मां के स्वास्थ्य के लिए जरूरी है स्तनपान.. जानें कैसे..! 

कहते हैं कि लोगों को स्तनपान को लेकर कई भ्रांतियां है और सही जानकारी न होने के कारण लोग इसके बारे में तरह तरह की बातें करते हैं। आइए जानते हैं क्यों जरूरी होता है स्तनपान...

सावन के महीने में इन चीजों का न करें सेवन, बिगड़ सकती है आपकी हालत
सेहत

सावन के महीने में इन चीजों का न करें सेवन, बिगड़ सकती है आपकी हालत

सावन के महीने में कुछ सब्जियों का सेवन वर्जित होता है। यह एक धार्मिक मान्यता है। इन मान्यताओं का उद्देश्य सेहत तंदुरस्त बनाए रखना होता है। सावन के महीने में हरी पत्तेदार सब्जियां नहीं खानी चाहिए। इस महीने में पत्तेदार सब्जियां शरीर में वात को बढ़ाती है। इसके अलावा मानसून के दिनों में जीवाणू और कीडों का संक्रमण अधिक होता है।

शारीरिक संबंध के बाद कुछ पुरुषों में होता है बुरा अहसास, ये हैं उसके कारण
सेहत

शारीरिक संबंध के बाद कुछ पुरुषों में होता है बुरा अहसास, ये हैं उसके कारण

धारणा है कि पुरुष चरम सुख का अहसास करने के लिए स्त्री के साथ सहवास करता है। लेकिन एक शोध में कहा गया है कि सेक्स करने के बाद कुछ पुरुषों को बुरा अहसास होता है।

मानसून में पैरों की यूं करें देखभाल, हर कोई कहेगा ‘वाह...’
सेहत

मानसून में पैरों की यूं करें देखभाल, हर कोई कहेगा ‘वाह...’

मानसून सीजन में कीचड़ से सने रास्तों, पानी से लबालब गलियों, आद्रता भरे ठंडे वातावरण तथा सीलन में पैरों को काफी झेलना पड़ता है। जूतों के चिपचिपे होने के कारण पैरों में दाद, खाज, खुजली तथा लाल चकत्ते पड़ जाते हैं।

 महिलाओं में गर्भधारण को प्रभावित करता है अधिक या कम वजन  
सेहत

महिलाओं में गर्भधारण को प्रभावित करता है अधिक या कम वजन  

महिलाओं के गर्भधारण को प्रभावित करने वाले कई कारणों में वजन भी एक महत्वपूर्ण कारण है। स्वास्थ्य, उम्र, बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) और वजन के सही तालमेल से ही गर्भधारण सफल होता है।