बच्चों सहित घर लौटने के लिए सैंकड़ों मील की सफर कर रहे दिहाड़ी मजदूर

कोरोना लॉकडाउन के बाद देश में परिवहन सेवाएं ठप है। इसको लेकर सबसे अधिक बेचैनी दिहाड़ी मजदूरी करने वाले प्रवासी मजदूरों में देखने को मिली। महानगरों में दो जून की रोटी कमाने वाले इन मजदूरों पर तो आफत ही आ गई है। कमाने के साधन बंद है। दुकानदारों ने राशन देना बंद कर दिया है। अब शहर भी अनजान लगने लगा है। देखिए पूरी कहानी...

अधिक वीडियो
Advertisement
Back to Top