राम मंदिर निर्माण का श्रेय किसी भी कीमत पर बीजेपी और नरेंद्र मोदी को तो नहीं दे सकते: स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती

पूरा देश इस समय श्रीरामजन्म भूमि पूजन को लेकर अयोध्या में हो रही तैयारियों पर नजर टिकाए हुए है। 5 अगस्त को भूमि पूजन की तारीख तय की गई है। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आमंत्रित किया गया है। भूमि पूजन की पहली ईंट नरेंद्र मोदी के हाथों ही रखी जाएगी, यह तय हो चुका है। हालांकि कुछ लोगों को इस निर्णय पर आपत्ति हो रही है।

भूमि पूजन कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पहुंचने और पहली ईंट रखने को लेकर AIMIM के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने पहले ही ऐतराज जता दिया है। इसके बाद अब शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती के शिष्य स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती ने भी नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम में मुख्य भूमिका निभाने पर सवाल खड़े किए हैं। यही नहीं, स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती जी महाराज ने तो श्रीराम मंदिर निर्माण का श्रेय भारतीय जनता पार्टी और विश्व हिंदू परिषद को देने पर भी ऐतराज जताया। उनके मुताबिक बीजेपी और वीएचपी को राम मंदिर निर्माण का श्रेय क्यों नहीं दिया जाना चाहिए, जानने के लिए यह इंटरव्यू पढें या फिर इस वीडियो के माध्यम से आप उनका पूरा इंटरव्यू सुन सकते हैं।

अधिक वीडियो
Advertisement
Back to Top