मंडियों में रहा ये आलम तो किचन में कोरोना का घुसना तय

ये दिल्ली के ओखला मंडी का वीडियो है। आपको लगेगा कि कोरोना की बंदी के पहले की ये तस्वीर है। लेकिन आप गलत हैँ। दरअसल बंदी के दौरान की ये बेफिक्री है। लोग मजे से बिना फिजिकल डिस्टेंसिग का पालन किए चले जा रहे हैं। मंडी में किसानों के साथ व्यापारियों और आम ग्राहकों की भीड इकट्ठी होती है। मतलब ये कि समाज का हर तबका मंडी जाता है। अब अगर ऐसे में यहां व्यापक तौर पर कोरोना वायरस का प्रसार हो जाय। तो सब्जियों के जरिए घर घर कोरोना वायरस की सप्लाय से इनकार नहीं किया जा सकता है। लंबे लॉकडाउन के बाद विभिन्न सरकारें सीमित तौर पर नियमों के साथ सब्जी मंडियों को खोल दिया है। सरकारी आदेश के मुताबिक सब्जी मंडी कमिटी को भी नियमों के पालन में अहम भागीदारी निभानी होगी। साथ ही लोगों और किसानों को समझाना होगा कि कोरोना के कहर के बीच किस तरह की सावधानियां बरतनी चाहिए। ताकि आम लोगों के घरों तक सब्जियों के जरिए वायरस न पहुंच जाय। विशेषज्ञों के मुताबिक आम लोग जब भी सब्जी घर लाएं उसे लाते ही हाथ न लगाएं, 12 से चौदह घंटे बाहर छोड दें। इसके बाद उसे फिटकरी पानी में साफ से धोयें। ध्यान रहे सब्जियों को तेज आंच पर अच्छी तरह पकाना न भूलें। साथ ही बच्चों को कच्ची सब्जियां मुंह लगाने से मना करें। 

अधिक वीडियो
Advertisement
Back to Top