अमृतसर: रावण वध के दौरान करीब साठ लोगों की ट्रेन से कटकर मौत हादसे के बाद आरोपी आयोजक का वीडियो सामने आया है। रावण दहन कार्यक्रम का आयोजक सौरभ मदान 'मिट्ठू' ने रोते हुए खुद को बेकुसूर बताया। साथ ही उसने दावा किया कि इस घटना में शरारती तत्वों का हाथ है। जिनकी मंशा उसे बदनाम करने की है।

बता दें 19 अक्टूबर की शाम अमृतसर के पास जौरा फाटक रेलवे ट्रैक पर खड़े होकर रावण दहन देख रहे करीब साठ लोगों की मौत हो गई। घटना के बाद से ही कार्यक्रम का आयोजक सौरभ मदान मिट्ठू फरार था।

यह भी पढ़ें:

अमृतसर हादसा: नवजोत कौर सिद्धू ने अनसुनी की घायलों की चीत्कार, घटना के तत्काल बाद हुईं रवाना

मिट्ठू ने दावा किया कि कार्यक्रम का मकसद सामाजिक तौर पर लोगों को एकजुट करना था। आयोजक मंडल की तरफ से कोई कमी नहीं की गई थी।