हैदराबाद: गोल्डन गर्ल पीवी सिंधु ने साक्षी समाचार से एक्सक्लूसिव बातचीत की। वर्ल्ड चैम्पियनशिप जीतने के बाद कुछ इस तरह रहा उनका हैदराबाद में पहला दिन। सुनिए पूरी बातचीत।

मंगलवार सुबह दिल्ली लैंड करती हैं। वहां प्रधानमंत्री से मुलाकात और तमाम बधाइयों के बाद हैदराबाद में लोग पलक पांवड़े बिछाए उनके स्वागत के लिए तैयार थे। बीती रात ही हैदराबाद पहुंचने के बाद सुबह सवेरे से ही पीवी सिंधु लोगों से मिलती रहीं। नेता, पत्रकार, बड़े बिजनेस मैन सब एक कतार में उन्हें बधाई देने के लिए उनके आवास पर पहुंचे हुए थे।

इस दौरान सिंधु और उनके पिता के चेहरे पर थकान साफ नजर आया। वहीं आंखों की चमक बता रही थी कि ये थकान उस जज्बे के सामने फीका है। जिसके दम पर पीवी सिंधु ने जग जीत लिया है।

साक्षी समाचार की तरफ से हम भी गोल्डन गर्ल से बात करने हैदराबाद स्थित उनके घर पहुंचे। मुस्कुराकर उन्होंने हमारा स्वागत किया साथ ही बेहद आत्मीयता से बधाई स्वीकार की।

सिंधु के पिता पीवी रमना भी बेटी की सफलता और उसके बाद जश्न में पूरी तरह शरीक नजर आए। हालचाल पूछने पर बस इतना कहा कि थोड़ा 'नेक पेन' है, लेकिन कोई बात नहीं। घर में पूरी तरह चहल पहल और पत्रकारों का जैसे रेला लगा था। पीवी सिंधु और घरवालों ने हर किसी का अपनेपन के साथ स्वागत किया और बातचीत की। पिता को लगता है कि उन्होंने सांचे की तरह अपनी बेटी को इस सफलता के लिए ढाला है। वे ये बताना नहीं भूलते हैं कि इसमें बेटी की लगन शामिल थी।

पीवी सिंधु भी ये बताने से नहीं चूंकी कि उनकी सफलता में उनके माता पिता की बराबर की भागीदारी और मेहनत शामिल है। हम से बात करने के बाद जल्दी ही सिंधु को तेलंगाना के गरवर्नर और मुख्यमंत्री से मुलाकात के लिए निकलना था। इसे स्पोर्ट्समैन का जज्बा ही कहें, जो उनींदी होने के बावजूद कहीं से भी उन्हें ढीला पड़ने नहीं दे रहा था।

World Badminton Championship में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रचने वाली भारतीय खिलाड़ी पीवी सिंधु (PV Sidhu) की सर्वोच्च प्राथमिकता अगले साल टोक्यो (Tokyo Olympic 2020) में होने वाले ओलिंपिक खेलों में स्वर्ण पदक जीतना है। साक्षी समाचार की तरफ से हम भी कामना करते हैं कि सिंधु इसी तरह देश का नाम रौशन करती रहें।