टीआरएस उम्मीदवार माधवरम कृष्णाराव ओल्ड बोवेनपल्ली में चुनाव प्रचार में जुटे थे। हैरानी ये कि पार्टी कार्यकर्ताओं की भीड़ में मासूम छोटे छोटे बच्चे भी शामिल दिखे। जिनके गले में टीआरएस का गुलाबी अंग-वस्त्र साफ देखा जा सकता है। बच्चे टीआरएस उम्मीदवार कृष्णाराव को वोट देने की अपील वाला पैम्फ्लेट बांट रहे हैं। साथ ही पार्टी का स्टिकर भी लगा रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक नेता इस तरह बच्चों का बखूबी शोषण करते हैं। अच्छा खाना और घूमाने फिराने का लालच देकर बच्चों को सियासी काम में बेशर्मी से इस्तेमाल किया जाता है। जो नेता अपने इलाके के बच्चों का भला नहीं कर सकता। उससे कैसे उम्मीद की जा सकती कि वो आम नागरिकों की सुध लेगा।