ढोंगी साधू ने लोगों के विश्वास को ठेस पहंचाई है। उसने लोगों के साथ विश्वासघात कर रुपये भी ऐंठे हैं। साधू ने लोगों को चिकनी-चुपडी बातें कर अपने चंगुल में फंसाया है। उसने कई लोगों का जीवन नरक बनाया तो कई लोगों को बेघर कर दिया।