चित्तूर: कानून को अपना रिश्तेदार मानने वाले तेदेपा कार्यकर्ताओं के लिए अधिकारियो के साथ गाली गलौज तो आम बात थी। हालत ये हो गई है कि टीडीपी कार्यकर्ता अब वर्दीधारी पुलिस वालों पर हमला करने से भी गुरेज नहीं करते हैं। आप देख सकते हैं चंद्रबाबू के गृहजिले चित्तूर में तेदेपा ऑफिस में ऑपरेटर का काम करने वाले शख्स के पिता चंद्रशेखर नायडू ने घटना को अंजाम दिया। चंद्रशेखर को लगता है कि बेटे के राजनीतिक ताल्लुकात की वजह से वो कुछ भी कर सकता है। पेनुमुरु में इस घटना को बेहद खेदजनक माना जा रहा है। आप समझ सकते हैं कि तेदेपा के राज में किस कदर कानून व्यवस्था की धज्जियां उड़ाई जाती है।