नई दिल्ली: 'मन भरिया' और 'मस्तानी' जैसे हिट गाने गा चुके प्रसिद्ध संगीतकार बी प्राक ने दावा किया है कि उन्होंने पंजाबी संगीत में एक बदलाव की मेलोडी (मीठी धुन) वाली नई लहर पैदा की है।

बी प्राक ने कहा, "कुछ समय से पंजाबी संगीत इंडस्ट्री में एक ही प्रकार के गाने बन रहे थे। एक समय था जब मेलोडी गानों का स्थान रैप और बीट गानों ने ले लिया था। मुझे लगता है मैंने अपनी रचनाओं के जरिए चेनब्रेक की है।"

उन्होंने आगे कहा, "मेलोडी हमेशा से मेरी प्राथमिकता रहेगी। यहां तक की बीट गानों में भी में मेलोडी डालने की कोशिश करता हूं। मेलोडी के बिना में अपने गानों को पूर्ण महसूस नहीं कर पाता हूं।"

उन्होंने कहा, "सार्थक और प्रभावशाली धुन बनाने के लिए, मजबूत और भावनात्मक गीत महत्वपूर्ण हैं।" हालांकि, अपने ट्रेडमार्क मधुर गीतों से विदा लेते हुए कलाकार ने हाल ही में पेप्पी ट्रैक, 'नैन तेरे' के साथ प्रशंसकों को आश्चर्यचकित किया। उनके अनुसार, एक कलाकार के विकास में प्रयोग एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

उन्होंने कहा, "मैं सच में अपने कंफर्ट जोन से बाहर आना चाहता हूं। काफी लंबे समय से में सोच रहा था कि गम भरे गानों से बाहर निकलकर कुछ नया करूं।"

प्राक ने कहा, "मैंने सोचा यह एक बेहतरीन मौका है कि 'नैन तेरे' गाने का हिस्सा बनूं।" बी प्राक का मूल नाम प्रतीक बच्चन है। उन्होंने अपने पंजाबी हिट्स के अलावा इस साल की शुरुआत में फिल्म 'केसरी' के साथ बॉलीवुड प्लेबैक में करियर शुरुआत की है। वह अक्षय कुमार की फिल्म में 'तेरी मिट्टी' वाले गाने में अपनी आवाज दे चुके हैं।