आपको बता दें कि 'धर्म वीर', 'गंगा जमुना सरस्वती, 'कुली' 'देश प्रेमी', 'सुहाग' 'अमर अकबर एंथनी' और मेहरा के साथ 'ज्वालामुखी', 'शराबी', 'लावारिस' और 'मुकद्दर का सिकंदर' जैसी फिल्में लिखी। खान ने 'कुली नंबर 1, 'मैं खिलाड़ी तू अनाड़ी', 'कर्मा', 'सल्तनत' जैसी फिल्मों के संवाद लिखे। उन्होंने करीब 300 फिल्मों में काम किया और 250 से ज्यादा फिल्मों के संवाद लिखे थे।

‘फिल्म कानून अपना अपना’ में कादर खान ने गंभीर किरदार निभाया था। कादर खान जैसे बिरले ही कलाकार होते हैं जिन्हें हर रूप में दर्शक पसंद करते हैं।

फिल्म मुकद्दर का सिकंदर में कादर खान का रोल छोटा लेकिन बेहद असरदार था। हर तरह के किरदार में ढलने वाले कादर की प्रतिभा के सब कायल रहे।

कॉमेडी में जान डालने वाले असरानी के साथ भी कादर खान की जुगलबंदी की लोगों ने खूब सराहना की। दोनों दिग्गज अभिनेताओं की खूब ट्यूनिंग जमती थी।