पीएम मोदी ने की ऑयल कंपनी के CEOs से मुलाकात, 50 लाख टन गैस सप्लाई पर समझौता

भारत अमेरिका के बीच हुआ समझौता - Sakshi Samachar

ह्यूस्टन : भारत की पेट्रोनेट एलएनजी ने अमेरिका की तरलीकृत प्राकृतिक गैस (एलएनजी) डेवलपर टेल्यूरियन इंक से 50 लाख टन एलएनजी के लिए लूसियाना स्थित एक सहायक कंपनी ड्रिफ्टवुड होल्डिंस में इक्विटी इनवेस्टमेंट के माध्यम से एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए।

यह समझौता शनिवार को ह्यूस्टन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और तेल सेक्टर के सीईओज से मुलाकात से इतर हुआ। साल 2016 में लॉन्च एलएनजी उद्योग की प्रमुख कंपनी शेरिफ सौकी, टेल्यूरियन एलएनजी ने अप्रैल में कंपनी के प्रस्तावित ड्रिफ्टवुड एलएनजी निर्यात टर्मिनल को बनाने का परमिट प्राप्त किया था।

ऑयल सेक्टर के सीईओज के साथ पीएम मोदी

प्रतिवर्ष 2.76 करोड़ मीट्रिक टन एलएनजी तक का उत्पादन करने के लिए ड्रिफ्टवुड एलएनजी का डिजायन बनाया गया है और इसका परमिट लिया गया है।

यह भी पढ़ें :

दोस्त ट्रंप से इस तरह मिले मोदी, सोशल मीडिया पर छाई यह दोस्ती, देखें VIDEO

अमेरिका में आज रचेगा इतिहास, Howdy Modi इवेंट में शामिल होने के लिए ह्यूस्टन पहुंचे मोदी

एमओयू के अनुसार, पेट्रोनेट ड्रिफ्टवुड होल्डिंग में निवेश करेगा जिससे पेट्रोनेट को प्रोजेक्ट के पहले चरण या दूसरे चरण से प्रतिवर्ष 50 लाख टन एलएनजी खरीदने का अधिकार मिल जाएगा। टेल्यूरियम और पेट्रोनेट का लक्ष्य समझौतों का लेनदेन 31 मार्च 2020 तक पूरा करने का होगा।

Advertisement
Back to Top