Fri Nov 22, 2019 Telugu English E-Paper Education
ब्रेकिंग न्यूज़
महाराष्ट्र पर शत्रुघ्न सिन्हा का ट्वीट- उम्मीद है 5 साल चलेगी सरकार
पिंक बॉल टेस्ट: पहले दिन भारत का स्कोर 174/3, 68 रनों की बढ़त
मता बनर्जी के साथ बैठक में बांग्लादेश ने उठाया तीस्ता जल समझौते का मुद्दा  
  डोनाल्ड ट्रंप ने कहा- 14 मिनट में खत्म हो जाता हांगकांग का नामोनिशान  
पश्चिम बंगाल के कूचबिहार में लिंचिंग में संलिप्त 11 लोग गिरफ्तार

यात्रा

ऐतिहासिक और सांस्कृतिक धरोहरों का खजाना है वरंगल 
यात्रा

ऐतिहासिक और सांस्कृतिक धरोहरों का खजाना है वरंगल 

तेलंगाना के प्रमुख शहरों में से एक है वरंगल जो अपनी पुरातन और सांस्कृतिक विरासत के लिए जाना जाता है। यहां एक तरफ तो कई मंदिर है, किले हैं तो यहां तालाब और झरने भी है जहां आप सुकून भरे पल बिता सकते हैं।

ठंड के सुहाने मौसम में नए जोड़ों के लिए परफेक्ट है ये रोमांटिक हनीमून डेस्टीनेशन 
यात्रा

ठंड के सुहाने मौसम में नए जोड़ों के लिए परफेक्ट है ये रोमांटिक हनीमून डेस्टीनेशन 

अकसर भीड़-भाड़ से भरे रहने वाले हैदराबाद के करीब नया जोश और ताजगी भरने वाले टूरिस्ट डेस्टीनेशन्स काफी हैं। खास तौर से जाड़े के मौसम में हैदराबाद से इन टूरिस्ट डेस्टीनेशन्स पर पहुंचने वाले पर्यटकों की संख्या में काफी इजाफा देखने को मिल रहा है।

Kullu  और Kashmir घूमने का सही मौसम आ गया, देखिए VIDEO
समाचार

Kullu और Kashmir घूमने का सही मौसम आ गया, देखिए VIDEO

हिमाचल प्रदेश और जम्मू कश्मीर में बर्फबारी के साथ ही सर्दियों का आगाज शुरू हो गया है। पर्यटन के लिहाज से ये सबसे मुफीद मौसम माना जाता है। 

बिहार के इस सूर्य मंदिर में लगता है छठ पर्व का मेला, भक्तों की मन्नतें होती है पूरी  
यात्रा

बिहार के इस सूर्य मंदिर में लगता है छठ पर्व का मेला, भक्तों की मन्नतें होती है पूरी  

छठ महापर्व चार दिनों का त्योहार होता है जिसकी शुरुआत आज नहाय-खाय से हो चुकी है। हम सब जानते ही हैं कि छठ पर्व पर विशेष रूप से भगवान सूर्य की पूजा की जाती है।आइये छठ महापर्व के अवसर पर बिहार के औरंगाबाद जिले के देव सूर्य मंदिर के बारे में जानते हैं, जिसके चमत्कार को जानकर आप आश्चर्य में पड़ जाएंगे।इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि रातों रात इस मंदिर का मुख्य द्वार पश्चिम दिशा में हो गया था। छठ महापर्व पर देव सूर्य मंदिर के पास मेला लगता है, जिसमें लाखों की संख्या में लोग बिहार और झारखंड से आते हैं।

Dhanteras 2019: यहां है धन्वन्तरि का मंदिर, धनतेरस पर रोगों से मुक्ति के लिए होती है विशेष पूजा  
यात्रा

Dhanteras 2019: यहां है धन्वन्तरि का मंदिर, धनतेरस पर रोगों से मुक्ति के लिए होती है विशेष पूजा  

धनतेरस से शुरू होता है पंच दिवसीय दिवाली महापर्व। इस बार धनतेरस 25 अक्टूबर शुक्रवार को है। धनतेरस आयुर्वेद के जनक धन्वन्तरि का अवतरण दिवस है।समुद्र मंथन से कार्तिक माह की त्रयोदशी को ही आयुर्वेद के जनक धन्वन्तरि प्रकट हुए थे और इसीलिए धनतेरस मनाई जाती है। इस दिन विशेष रूप से धन्वन्तरि की पूजा भी होती है। भक्तजन पूजा करके उनसे सेहत का वरदान मांगते हैं।

यहां स्थित है पुष्य नक्षत्र का अद्भुत मंदिर, होती है शनिदेव व शिवजी की पूजा
यात्रा

यहां स्थित है पुष्य नक्षत्र का अद्भुत मंदिर, होती है शनिदेव व शिवजी की पूजा

पुष्य नक्षत्र के स्वामी शनि देव हैं। इसलिए ये मंदिर भगवान शनि के पैर टूटने की घटना से जुड़ा हुआ है। पुष्य नक्षत्र के संयोग पर ही यहां भगवान शिव ने शनिदेव को दर्शन दिए थे। इसलिए पुष्य नक्षत्र में पैदा हुए लोग इस मंदिर में दर्शन और नक्षत्र शांति के लिए आते हैं।शनि की साढ़ेसाती में पैदा हुए लोग भी पुष्य नक्षत्र के संयोग में यहां पूजा और विशेष अनुष्ठान करवाते हैं।

खास होती है चारमीनार स्थित भाग्यलक्ष्मी मंदिर की दिवाली, भक्तों में बंटता है मां का खजाना   
यात्रा

खास होती है चारमीनार स्थित भाग्यलक्ष्मी मंदिर की दिवाली, भक्तों में बंटता है मां का खजाना   

भाग्यलक्ष्मी मंदिर ऐतिहासिक स्मारक चारमीनार से बिलकुल सटा हुआ है और जो पर्यटक चारमीनार देखने आते हैं वे तो मां लक्ष्मी के दर्शन करते ही हैं साथ ही अन्य भक्तों का तांता भी लगा रहता है।भाग्यलक्ष्मी मंदिर में नवरात्रि की धूम तो रहती ही है साथ ही हर शुक्रवार को भी मां लक्ष्मी की विशेष पूजा-महाआरती भी होती है। ऐसे भक्त भी है जो हर शुक्रवार को मां के दर्शन के लिए आते हैं।दिवाली तो त्योहार ही मां लक्ष्मी का है तो इसके लिए तो भाग्यलक्ष्मी मंदिर को विशेष रूप से सजाया जाता है। दिवाली महा-महोत्सव यहां बड़े जोर-शोर से मनाया जाता है।

करवा चौथ पर किये जाते हैं चौथ माता के दर्शन, इस मंदिर में लगता है सुहागिनों का मेला  
यात्रा

करवा चौथ पर किये जाते हैं चौथ माता के दर्शन, इस मंदिर में लगता है सुहागिनों का मेला  

करवा चौथ का पर्व आ गया है जिसका इंतजार सुहागिन महिलाएं बेसब्री से करती है। इस दिन सुहागिन महिलाएं अपने पति की लंबी आयु के लिए दिन भर निर्जला व्रत रखती हैं। करवा चौथ की शाम में चौथ माता और गणेशजी की पूजा करती हैं और फिर रात में चंद्रमा के दर्शन करके, अर्घ्य देकर पति के हाथों पानी पीकर व्रत तोड़ा जाता है।करवा चौथ के व्रत में चौथ माता की पूजा का विशेष महत्व है। चौथ माता भगवान शिव की पत्नी पार्वती का ही रूप है जिसकी इस दिन पूजा की जाती है।जब बात चौथ माता की पूजा का आता है तो जाहिर है कि इस दिन चौथ माता के मंदिर में दर्शन करने का भी विशेष महत्व होता है। यही वह दिन होता है जब चौथ माता के मंदिर में सुहागिनों का मेला सा लग जाता है और हर महिला चाहती है कि वह चौथ माता के दर्शन करके धन्य हो जाए।

महाबलीपुरम में ही क्यों हुई मोदी-जिनपिंग की मुलाकात, जानिये इसका इतिहास  
यात्रा

महाबलीपुरम में ही क्यों हुई मोदी-जिनपिंग की मुलाकात, जानिये इसका इतिहास  

तमिलनाडु का महाबलीपुरम भी अपने प्राचीन इतिहास व भव्य मंदिरों के लिए जाना जाता है। तमिलनाडु का यह शहर (महाबलीपुरम) समुद्र किनारे बसा है और इसकी सांस्कृतिक विरासत हर किसी को अपनी ओर आकर्षित करती है।महाबलीपुरम के इन मंदिरों पर उकेरी गई मूर्तियां जैसे खुद अपनी शानदार विरासत को बयां करती है तभी तो जो कोई इन्हें देखता है, बस देखता रह जाता है। भारत के इतिहास के साक्षी रहे महाबलीपुरम के ये मंदिर जहां एकतरफ शानदार स्थापत्य कला के नमूने हैं तो दूसरी ओर यहां का प्राकृतिक सौंदर्य भी हर आने वाले को लुभाता है।

नवरात्रि 2019 : बलूचिस्तान में स्थित है मां का यह शक्तिपीठ, यहां गिरा था सती का सिर  
यात्रा

नवरात्रि 2019 : बलूचिस्तान में स्थित है मां का यह शक्तिपीठ, यहां गिरा था सती का सिर  

शारदीय नवरात्रि चल रही है और हम जानते ही हैं कि नवरात्रि में भक्तजन जहां अपने घर में मां को स्थापित कर पूजा करते हैं वहीं मां के चमत्कारी मंदिरों व शक्तिपीठों के दर्शन भी करते हैं।माना जाता है कि माता सती के 51 शक्तिपीठ है और इन्हीं में से एक पाकिस्तान के बलूचिस्तान में स्थित है।इस शक्तिपीठ की देख-रेख मुस्लिम करते हैं और वे इसे चमत्कारिक स्थान मानते हैं। इस मंदिर का नाम है माता हिंगलाज का मंदिर।

बालाजी के साथ करिए श्रीकालहस्ती सहित इन मंदिरों के दर्शन, यहां है अनोखा शिवलिंग
यात्रा

बालाजी के साथ करिए श्रीकालहस्ती सहित इन मंदिरों के दर्शन, यहां है अनोखा शिवलिंग

श्रीकालहस्ती स्वर्णमुखी नदी के तट पर बना है। अत्यंत प्राचीन पंचलिंगभूतलिंगों में चौथा वायु लिंग वाले इस शैवक्षेत्र में बने तीन शिखर भारतीय वास्तु और शिल्पकला के प्रतीक हैं।

नवरात्रि 2019 : माता का ऐसा शक्तिपीठ जहां चावल से होती है विशेष पूजा, नृत्य से प्रसन्न होती हैं मां
यात्रा

नवरात्रि 2019 : माता का ऐसा शक्तिपीठ जहां चावल से होती है विशेष पूजा, नृत्य से प्रसन्न होती हैं मां

शारदीय नवरात्रि चल रही है और इस समय जहां भक्तजन अपने घरों में माता को स्थापित कर पूजा कर रहे हैं वहीं मां के प्रमुख मंदिरों व शक्तिपीठों की यात्रा भी करते हैं ताकि मां का आशीर्वाद प्राप्त कर सकें।यही वजह है कि नवरात्रि के अवसर पर मां के हर मंदिर में भक्तों का तांता लगा रहता है और हर भक्त की यही कामना रहती है कि बस नजर भर कर मां के दर्शनों का सौभाग्य प्राप्त कर ले। तो चलिये नवरात्रि के अवसर पर मां के विशेष शक्तिपीठ के बारे में जानते हैं जहां मां पाटेश्वरी के नाम से जानी जाती है।

नवरात्रि 2019 : माता का ऐसा मंदिर जहां बलि देने के बाद भी रक्त नहीं बहता, जानें इससे जुड़ा रहस्य  
यात्रा

नवरात्रि 2019 : माता का ऐसा मंदिर जहां बलि देने के बाद भी रक्त नहीं बहता, जानें इससे जुड़ा रहस्य  

बिहार के कैमूर जिले में स्थित मंदिर मां मुंडेश्वरी का है और यहां बड़े ही सात्विक तरीके से बलि दी जाती है। जी हां, आपको यह जानकर हैरानी होगी कि बलि देने के बाद भी बकरा जीवित रहता है और उसका रक्त बिलकुल नहीं बहता।मुंडेश्वरी माता का यह मंदिर मोहनियां (भभुआ रोड़) रेलवे स्टेशन के पास है। इस मंदिर का इतिहास काफी पुराना है।

 विशाखापटनम का प्रतीक है कैलशगिरी, जानिए आंध्र के Best Tourist Destination के बारे में
यात्रा

विशाखापटनम का प्रतीक है कैलशगिरी, जानिए आंध्र के Best Tourist Destination के बारे में

विशाखापटनम का नाम सुनने पर सबसे पहले वहां के बीचों की याद आती है जो पर्यटकों को विशेष रूप से आकर्षित कर रहे हैं। इसके अलावा विशाखापटनम में एक प्रमुख तीर्थस्थल जिसका नाम कैलाशगिरी है।

 विश्व पर्यटन दिवस : भारतीय पर्यटकों को घर जैसा माहौल व सुविधा देता ‘होमस्टे’
यात्रा

विश्व पर्यटन दिवस : भारतीय पर्यटकों को घर जैसा माहौल व सुविधा देता ‘होमस्टे’

प्रवास के बहुत फायदे हैं जैसे कि आपको स्थानीय खान-पान का अवसर मिलता है, वहां की लोक कहानियों, लोक संस्कृति से आपका परिचय होता है और उन खूबसूरत जगहों पर जाने का मौका मिलता है। 

करपका विनायक मंदिर : इस मंदिर में गणेशजी की हैं सिर्फ दो भुजाएं, ऐसी है गजानन की मूर्ति    
संपादक की पसंद

करपका विनायक मंदिर : इस मंदिर में गणेशजी की हैं सिर्फ दो भुजाएं, ऐसी है गजानन की मूर्ति   

करपका विनायक मंदिर को पिल्लरेपट्टी पिलर मंदिर के रूप में भी जाना जाता है। इस मंदिर में एक गुफा है जिसे एक ही पत्‍थर को काटकर बनाया गया है।इस मंदिर के साथ-साथ ये गुफा भी भगवान गणेश को समर्पित है। यह मंदिर तमिलनाडु के शिवगंगा जिले में तिरुप्पथूर नामक जगह पर स्थित है।

 इस पंचमुखी गणेश मंदिर में शेर के साथ होती है गजानन की पूजा, चूहे के साथ नहीं 
संपादक की पसंद

इस पंचमुखी गणेश मंदिर में शेर के साथ होती है गजानन की पूजा, चूहे के साथ नहीं 

कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में भगवान गणेशजी का एक खूबसूरत मंदिर है जिसके बारे में कई प्रकार की मान्यताएं हैं। इस मंदिर को पंचमुखी गणेश मंदिर कहते हैं। बेंगलुरु के हनुमंतनगर में कुमारा स्वामी देवस्थान के पास यह पंचमुखी गणेश मंदिर स्थित है।

नरसिम्हा भगवान ने यहीं किया था हिरण्यकश्यप का वध, जानें इस मंदिर की खास बातें 
यात्रा

नरसिम्हा भगवान ने यहीं किया था हिरण्यकश्यप का वध, जानें इस मंदिर की खास बातें 

पुराणों के मुताबिक अहोबिलम वही स्थान है जहां भगवान नरसिम्हा ने हिरण्यकश्प का वध कर प्रह्लाद को बचाया था। हालांकि 8वीं शताब्दी में शुरूआती मंदिरों का निर्माण चालुक्याओं ने किया था और मौजूदा अधिकांश मंदिरों का पुननिर्माण 15वी शताब्दी में विजयनगर साम्राज्य के राजाओं ने करवाया था।

 ‘Talakona Water Falls’ जाने का है यह रास्ता, बिता सकते हैं सुकून के कुछ पल
यात्रा

‘Talakona Water Falls’ जाने का है यह रास्ता, बिता सकते हैं सुकून के कुछ पल

आंध्र प्रदेश के पर्याटन स्थलों में ‘तलकोना वाटर फाल्स’ का नाम सबसे पहले आता है जो खूबसूरत प्राकृतिक झरना चित्तूर जिले के येर्रावारी मंडल के नेरबयलू गांव के करीब स्थित श्री वेंकटेश्वरा नेशनल पार्क में है। 

सावन में करिए दक्षिण की काशी का दर्शन, ये है इस मंदिर की महत्ता
यात्रा

सावन में करिए दक्षिण की काशी का दर्शन, ये है इस मंदिर की महत्ता

सावन के महीने में देशभर के शिवमंदिरों में शिवभक्तों की भारी भीड़ होती है। बारह ज्योतिर्लिंगों के अलावा प्रमुख शैव मंदिरों में सावन का उत्सव देखने को मिलता है। तेलंगाना राज्य के करीमनगर जिले में स्थित वेमुलवाड़ा स्थित राज राजेश्वरी मंदिर दक्षिण भारत के काशी के नाम से प्रसिद्ध है।

Friendship Day 2019 : दोस्तों के साथ इन खास जगहों पर जरूर जाएं, दोबारा नहीं मिलेगा मौका
यात्रा

Friendship Day 2019 : दोस्तों के साथ इन खास जगहों पर जरूर जाएं, दोबारा नहीं मिलेगा मौका

दोस्ती अद्वितीय रिश्ता है, लेकिन इस रिश्ते और उसके आयामों को परिभाषित करना बहुत मुश्किल है। दोस्त एक ऐसा इंसान है जिसे हम खुद चुनते हैं और वो हमेशा हमारे साथ होते हैं।

इस खूबसूरत आइलैंड पर मर्दों का जाना है मना, सिर्फ महिलाएं यहां रहकर करेंगी एन्जॉय 
संपादक की पसंद

इस खूबसूरत आइलैंड पर मर्दों का जाना है मना, सिर्फ महिलाएं यहां रहकर करेंगी एन्जॉय 

क्या आपने कभी किसी ऐसी जगह के बारे में सुना है, जहां सिर्फ और सिर्फ महिलाएं ही जा सकती हैं। जी, हां यहां पुरुषों का जाना पूरी तरह से मना है। यही नहीं यहां महिलाओं का ही राज चलता है। इस जगह का नाम सुपरशी आइलैंड है।

योग के लिए खास हैं ये पांच स्थान, मौका मिले तो यहां पर करें योगासन 
संपादक की पसंद

योग के लिए खास हैं ये पांच स्थान, मौका मिले तो यहां पर करें योगासन 

योग का हमारे जीवन में क्या महत्व है ये हम सब जानते हैं। योग की वजह से कई तरह की बीमारियों से बचा जा सकता है साथ ही शरीर को स्वस्थ बनाया जा सकता है।

भारत की मशहूर धरोहरों की हिंदी में जानकारी देगा नासा
यात्रा

भारत की मशहूर धरोहरों की हिंदी में जानकारी देगा नासा

अमेरिका में नासा के वित्त पोषण वाले एक कार्यक्रम में भारत में स्थित मशहूर पुरातात्विक स्थलों और संस्थानों का वीडियो बनाया गया है और साथ ही उनकी वैज्ञानिक तथा तकनीक संबंधी जानकारी हिंदी में दी गई है। 

GOLDEN TRIANGLE TOUR: भारतीय रेलवे के साथ अनूठा सफर
यात्रा

GOLDEN TRIANGLE TOUR: भारतीय रेलवे के साथ अनूठा सफर

गोल्डन ट्रैंगल टूर का अहसास आपको रोमांचित  करता है। खासकर विदेशी मेहमानों के लिए दिल्ली, जयपुर और  आगरा की सुखद यात्रा का भारतीय रेल इंतजाम करता है।

अगर आप भी बारिश में घूमने का शौक रखते हैं तो यहां जाना ना भूलें
यात्रा

अगर आप भी बारिश में घूमने का शौक रखते हैं तो यहां जाना ना भूलें

अगर आपको भी इस बार मॉनसून का असली मजा लेना है, तो तैयार हो जाइए क्योंकि हम आपको कुछ ऐसी शानदार जगह के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां बारिश में आपका मजा दोगुना हो जाएगा।

भद्राचलम मंदिर में राम-सीता की है अनोखी मूर्ति, इसलिए खास माना जाता है यहां का दर्शन
यात्रा

भद्राचलम मंदिर में राम-सीता की है अनोखी मूर्ति, इसलिए खास माना जाता है यहां का दर्शन

तेलंगाना और आंध्र प्रदेश राज्यों की सीमा पर स्थित भद्राचलम में भगवान श्रीराम और देवी सीता का विश्वप्रसिद्ध मंदिर है। रामायण ग्रंथ से भद्राचलम और विजयनगरम के करीबी संबंध होने के संकेत मिलते हैं। भद्राचलम से 35 किलोमीटर की दूरी पर स्थित पर्णशाला में भगवान श्रीराम, सीता और लक्ष्मण के कुछ समय बिताने के भी यहां संकेत मिलते है।

 ‘दि रॉयल ओरियंट एक्सप्रेस’ की सवारी दिलाता है अद्भुत अहसास 
यात्रा

‘दि रॉयल ओरियंट एक्सप्रेस’ की सवारी दिलाता है अद्भुत अहसास 

दि रॉयल ओरियंट भारतीय रेल की भव्य पर्यटन व्यवस्था का हिस्सा है, ये ट्रेन पश्चिमी प्रदेश गुजरात से होते हुए राजस्थान की रेतीली धरा का सफर तय करती है।

पर्यटन विशेष : आंध्र प्रदेश व तेलंगाना में इन स्थलों पर खूब घूमने आते हैं लोग
यात्रा

पर्यटन विशेष : आंध्र प्रदेश व तेलंगाना में इन स्थलों पर खूब घूमने आते हैं लोग

आंध्र प्रदेश व तेलंगाना में इन स्थलों पर पर्यटक बड़े पैमाने पर आते हैं। तेलंगाना के हैदराबाद, यादगिरीगुट्टा, कुंटाला जलप्रपात व बासर पर्यटन स्थलों पर पर्यटक खूब आते हैं। आंध्र प्रदेश में तिरुपति, विशाखापटनम और प्रकाशम बांध प्रमुख पर्यटन स्थल हैं। यहां पर पर्यटकों का तांता लगा रहता है। इन स्थलों पर सैरसपाटे के लिए बड़े पैमाने पर पर्यटक आते हैं।

गर्मियों में घूमने का है प्लान, तो यह है बेहतर डेस्टीनेशन 
यात्रा

गर्मियों में घूमने का है प्लान, तो यह है बेहतर डेस्टीनेशन 

गर्मी की छुट्टियों में लोग अकसर ठंड और सुहाने मौसम वाली जगहों पर जाना पसंद करते हैं। अगर आप गर्भी से छुटकारा के साथ सैर और मन की शांति चाहते हैं तो स्पिति इसके लिए बेहतर और बिल्कुल सही डेस्टीनेशन है।

इंडिगो का महासेल, 999 रुपये से शुरू 10 लाख सीटों के लिए बम्पर ऑफर
राष्ट्रीय

इंडिगो का महासेल, 999 रुपये से शुरू 10 लाख सीटों के लिए बम्पर ऑफर

देश की सबसे बड़ी विमान सेवा कंपनी इंडिगो ने तीन दिन की ग्रीष्मकालीन सेल की घोषणा की है जिसमें चुनिंदा मार्गों पर किराया 899 रुपये रखा गया है।

 फैमिली के साथ घूमने जा रहे हैं तो जरूर फॉलो करें  लारा दत्ता व महेश भूपति के टिप्स
बॉलीवुड

फैमिली के साथ घूमने जा रहे हैं तो जरूर फॉलो करें लारा दत्ता व महेश भूपति के टिप्स

अभिनेत्री लारा दत्ता और उनके पति व मशहूर भारतीय टेनिस खिलाड़ी महेश भूपति को अपनी बेटी सायरा के साथ घूमना अच्छा लगता है। दोनों का ऐसा मानना है कि परिवार के साथ मिलकर क्वालिटी टाइम बिताना जरूरी है।

कैसिनो बढ़ाते हैं गोवा का रोमांच, संजय दत्ता ने शेयर की पुरानी यादें
राष्ट्रीय

कैसिनो बढ़ाते हैं गोवा का रोमांच, संजय दत्ता ने शेयर की पुरानी यादें

शनिवार को हरियाणा के नेता गोपाल कांडा के कैसिनो ‘बिग डैडी’ के लॉन्चिंग के दौरान संजय दत्त ने कहा, “मेरे ख्याल से यह काफी महत्वपूर्ण है। यह (कैसिनो) पर्यटन के क्षेत्र में बड़ी भूमिका निभाता है। लोग इसके लिए मकाउ, वेगास जाते हैं, लेकिन भारत में ही ऐसा कुछ देखना काफी खूबसूरत है।”

‘नीलिगिरि माउंटेन रेलवे’ में सफर का अद्भुत रोमांच 
यात्रा

‘नीलिगिरि माउंटेन रेलवे’ में सफर का अद्भुत रोमांच 

नीलगिरि माउंटेन रेलवे के जरिए मेट्टुपालयम से ऊटी तक की साढ़े तीन घंटे की यात्रा के दौरान आप सुखद और रोमांचक यात्रा का आनंद ले सकते हैं।

श्रद्धालु एक बार फिर कर सकेंगे सदियों पुराने पारंपरिक मार्ग से चारधाम यात्रा 
यात्रा

श्रद्धालु एक बार फिर कर सकेंगे सदियों पुराने पारंपरिक मार्ग से चारधाम यात्रा 

सातवीं-आठवीं सदी में उत्तराखंड के गढ़वाल हिमालय के पहाड़ों पर घनघोर जंगलों के बीच पैदल रास्ता तय करते हुए आदि गुरू शंकराचार्य ने बदरीनाथ में बद्रिकाश्रम ज्योर्तिपीठ और केदारनाथ में ज्योतिर्लिंग की स्थापना की थी। सदियों से श्रद्धालु भी इन्हीं पैदल पथों का अनुसरण करते हुए इन पवित्र धामों के दर्शन करने और पुण्यलाभ लेने आते रहे।

आखिरी सांसे गिन रहा मेहमान पक्षियों का चारागाह ‘कावर झील पक्षी विहार’  
यात्रा

आखिरी सांसे गिन रहा मेहमान पक्षियों का चारागाह ‘कावर झील पक्षी विहार’  

एशिया में ताजे पानी की सबसे बड़ी गोखुर झील ‘कावर झील पक्षी विहार’ अपनी आखिरी सांसें गिन रहा है। छह हजार हेक्टेयर वाले इस परिक्षेत्र में अभी बमुश्किल करीब एक हजार एकड़ में जल है।

हैदराबाद में एक ऐसा पुल, जो शहर की नींव से भी पुराना है
संपादक की पसंद

हैदराबाद में एक ऐसा पुल, जो शहर की नींव से भी पुराना है

हैदराबाद से भी पुराने यहां के ‘पुराना पुल’ का दिलचस्प इतिहास है। इस पुल का मूल नाम ‘पुल-ए-नर्वा’ है। जो आज बदहाली का शिकार है।

यात्रा उद्योग का खर्च सालाना 13% बढ़कर 2021 तक 136 अरब डॉलर पर पहुंच जाएगा
यात्रा

यात्रा उद्योग का खर्च सालाना 13% बढ़कर 2021 तक 136 अरब डॉलर पर पहुंच जाएगा

घरेलू यात्रा उद्योग का खर्च सालाना 13 प्रतिशत की दर से आगे बढ़कर 2021 तक 136 अरब डॉलर पर पहुंच जाएगा। एक रिपोर्ट में यह बात कही गई है। बेन एंड कंपनी और गूगल इंडिया द्वारा तैयार रिपोर्ट के मुताबिक , साल 2018 के दौरान घरेलू यात्रा उद्योग 94 अरब डॉलर पर था।

महाराजा एक्स्प्रेस - ‘साउदर्न जुवेल्स’ में सफर का अहसास ही निराला है
यात्रा

महाराजा एक्स्प्रेस - ‘साउदर्न जुवेल्स’ में सफर का अहसास ही निराला है

महाराजा एक्सप्रेस में सफर करना अपने आप में अद्भुत अहसास है। इसके साउदर्न जुवेल्स में आप सवार होकर दक्षिण भारत की सैर कर सकते हैं। 

जानिए..कहां- कहां स्थित हैं प्रमुख 12 ज्योतिर्लिंग, क्या है इनके दर्शन का महत्व..!
यात्रा

जानिए..कहां- कहां स्थित हैं प्रमुख 12 ज्योतिर्लिंग, क्या है इनके दर्शन का महत्व..!

हिन्दू धर्म में पुराणों के अनुसार शिवजी जहाँ-जहाँ स्वयं प्रगट हुए उन बारह स्थानों पर स्थित शिवलिंगों को ज्योतिर्लिंगों के रूप में पूजा जाता है..क्या है कहां की महत्ता और कहां पर किस रुप में पूजे जाते हैं शिव