Thu Feb 20, 2020 Telugu English E-Paper Education
ब्रेकिंग न्यूज़
  उपहार अग्निकांड: सुप्रीम कोर्ट ने पीड़ितों की ओर से दाखिल क्यूरेटिव पिटीशन को खारिज किया  
दिल्ली: दोपहर 2.30 बजे वार्ताकार शाहीन बाग पहुंचेंगे
झारखंड: गुमला में एक किसान ने वित्तीय संकट के कारण आत्महत्या की
नितिन गडकरी ने सुप्रीम कोर्ट के आमंत्रण को स्वीकारा, इलेक्ट्रिक वाहनों पर देंगे जानकारी
तमिलनाडु: बस और लॉरी में टक्कर, 19 की मौत, कई घायल

`obesity` से सम्बंधित परिणाम

 वजन घटाने की सर्जरी कराने की सोच रहे हैं तो जरूर पढ़ें यह खबर 
सेहत

वजन घटाने की सर्जरी कराने की सोच रहे हैं तो जरूर पढ़ें यह खबर 

स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि बेरियाट्रिक सर्जरी भले ही मोटापे से ग्रसित कई किशोरों के लिए जीवन बदलने वाला कदम साबित हो सकता है, लेकिन इस सर्जरी से भविष्य में उनके शरीर में पोषण तत्वों की कमी हो सकती है, जिसका सही तरीके से ध्यान न रखने पर उन्हें स्वास्थ्य संबंधित समस्या हो सकती है।

गतिहीन जीवनशैली से लोगों में बढ़ रहा मोटापा, ऐसे करें परहेज
सेहत

गतिहीन जीवनशैली से लोगों में बढ़ रहा मोटापा, ऐसे करें परहेज

मोटापा इस समय दुनिया की सबसे बड़ी समस्याओं में से है। इसके बढ़ते खतरे के प्रति जागरूकता बढ़ाने के लिए नोएडा स्थित जेपी मल्टी सुपर-स्पेशियालिटी हॉस्पिटल ने एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया, जिसमें लोगों को मोटापे के कारण, रोकथाम तथा पोषण एवं व्यायाम की जरूरतों के बारे में जानकारी दी गई।

 रात के समय जंक फूड खाने से अनिद्रा, मोटापे को दावत
जीवन शैली

रात के समय जंक फूड खाने से अनिद्रा, मोटापे को दावत

अगर आपको रात में जंक फूड खाने की आदत है तो सावधान हो जाइए। इससे सेहत को नुकसान पहुंचाने वाली आदत के अलावा यह आपकी नींद में कमी ला सकती है और मोटापे को दावत दे सकता है।

मोटापा कम करने में सर्जरी की जगह इंट्रागैस्ट्रिक गुब्बारा बेहतर विकल्प
जीवन शैली

मोटापा कम करने में सर्जरी की जगह इंट्रागैस्ट्रिक गुब्बारा बेहतर विकल्प

वजन घटाने के लिए सर्जरी कभी-कभी प्राणघातक साबित हो सकती है, लेकिन इंट्रागैस्ट्रिक गुब्बारा वजन कम करने के इच्छुक लोगों के लिए एक बेहतर विकल्प है। चिकित्सकों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

मोटापे को न करें नजरअंदाज, अपनाएं ये सुझाव
सेहत

मोटापे को न करें नजरअंदाज, अपनाएं ये सुझाव

व्यस्त जीवनशैली व समय की कमी के कारण फास्टफूड लोगों के जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा बन गए हैं। अधिकांश लोग व्यस्त कार्यक्रम के कारण व्यायाम भी नहीं कर पाते हैं।