Sat Mar 23, 2019 Telugu English E-Paper Education
ब्रेकिंग न्यूज़
अंडमान में भूकंप के झटके, मापी गई रिक्टर स्केल पर 5.1 तीव्रता
सोपोर में मुठभेड़ में सुरक्षा बलों ने दो आतंकियों को किया ढेर
मायावती: मोदी ने पाक प्रधानमंत्री को बधाई की गुप्त चिठ्ठी भेजी 
उमा भारती भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बन गई
अनुराग ठाकुर हमीरपुर से भाजपा के उम्मीदवार होंगे 

`isro` से सम्बंधित परिणाम

संचार उपग्रह जीसैट-31 का सफल प्रक्षेपण, ATM नेटवर्क को मिलेगी मजबूती
राष्ट्रीय

संचार उपग्रह जीसैट-31 का सफल प्रक्षेपण, ATM नेटवर्क को मिलेगी मजबूती

भारत के 40वें संचार उपग्रह जीसैट-31 को बुधवार तड़के सफलतापूर्वक उसकी कक्षा में स्थापित कर दिया गया। भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी इसरो और एरिएनस्पेस ने कहा कि इसे एरियनस्पेस से एरिएन 5 रॉकेट से प्रक्षेपित किया गया था।

इसरो ने नवीनतम संचार उपग्रह GSAT-31 को सफलतापूर्वक किया लॉन्च 
राष्ट्रीय

इसरो ने नवीनतम संचार उपग्रह GSAT-31 को सफलतापूर्वक किया लॉन्च 

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ने 40वें कम्युनिकेशन सैटेलाइट जीसैट-31 का देर रात सफल परीक्षण किया है। यह परीक्षण फ्रेच गुएना स्थित यूरोपीय स्पेस सेंटर में देर रात 2.31 बजे किया गया।

इन होनहार छात्रों ने बनाया कलामसैट, अब प्रधानमंत्री मोदी की मिली शाबाशी
राष्ट्रीय

इन होनहार छात्रों ने बनाया कलामसैट, अब प्रधानमंत्री मोदी की मिली शाबाशी

भारतीय स्पेस एजेंसी इसरो (ISRO) ने बीती देर रात दुनिया के सबसे हल्के उपग्रह - कलाम-सैट वीटू को पृथ्वी की कक्षा में स्थापित कर दिया है।

‘यंग साइंटिस्ट प्रोग्राम’ कार्यक्रम के तहत छात्रों को उपग्रह बनाने का अनुभव देगा ISRO
राष्ट्रीय

‘यंग साइंटिस्ट प्रोग्राम’ कार्यक्रम के तहत छात्रों को उपग्रह बनाने का अनुभव देगा ISRO

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) पूरे भारत से 100 से अधिक छात्रों का चयन करेगा और उन्हें नये ‘यंग साइंटिस्ट प्रोग्राम’ के तहत उपग्रह कैसे तैयार किया जाता है, इसका व्यावहारिक अनुभव प्रदान करेगा। इसरो के प्रमुख के सिवन ने शुक्रवार को यह घोषणा की।

यात्रीगण ध्यान दें : अब उपग्रह से  मिला करेगी  ट्रेनों की सही  स्थिति की जानकारी
राष्ट्रीय

यात्रीगण ध्यान दें : अब उपग्रह से मिला करेगी ट्रेनों की सही स्थिति की जानकारी

रेलयात्रियों के लिए एक अच्छी खबर है कि अब उन्हें ट्रेन की स्थिति की जानकारी आसानी से मिल जाएगी। दरअसल, रेलवे ने अपने इंजन को इसरो के उपग्रह से जोड़ दिया है, जिससे उपग्रहों से मिली जानकारी से ट्रेन के बारे में पता लगाना, उसके आगमन और प्रस्थान स्वत: दर्ज होना आसान हो गया है।

भारत का पहला मानवीय मिशन दिसंबर में, बनेगा दुनिया का चौथा देश 
राष्ट्रीय

भारत का पहला मानवीय मिशन दिसंबर में, बनेगा दुनिया का चौथा देश 

इसरो के अध्यक्ष के सिवन ने कहा कि भारत ने अपने पहले मानवीय मिशन के लिए दिसंबर 2021 का समय तय किया है और इस अंतरिक्ष अभियान में एक महिला को भी शामिल किए जाने की संभावना है।

GSLV-F11 का सफल प्रक्षेपण, एडवांसड् मिलिटरी कम्युनिकेशन में है कारगर
राष्ट्रीय

GSLV-F11 का सफल प्रक्षेपण, एडवांसड् मिलिटरी कम्युनिकेशन में है कारगर

निरंतर प्रयोगों व सफलताओं के साथ भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (इसरो) आगे बढ़ रहा है। एक महीने के भीतर उसके द्वारा किए गए तीनों प्रक्षेपण सफल रहे हैं। इसरो ने भू-स्थिर संचार उपग्रह जीसैट-7ए को लेकर जाने वाले जीएसएलवी-एफ11 का बुधवार को श्रीहरिकोटा के दूसरे लॉंच पैड़ से प्रक्षेपित किया। 

देश का सबसे वजनी सैटलाइट GSAT-11 हुआ लॉन्च, तेज हो जाएगी इंटरनेट की स्पीड
विज्ञान

देश का सबसे वजनी सैटलाइट GSAT-11 हुआ लॉन्च, तेज हो जाएगी इंटरनेट की स्पीड

: देश के सबसे वज़नी सैटलाइट GSAT-11 को यूरोपियन स्पेस एजेंसी फ्रेंच गुयाना से बुधवार को लॉन्च किया गया। 5,854 किलोग्राम के इस सैटलाइट को इंटरनेट कनेक्टिविटी के लिए गेम चेंजर कहा जा रहा है।

इसरो ने स्वदेशी सैटेलाइट हाइसइस लॉन्च किया, 8 देशों के 30 उपग्रह भी अंतरिक्ष में भेजे 
राष्ट्रीय

इसरो ने स्वदेशी सैटेलाइट हाइसइस लॉन्च किया, 8 देशों के 30 उपग्रह भी अंतरिक्ष में भेजे 

इनमें से 23 सेटेलाइट अमेरिका के हैं। इसरो के मुताबिक, उल्टी गिनती बुधवार की सुबह 5.58 बजे शुरू हुई।

PSLV-C 43 लॉन्चिंग के लिए तैयार, 8 देशों के 30 उपग्रह  प्रक्षेपित करेगा
राष्ट्रीय

PSLV-C 43 लॉन्चिंग के लिए तैयार, 8 देशों के 30 उपग्रह प्रक्षेपित करेगा

धरती का अध्ययन करने वाले उपग्रह हिसआईएस के प्रक्षेपण के लिए 28 घंटे की उलटी गिनती बुधवार तड़के पांच बज कर 58 मिनट पर शुरू हो गई। इसरो के अंतरिक्षयान पीएसएलवी-सी43 के साथ आठ देशों के 30 उपग्रह भी प्रक्षेपित किए जाएंगे।

24 सितंबर: भारत ने अंतरिक्ष यान को ‘मंगल’ की कक्षा में किया था स्थापित
संपादक की पसंद

24 सितंबर: भारत ने अंतरिक्ष यान को ‘मंगल’ की कक्षा में किया था स्थापित

भारत ने 24 सितम्बर, 2014 को अपने पहले ही प्रयास में अंतरिक्ष यान ‘मंगल’ को कक्षा में सफलतापूर्वक स्थापित करके अंतरिक्ष अनुसंधान के क्षेत्र में एक बड़ा इतिहास रचा था। भारत 24 सितंबर, 2014 को मंगल पर पहुँचने के साथ ही विश्व में अपने प्रथम प्रयास में ही सफल होने वाला पहला देश बन गया था।

 इसरो ने इंग्लैंड के दो उपग्रहों को कक्षा में स्थापित किया, PM ने अंतरिक्ष वैज्ञानिकों को दी बधाई
राष्ट्रीय

इसरो ने इंग्लैंड के दो उपग्रहों को कक्षा में स्थापित किया, PM ने अंतरिक्ष वैज्ञानिकों को दी बधाई

भारत के ‘ध्रुवीय उपग्रह प्रमोचन वाहन’ (पीएसएलवी) ने रविवार रात इंग्लैंड के 889 किलो वजनी दो विदेशी उपग्रहों- ‘नोवाएसएआर’ और ‘एस1-4’ को पृथ्वी की कक्षा में सफलतापूर्वक स्थापित कर दिया।

भारत का पहला छोटा रॉकेट अगले साल उड़ेगा : इसरो अध्यक्ष
टेक

भारत का पहला छोटा रॉकेट अगले साल उड़ेगा : इसरो अध्यक्ष

भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी अपने पहले छोटे रॉकेट को अगले साल उड़ाने की योजना बना रहा है, जिसकी भार ले जाने की क्षमता 500-700 किलोग्राम होगी।

ISRO वैज्ञानिक नंबी को इस तरह सरकार ने फंसाया, SC के आदेश पर मिलेगा 50 लाख का मुआवाजा
राष्ट्रीय

ISRO वैज्ञानिक नंबी को इस तरह सरकार ने फंसाया, SC के आदेश पर मिलेगा 50 लाख का मुआवाजा

ISRO में वरिष्ठ वैज्ञानिक रहे नंबी नारायणन की प्रताड़ना की कहानी चौंकाने वाली है। उन्हें उच्चतम न्यायालय ने दोषमुक्त करते हुए उनकी गिरफ्तारी को बेवजह करार दिया।

भारत का मानव अंतरिक्ष अभियान से 15,000 नौकरियों का होगा सृजन : इसरो अध्यक्ष
राष्ट्रीय

भारत का मानव अंतरिक्ष अभियान से 15,000 नौकरियों का होगा सृजन : इसरो अध्यक्ष

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के अध्यक्ष के. सिवन ने बुधवार को कहा कि भारत के मानव अंतरिक्ष अभियान परियोजना में करीब 15,000 नौकरियां पैदा होंगी।

इसरो ने नैविगेशन सैटेलाइट सफलतापूर्वक लॉन्च किया
समाचार

इसरो ने नैविगेशन सैटेलाइट सफलतापूर्वक लॉन्च किया

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (इसरो) ने गुरुवार तड़के श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से नौवहन उपग्रह आईआरएनएसएस-1आई का सफल प्रक्षेपण किया।

ISRO को झटका, GSAT-6A से टूटा संपर्क
समाचार

ISRO को झटका, GSAT-6A से टूटा संपर्क

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान केन्द्र (इसरो) का कहना है कि 29 मार्च को प्रक्षेपित जीसैट-6 ए उपग्रह के साथ उनका संपर्क टूट गया है और उसके साथ संपर्क फिर से स्थापित करने की कोशिश की जा रही है। गौरतलब है कि इसरो उपग्रह की गतिविधियों को लेकर चुप्पी साधे हुए था। 

इसरो का जीसैट-6ए सैटेलाइट सफलतापूर्वक लॉन्च, जानें क्या होगा फायदा 
समाचार

इसरो का जीसैट-6ए सैटेलाइट सफलतापूर्वक लॉन्च, जानें क्या होगा फायदा 

भारत के नवीनतम संचार उपग्रह जीएससैट-6 ए को आज यहां अंतरिक्ष केंद्र से भूतुल्यकालिक रॉकेट जीएसएनवी- एफ 08 के जरिये प्रक्षेपण किया गया और निर्धारित कक्षा में इसे सफलतापूर्वक स्थापित किया गया। इसके साथ ही इसरो के खाते में एक और उपलब्धि जुड़ गई। 

ISRO आज लॉन्च करेगा GSAT-6A, जानिए किन खूबियों से लैस है यह सैटेलाइट
समाचार

ISRO आज लॉन्च करेगा GSAT-6A, जानिए किन खूबियों से लैस है यह सैटेलाइट

संचार उपग्रह जीसैट-6ए के साथ इसरो के जीएसएलवी-एफ08 मिशन के श्रीहरिकोटा के अंतरिक्ष केन्द्र से प्रक्षेपण की उल्टी गिनती शुरू हो गई। इसरो ने बुधवार को कहा कि गुरुवार को प्रक्षेपित होने वाले मिशन की उल्टी गिनती मिशन तैयारी समीक्षा समिति और प्रक्षेपण अधिकार बोर्ड से मंजूरी के बाद दिन में एक बजकर 56 मिनट पर शुरू हुई। 

अप्रैल में चंद्रयान-2 को प्रक्षेपित करेगा इसरो
गैजेट्स

अप्रैल में चंद्रयान-2 को प्रक्षेपित करेगा इसरो

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन( इसरो) ने आज कहा कि वह चंद्रयान-2 उपग्रह को अप्रैल में प्रक्षेपित करने की तैयारी में है। इस बार वह चांद की सतह की पड़ताल और अध्ययन के लिए एक रोवर भेजने की योजना बना रहा है।

मोदी ने इसरो को 100वें उपग्रह के सफल प्रक्षेपण पर बधाई दी
समाचार

मोदी ने इसरो को 100वें उपग्रह के सफल प्रक्षेपण पर बधाई दी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) को 100वें उपग्रह के सफल प्रक्षेपण पर बधाई दी।

अंतरिक्ष में भारत का ‘शतक’, 3 स्वदेशी और 28 विदेशी उपग्रहों का प्रक्षेपण
समाचार

अंतरिक्ष में भारत का ‘शतक’, 3 स्वदेशी और 28 विदेशी उपग्रहों का प्रक्षेपण

अंतरिक्ष में भारत इसरो की मदद से अपना शतक पूरा करने जा रहा है। शुक्रवार को जैसे ही 9.28 मिनट पर भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) PSLV में 31 उपग्रहों का प्रक्षेपण करेगा, यह उपलब्धि हमारे देश को हासिल हो जाएगी।

 31 उपग्रह छोड़ने की उल्टी गिनती गुरुवार से शुरू होगी
गैजेट्स

31 उपग्रह छोड़ने की उल्टी गिनती गुरुवार से शुरू होगी

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) द्वारा 31 उपग्रह छोड़ने की उल्टी गिनती गुरुवार से शुरू होगी। इसमें भारत के तीन और छह अन्य देशों के 28 उपग्रह शामिल हैं।

नए साल में इतिहास रचेगा भारत, एक साथ 31 उपग्रह करेगा लॉन्च
समाचार

नए साल में इतिहास रचेगा भारत, एक साथ 31 उपग्रह करेगा लॉन्च

अंतरिक्ष की दुनिया में भारत एक और इतिहास रचने की तैयारी कर रहा है। इस क्रम में 10 जनवरी को आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा स्थित अंतरिक्ष केंद्र से पृथ्वी अवलोकन उपग्रह काटरेसैट सहित 31 उपग्रहों का प्रक्षेपण किया जाएगा।

10 जनवरी को 31 भारतीय  उपग्रहों का होगा एक साथ प्रक्षेपण 
समाचार

10 जनवरी को 31 भारतीय उपग्रहों का होगा एक साथ प्रक्षेपण 

भारत 10 जनवरी को आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा स्थित अपने अंतरिक्ष केंद्र से पृथ्वी अवलोकन उपग्रह काटरेसैट सहित 31 उपग्रहों का प्रक्षेपण करेगा।

उपग्रह प्रक्षेपण के लिये इसरो की आउटसोर्सिंग बढ़ाने की योजना
समाचार

उपग्रह प्रक्षेपण के लिये इसरो की आउटसोर्सिंग बढ़ाने की योजना

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) अपने द्वारा बनाये गये उपग्रहों के प्रक्षेपण की आवृत्ति बढ़ाने के लिये आउटसोर्सिंग बढ़ाने की योजना बना रहा है। अधिकारियों ने कहा कि बढ़ती मांग को पूरा करने के लिहाज से यह किया जा रहा है।

इसरो दिसंबर में एक साथ 30 उपग्रहों का प्रक्षेपण करेगा
समाचार

इसरो दिसंबर में एक साथ 30 उपग्रहों का प्रक्षेपण करेगा

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने आज कहा कि वह दिसंबर में अपने ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (पीएसएलवी) से एक बार में 30 उपग्रह छोड़ेगा।



इसरो के नौवहन उपग्रह ‘आईआरएनएसएस 1 एच’  के प्रक्षेपण के लिए उल्टी गिनती शुरू 
समाचार

इसरो के नौवहन उपग्रह ‘आईआरएनएसएस 1 एच’ के प्रक्षेपण के लिए उल्टी गिनती शुरू 

श्रीहरिकोटा से आज शाम तक नौवहन उपग्रह ‘’आईआरएनएसएस 1एच’’ के प्रक्षेपण के लिए उल्टी गिनती शुरू की जा चुकी है और पूरी प्रक्रिया अच्छे से चल रही है। इसरो के सूत्रों ने बताया कि 29 घंटे की उल्टी गिनती की प्रक्रिया कल दोपहर दो बजे शुरू हुई। फिलहाल वैज्ञानिक प्रणोदकों को भरने में व्यस्त हैं। उन्होंने यह भी बताया कि उल्टी गिनती की प्रक्रिया ठीक से चल रही है।

तस्वीरों में देखिए, PSLV-C38 कार्टोसैट-2s सीरिज सैटलाइट
गैलरी

तस्वीरों में देखिए, PSLV-C38 कार्टोसैट-2s सीरिज सैटलाइट

धरती पर नजर रखने के लिये प्रक्षेपित किए जा रहे 712 किलोग्राम वजनी कार्टोसैट-2 श्रृंखला के उपग्रह पीएसएलवी-सी38 के साथ करीब 243 किलोग्राम वजनी 30 अन्य सह उपग्रहों को भी एक साथ प्रक्षेपित किया।

‘भारत के लिए चार टन उपग्रह प्रक्षेपण बाजार खोलेगा जीएसएलवी मार्क तीन’
समाचार

‘भारत के लिए चार टन उपग्रह प्रक्षेपण बाजार खोलेगा जीएसएलवी मार्क तीन’

एक वरिष्ठ अंतरिक्ष वैज्ञानिक ने कहा कि अंतरिक्ष एजेंसी इसरो द्वारा कल प्रक्षेपित किये जाने वाला भारी भरकम जीएसएलवी मार्क तीन राकेट अन्य देशों के चार टन श्रेणी के उपग्रहों को प्रक्षेपित करने की दिशा में भारत के लिए अवसर खोलेगा।

इसरो आज लॉन्च करेगा दक्षिण एशिया उपग्रह, मोदी ने बताया खास तोहफा
समाचार

इसरो आज लॉन्च करेगा दक्षिण एशिया उपग्रह, मोदी ने बताया खास तोहफा

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) आज दक्षिण एशिया उपग्रह (जीसैट-9) लॉन्च करेगा। जीसैट-9 को जियोसिंक्रोनस सैटेलाइट लांच व्हिकल (जीएसएलवी-एमके द्वितीय) के जरिए आंध्र प्रदेश के श्री हरिकोटा में स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र के दूसरे लांच पैड से प्रक्षेपित किया जाएगा।



प्रक्षेपण में सालाना 12 प्रतिशत की वृद्धि करेगा इसरो : कुमार
समाचार

प्रक्षेपण में सालाना 12 प्रतिशत की वृद्धि करेगा इसरो : कुमार

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) अधिक से अधिक उपग्रहों के निर्माण एवं अंतरिक्ष तक पहुंच की लागत में कमी लाकर तथा अपने प्रक्षेपण कार्यक्रमों में सालाना 12 प्रतिशत की वृद्धि कर अपनी क्षमता में इजाफा करने की कोशिश कर रहा है। वर्तमान में इसरो हर साल सात प्रक्षेपण करता है।

इतिहास में नया अध्याय जोड़ने वाले रॉकेट की पहली उड़ान के लिए इसरो तैयार 
समाचार

इतिहास में नया अध्याय जोड़ने वाले रॉकेट की पहली उड़ान के लिए इसरो तैयार 

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के प्रमुख एस किरण कुमार ने कहा कि संगठन अगले महीने श्रीहरिकोटा अंतरिक्ष केंद्र से चार टन श्रेणी के उपग्रह प्रक्षेपित करने की क्षमता वाले रॉकेट की पहली विकास उड़ान के लिए तैयार है, जिससे इसरो के इतिहास में एक नया अध्याय जुड़ेगा।



ऐतिहासिक पीएसएलवी मिशन का नकारात्मक पहलू भी है : माधवन नायर
समाचार

ऐतिहासिक पीएसएलवी मिशन का नकारात्मक पहलू भी है : माधवन नायर

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने हाल ही में एक साथ 104 उपग्रह प्रक्षेपित कर इतिहास रच दिया है और उसे दुनियाभर से बधाई संदेश मिल रहे हैं। लेकिन इस अभियान का एक नकारात्मक पहलू भी है, जो चिंता का विषय है।