Sat Jan 18, 2020 Telugu English E-Paper Education
ब्रेकिंग न्यूज़
आतंकियों के मददगार DSP देवेंद्र पर NIA का शिकंजा, UAPA के तहत केस दर्ज
  कश्मीरियों को LG मुर्मू का आश्वासन- आपकी जमीन और नौकरियों का रखा जाएगा ख्याल  
पूर्व क्रिकेटर बापू नाडकर्णी का निधन, लगातार 21 मेडन ओवर डालने का था रिकॉर्ड  
विनेश फोगाट ने रोम रैंकिंग सीरीज में जीता स्वर्ण, इक्वाडोर की लुईसा को फाइनल में दी मात  
गुजरात के सूरत में एक हीरा फैक्ट्री से करीब 2 करोड़ रुपए के हीरों की चोरी

`diabetes` से सम्बंधित परिणाम

डायबिटीज को करना है कंट्रोल तो एकसाथ नहीं टुकड़ों में ऐसे करें भोजन 
सेहत

डायबिटीज को करना है कंट्रोल तो एकसाथ नहीं टुकड़ों में ऐसे करें भोजन 

पूरे विश्व में डायबिटीज के मरीज बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं और इस मामले में भारत दूसरे नंबर पर है। डायबिटीज एक ऐसी बीमारी है जिस पर कंट्रोल न किया गया तो ये इंसान को अंदर से बिल्कुल खोखला कर देती है।

डायबिटीज से निपटने के लिए  परिवारों को जागरूक बनाने की जरूरत, यह भी जरूरी
जीवन शैली

डायबिटीज से निपटने के लिए परिवारों को जागरूक बनाने की जरूरत, यह भी जरूरी

मधुमेह के बढ़ते मामलों से निपटने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन ने दक्षिण पूर्व एशिया में प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल को मजबूत करने, पर्यावरण अनुकूल क्षेत्र तथा आउटडोर जिम बनाने और परिवारों को सशक्त बनानें जैसे कई उपाय सुझाये हैं।

आ गया WHO का नायाब ऐप, जो योग के दम पर मधुमेह, हाइपरटेंशन से बचाएगा आपको
सेहत

आ गया WHO का नायाब ऐप, जो योग के दम पर मधुमेह, हाइपरटेंशन से बचाएगा आपको

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) अब आयुर्वेद को नया रूप देने जा रहा है। डब्ल्यूएचओ ने मोबाइल एप के जरिए न सिर्फ भारत, बल्कि दुनिया भर में योग के साथ-साथ मधुमेह और हाइपरटेंशन जैसी आधुनिक जीवनशैली से जुड़े रोगों के बारे में जानकारी देने का फैसला लिया है। इस मोबाइल एप को आगामी अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर लांच किया जा सकता है।

ये उपाए करने से डायबिटीज से पीड़ित लोगों में कम किया जा सकता है हार्ट अटैक का खतरा 
सेहत

ये उपाए करने से डायबिटीज से पीड़ित लोगों में कम किया जा सकता है हार्ट अटैक का खतरा 

इस भागदौड़ भरी जिंदगी में लोगों के मधुमेह, उच्च रक्तचाप, हृदयाघात जैसी गंभीर बीमारियों की चपेट में आने का खतरा बढ़ गया है लेकिन कुछ वजन कम करके हम इन रोगों के खतरों को कम कर सकते हैं। कुछ वजन घटाकर टाइप 2 मधुमेह के साथ जीवन व्यतीत करने वाले लोगों में हृदयाघात और स्ट्रोक जैसे हृदय रोगों के दीर्घकालिक जोखिम को काफी कम किया जा सकता है।

 टाइप-2 डायबिटीज से बचे रहेंगे, अगर ऐसी होगी लाइफस्टाइल 
सेहत

टाइप-2 डायबिटीज से बचे रहेंगे, अगर ऐसी होगी लाइफस्टाइल 

एक अध्ययन में पाया गया है कि विटामिन-सी की खुराक लेने से मधुमेह रोगियों को दिनभर में बढ़ा हुआ रक्त शर्करा स्तर कम करने में मदद मिल सकती है। शोध में यह भी पाया गया है कि विटामिन-सी टाइप-2 डायबिटीज वाले लोगों में रक्तचाप को कम करता है, जिससे हृदय की हालत अच्छी रहती है।

इस दवा का सेवन करके टाइप-2 डायबिटीज के खतरे से रहें दूर 
सेहत

इस दवा का सेवन करके टाइप-2 डायबिटीज के खतरे से रहें दूर 

एक अध्ययन में पाया गया है कि विटामिन-सी की खुराक लेने से मधुमेह रोगियों को दिनभर में बढ़ा हुआ रक्त शर्करा स्तर कम करने में मदद मिल सकती है। शोध में यह भी पाया गया है कि विटामिन-सी टाइप-2 डायबिटीज वाले लोगों में रक्तचाप को कम करता है, जिससे हृदय की हालत अच्छी रहती है।

डायबिटीज विशेष बीमा योजना खरीदने से पहले रखें ध्यान  
सेहत

डायबिटीज विशेष बीमा योजना खरीदने से पहले रखें ध्यान  

भारत में मधुमेह बीमारी तेजी से बढ़ी है और इस बीमारी में मरीज का शरीर इंसुलिन का उत्पादन करने में सक्षम नहीं होता है या फिर उपलब्ध इंसुलिन का इस्तेमाल नहीं कर पाता। ऐसे में मधुमेह विशेष बीमा योजना खरीदने से पहले रखें कुछ खास बातों का ध्यान रखना चाहिए।

मधुमेह की जांच अब बिना दर्द के संभव 
सेहत

मधुमेह की जांच अब बिना दर्द के संभव 

स्वीडन के शोधार्थियों ने मधुमेह पीड़ित लोगों के लिए एक माइक्रोनीडल पैच डिजाइन किया है, जिससे आप दर्द महसूस किए बिना पूरे दिन अपने ग्लूकोज स्तर की जांच कर पाएंगे।

विशेष : लिट्टी-चोखा स्वाद में ही नहीं, सेहत के लिए भी है लाजवाब
सेहत

विशेष : लिट्टी-चोखा स्वाद में ही नहीं, सेहत के लिए भी है लाजवाब

लिट्टी चोखा बिहार और झारखंड में खायी जाने वाली एक डिश है, लेकिन अब देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी शौक से खाया जाता है। लिट्टी सत्तु से बनता है।

‘डायबिटीज’ के दुष्प्रभावों से सतर्क रहने के लिए जागरूकता अभियान
सेहत

‘डायबिटीज’ के दुष्प्रभावों से सतर्क रहने के लिए जागरूकता अभियान

बच्चों में डायबिटीज/मधुमेह के बढ़ते मामलों के मद्देनजर पीड़ित बच्चों और उनके माता-पिता को इसके दुष्प्रभावों से अवगत कराने के लिए राष्ट्रीय राजधानी में अपोलो सेंटर फॉर ओबेसिटी, डायबिटीज एंड एंडोक्राइनोलोजी ने जागरूकता अभियान चलाया।

 शोध में खुलासा : 75 फीसदी मधुमेह रोगियों को होती रेटिनोपैथी
सेहत

शोध में खुलासा : 75 फीसदी मधुमेह रोगियों को होती रेटिनोपैथी

भारत में डायबिटीज मेलिटस काफी व्यापक है और इसके रोगियों की संख्या चिंताजनक रूप से बढ़ रही है। डायबिटीज यानी मधुमेह के कारण डायबेटिक मैक्युलर एडीमा (डीएमई) हो सकता है, जो रेटिना का तेजी से फैलने वाला रोग है, जिससे दृष्टिहीनता भी हो सकती है। मधुमेह से पीड़ित लोगों में अन्य लोगों की तुलना में दृष्टिहीन होने का जोखिम 25 प्रतिशत अधिक होता है। यह तथ्य एक शोध में सामने आया है।

आपका बच्चा  मोटा है तो हो जाइए सावधान, बढ़ सकता है इस बड़ी बीमारी का खतरा 
सेहत

आपका बच्चा मोटा है तो हो जाइए सावधान, बढ़ सकता है इस बड़ी बीमारी का खतरा 

डायबिटीज मेलिटस बेहद गंभीर मैटाबोलिक विकार है, जिसके चलते शरीर में शुगर यानी काबोर्हाइड्रेट का अपघटन सामान्य रूप से नहीं होता। इसका बुरा असर दिल, खून की वाहिकाओं, किडनी और न्यूरोलॉजिकल सिस्टम पर पड़ सकता है। कई सालों तक बीमारी के बाद व्यक्ति की देखने की क्षमता भी जा सकती है।

विश्व मधुमेह दिवस 2018 : डायबिटीज नियंत्रण में रामबाण है व्यायाम
सेहत

विश्व मधुमेह दिवस 2018 : डायबिटीज नियंत्रण में रामबाण है व्यायाम

डायग्नॉस्टिक कंपनी एसआरएल डायग्नॉस्टिक्स द्वारा किए गए डायबिटीज ब्लड टेस्ट एचबीए1सी के परिणाम से पता चला है कि 16-30 आयुवर्ग में असामान्य ब्लड शुगर के रुझान कम हुए हैं। इससे साफ है कि ब्लड शुगर के नियन्त्रण के बारे में लोगों के बीच जागरूकता बढ़ रही है।

स्मार्ट फोन के नए कवर, ऐप से रखी जा सकेगी डायबीटीज पर नजर 
गैजेट्स

स्मार्ट फोन के नए कवर, ऐप से रखी जा सकेगी डायबीटीज पर नजर 

शोधकर्ताओं ने स्मार्ट फोन का थ्रीडी प्रिंट वाला एक कवर बनाया है और एक ऐप विकसित किया है जिसकी मदद से मरीजों के लिए रक्त शर्करा को मापना और रिकॉर्ड करना आसान हो जाएगा।

गर्भकाल में मधुमेह से संतान को नुकसान 
सेहत

गर्भकाल में मधुमेह से संतान को नुकसान 

गर्भावस्था के दौरान हार्मोन में होने वाले बदलावों के कारण कुछ महिलाओं में रक्त शर्करा का स्तर असामान्य रूप से बढ़ जाता है। इस स्थिति को गर्भकालीन मधुमेह (गेस्टेशनल डायबिटीज) कहते हैं।

मधुमेह  : कारण और बचाव
समाचार

मधुमेह : कारण और बचाव

मधुमेह मेटाबोलिक बीमारियों का एक समूह है, जिसमें व्यक्ति के खून में ग्लूकोज (ब्लड शुगर) का स्तर सामान्य से अधिक हो जाता है। ऐसा तब होता है, जब शरीर में इंसुलिन ठीक से न बने या शरीर की कोशिकाएं इंसुलिन के लिए ठीक से प्रतिक्रिया न दें। जिन मरीजों का ब्लड शुगर सामान्य से अधिक होता है वे अक्सर पॉलीयूरिया (बार बार पेशाब आना) से परेशान रहते हैं।



केजरीवाल मोहल्ला क्लीनिक में इलाज कराएं : आरडब्ल्यूए
राजनीति

केजरीवाल मोहल्ला क्लीनिक में इलाज कराएं : आरडब्ल्यूए

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से आग्रह किया कि वह मधुमेह की बीमारी के इलाज के लिए बेंगलुरू जाने के बदले मोहल्ला क्लीनिक में ही अपना इलाज कराएं।



मधुमेह हड्डियों का सबसे बड़ा शत्रु
गेस्ट कॉलम

मधुमेह हड्डियों का सबसे बड़ा शत्रु

मधुमेह एक ऐसी बीमारी है, जिससे पीड़ित व्यक्ति के शरीर में कई बीमारियों की संभावना बन जाती है। मधुमेह के रोगियों को काफी सावधानी बरतने की जरूरत है, क्योंकि सावधानी हटते ही दुर्घटना की संभावना बढ़ जाती है।