Sat Jan 25, 2020 Telugu English E-Paper Education
ब्रेकिंग न्यूज़
जम्मू कश्मीर के त्राल में सुरक्षाबलों ने जैश के 3 आतंकियों को घेरा, मुठभेड़ जारी
ब्राजील के राष्ट्रपति ने विदेश मंत्री एस. जयशंकर से दिल्ली में की मुलाकात
पटना के जेडी महिला कॉलेज में बुर्का पहनने पर रोक  
हैदराबाद में चारमीनार पर आज तिरंगा फहराएंगे असदुद्दीन ओवैसी
भुवनेश्वर एयरपोर्ट के पास निर्माणाधीन छत गिरने से एक की मौत, 1 घायल

`bhopal gas tragedy` से सम्बंधित परिणाम

भोपाल गैस त्रासदी : बढ़ता ही जा रहा मर्ज, पीड़ितों की तीसरी पीढ़ी भी विकलांग
संपादक की पसंद

भोपाल गैस त्रासदी : बढ़ता ही जा रहा मर्ज, पीड़ितों की तीसरी पीढ़ी भी विकलांग

मध्य प्रदेश की राजधानी में 35 साल पहले हुई गैस त्रासदी के पीड़ितों का दर्द कम होने की बजाय बढ़ता ही जा रहा है। साढ़े तीन दशकों में राज्य और केंद्र में सरकारें बदलती रहीं, लेकिन नहीं बदली पीड़ितों की किस्मत। इन्हें उतनी मदद नहीं मिली, जितने की सख्त जरूरत थी।

हम पर ही है पृथ्वी  पर बढ़ते प्रदूषण नियंत्रण का  दायित्व, हमारी गलतियों की सजा झेलेगी अगली पीढ़ी..!
गेस्ट कॉलम

हम पर ही है पृथ्वी पर बढ़ते प्रदूषण नियंत्रण का दायित्व, हमारी गलतियों की सजा झेलेगी अगली पीढ़ी..!

राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस प्रत्येक वर्ष भारत में 2 दिसम्बर को मनाया जाता है। यह दिवस उन लोगों की याद में मनाया जाता है, जिन्होंने भोपाल गैस त्रासदी में अपनी जान गँवा दी थी। उन मृतकों को सम्मान देने और याद करने के लिये भारत में हर वर्ष इस दिवस को मनाया जाता है।

National Pollution Control Day 2019 : क्या आप जानते हैं राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस से जुड़ी ये बातें
संपादक की पसंद

National Pollution Control Day 2019 : क्या आप जानते हैं राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस से जुड़ी ये बातें

देश में प्रदूषण सबसे बड़ा खतरा बनकर उभरा है। राजधानी दिल्ली समेत कई ऐसे शहर हैं, जहां खुली हवा में सांस लेना जहर की तरह है। भारत के कई शहर विश्व के सबसे प्रदूषित शहरों की लिस्ट में शामिल किए गए हैं। बढ़ते प्रदूषण को रोकने और लोगों में जागरूकता लाने के लिए हर साल 2 दिसंबर को राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस मनाया जाता है।

भोपाल गैस त्रासदी की 33वीं बरसी आज, कफन ओढ़कर प्रदर्शन
संपादक की पसंद

भोपाल गैस त्रासदी की 33वीं बरसी आज, कफन ओढ़कर प्रदर्शन

भोपाल गैस हादसे की 33वीं बरसी को आज सभी याद कर रहे हैं। रविवार की सुबह कुछ लोगों ने कफन ओढ़कर राजभवन के सामने प्रदर्शन किया।

भोपाल का दर्द : गैस त्रासदी के कारण दोबारा मां नहीं बन पाईं कई महिलाएं !
समाचार

भोपाल का दर्द : गैस त्रासदी के कारण दोबारा मां नहीं बन पाईं कई महिलाएं !

मध्यप्रदेश की राजधानी में 33 साल पहले हुए गैस हादसे में मिली बीमारी ने कई महिलाओं की कोख को आबाद नहीं होने दिया। कई परिवारों के आंगन में हादसे के बाद कभी किलकारी नहीं गूंजी।

भोपाल गैस त्रासदी: बरसी को अफसर ने कहा सेलिब्रेशन, मचा बवाल
समाचार

भोपाल गैस त्रासदी: बरसी को अफसर ने कहा सेलिब्रेशन, मचा बवाल

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में हुए गैस हादसे की बरसी को लेकर अतिरिक्त जिलाधिकारी (एडीएम) रत्नाकर झा ने कुछ ऐसा बयान दिया कि बवाल मच गया। झा ने कथित तौर पर गैस हादसे की बरसी को ‘सेलिब्रेशन’ और सामान्य दिन कहा, जो संवेदनशून्यता का परिचायक है।



भोपाल गैस हादसे की बरसी पर प्रार्थना सभा व विरोध-प्रदर्शन आयोजित
समाचार

भोपाल गैस हादसे की बरसी पर प्रार्थना सभा व विरोध-प्रदर्शन आयोजित

भोपाल में यूनियन कार्बाइड संयंत्र से रिसी जहरीली गैस से हुए हादसे की 32वीं बरसी पर शनिवार को दिवंगतों को श्रद्घांजलि देने के लिए प्रार्थना सभा हुई। विभिन्न संगठनों ने प्रभावितों की उपेक्षा को लेकर विरोध-प्रदर्शन किया।



भोपाल गैस हादसा : जिंदगी बचाने की जद्दोजहद में गर्भ भी गिर गए
गेस्ट कॉलम

भोपाल गैस हादसा : जिंदगी बचाने की जद्दोजहद में गर्भ भी गिर गए

मेमुन निशां (70) की आंखों में भोपाल गैस हादसे की दहशत को 32 वर्ष बाद अब भी आसानी से पढ़ा जा सकता है। वह उस रात को याद करके सहम जाती हैं, क्योंकि वह तब गर्भवती थी और जान बचाने की कोशिश में अजन्मे बच्चे को खो बैठी।

भोपाल गैस कांड : तत्कालीन डीएम व एसपी पर मामला दर्ज करने का आदेश
समाचार

भोपाल गैस कांड : तत्कालीन डीएम व एसपी पर मामला दर्ज करने का आदेश

“सीजेएम ने अपने आदेश में कहा है कि एंडरसन को जिन धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज कर हनुमानगंज थाना पुलिस ने गिरफ्तार किया था, उसमें केवल न्यायालय से ही जमानत मिल सकती थी। लेकिन, तत्कालीन जिलाधिकारी मोती सिंह और पुलिस अधीक्षक स्वराज पुरी ने उन्हें सजा से बचाने की योजना बनाई और भगाने में मदद की, जिसके बाद उन्हें पकड़ा नहीं गया।”