Tue Nov 19, 2019 Telugu English E-Paper Education
ब्रेकिंग न्यूज़
कल दोपहर 3 बजे बीजेपी ने बेंगलुरु में पार्टी मुख्यालय में चुनावी बैठक बुलाई  
दिल्ली में कल शाम 5 बजे महारष्ट्र को लेकर कांग्रेस-राकांपा नेताओं की बैठक
गांधी परिवार की SPG सुरक्षा हटाए जाने के खिलाफ कल संसद का घेराव करेगा यूथ कांग्रेस
कांग्रेस के लोकसभा सांसदों की सुबह 10.30 बजे मीटिंग, सत्र की रणनीति पर चर्चा
राष्ट्रपति कोविंद भी दिल्ली के प्रदूषण से चिंतित, कहा- धुंध देखकर सताने लगा अंत का डर  

`asthma` से सम्बंधित परिणाम

फेफड़ों की वायु नलिकाओं में सूजन से होता है अस्थमा
सेहत

फेफड़ों की वायु नलिकाओं में सूजन से होता है अस्थमा

अस्थमा (दमा) फेफड़ों की वायु नलिकाओं में सूजन के कारण होता है, जिसमें बार-बार घरघराहट और सांस फूलती है। अस्थमा का सबसे प्रमुख कारण परिवार में अस्थमा का इतिहास होना भी है। हालांकि, वायु प्रदूषण, घरेलू एलर्जी जैसे बिस्तर में खटमल, स्टफ्ड फर्नीचर, तंबाकू का धुआं और रासायनिक पदार्थ अस्थमा के प्रमुख कारकों में शामिल हैं।

मोटे  बच्चों में बढ़ता जाता  है अस्थमा का खतरा, सावधान हो जाएं माता-पिता
सेहत

मोटे बच्चों में बढ़ता जाता है अस्थमा का खतरा, सावधान हो जाएं माता-पिता

एक नए अध्ययन में पता चला है कि सही वजन हजारों बच्चों को अस्थमा जैसी बीमारियों से बचा सकता है। अमेरिका के ड्यूक विश्विद्यालय ने अपने अध्ययन के लिए अमेरिका के पांच लाख से अधिक बच्चों के स्वास्थ्य आंकडों का विश्लेषण किया और पाया कि करीब एक चौथाई बच्चों (23 से 27 प्रतिशत) में अस्थमा के लिए मोटापा जिम्मेदार है।

बादाम, मछली, सोयाबीन रखेंगे बच्चों को दमा से दूर
जीवन शैली

बादाम, मछली, सोयाबीन रखेंगे बच्चों को दमा से दूर

बादाम, मछली जैसे सैलमॉन, पटसन के बीज व सोयाबीन तेल में मौजूद जरूरी पॉलीअनसेचुरेटेड वसा अम्ल आपके बच्चों के आहार में शामिल होकर उन्हें एलर्जी संबंधी बीमारियों से दूर रखेंगे।