Thu Nov 21, 2019 Telugu English E-Paper Education
ब्रेकिंग न्यूज़
कांग्रेस-एनसीपी में आज होगी कई दौर की बातचीत, शाम को मुंबई रवाना होंगे दोनों दलों के नेता
झारखंड विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा ने 5वीं सूची की जारी, 8 प्रत्याशियों के नाम शामिल
प्रदूषण पर आज संसद के दोनों सदनों में जवाब दे सकते हैं प्रकाश जावड़ेकर
सोनिया गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस के लोकसभा सांसदों की बैठक आज
आज आरा के रमना मैदान में होगा बिहार अश्वरोही सैन्य बल का शताब्दी समारोह

`Prajakutami` से सम्बंधित परिणाम

कोमटीरेड्डी ने चुनाव में बाबू से गठबंधन को बताया कांग्रेस की हार की वजह 
तेलंगाना राजनीति

कोमटीरेड्डी ने चुनाव में बाबू से गठबंधन को बताया कांग्रेस की हार की वजह 

पूर्व मंत्री व कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता कोमटीरेड्डी वेंकट रेड्डी ने कहा कि तेलंगाना विधानसभा चुनाव में गठबंधन की वजह से ही कांग्रेस को करारी हार मिली है।

कांग्रेस को महंगी पड़ी चंद्रबाबू से दोस्ती, नहीं बचा पाई तेलंगाना में अपना जनाधार 
तेलंगाना

कांग्रेस को महंगी पड़ी चंद्रबाबू से दोस्ती, नहीं बचा पाई तेलंगाना में अपना जनाधार 

तेलंगाना में कांग्रेस पार्टी को जोर का झटका लगा है। महाकूटमी के नाम पर बनी गठबंधन की राजनीति ने कांग्रेस को कहीं का नहीं छोड़ा है। 125 वर्षों के इतिहास वाले कांग्रेस पार्टी के खुद का एजेंडा छोड़कर लोगों में विश्वसनीयता खो चुकी पार्टी के साथ गठबंधन करने को लोगों ने पूरी तरह से नकार दिया है।

 फेल हुई लगड़पाटी की भविष्यवाणी, केसीआर पर तेलंगाना का भरोसा कायम 
तेलंगाना

फेल हुई लगड़पाटी की भविष्यवाणी, केसीआर पर तेलंगाना का भरोसा कायम 

पूर्व सांसद लगड़पाटी की चुनावी भविष्यवाणी इस बार बिलकुल गलत साबित हुई है। लगड़पाटी ने अपने चुनावी सर्वेक्षण में महाकूटमी को 75 से 80 सीटें और टीआरएस को 30-35 सीटें मिलने का दावा किया था। 

ऐसा है मुख्यमंत्री KCR का राजयोग, जानिए क्या बोलते हैं सितारे
तेलंगाना

ऐसा है मुख्यमंत्री KCR का राजयोग, जानिए क्या बोलते हैं सितारे

तेलंगाना विधानसभा चुनाव के नतीजे 11 दिसंबर को आने वाले हैं और टीआरएस प्रमुख व तेलंगाना के कार्यवाहक मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव के फिर से सत्ता पर काबिज होने की पूरी संभावनाएं जताई जा रही हैं। अब देखना होगा कि विपक्षियों की चुनौतियों का सामना करते हुए चंद्रशेखर राव किस तरह सत्ता में वापसी करेंगे। 

तेलंगाना में TRS कर रही 100 सीटें जीतने का दावा, प्रजाकूटमी को है 85 सीटें मिलने का भरोसा
तेलंगाना

तेलंगाना में TRS कर रही 100 सीटें जीतने का दावा, प्रजाकूटमी को है 85 सीटें मिलने का भरोसा

तेलंगाना में कुछ एग्जिट पोल में तेलंगाना राष्ट्र समिति और कांग्रेस के नेतृत्व वाले ‘प्रजा कुटमी’ (जन गठबंधन) में कांटे की टक्कर बताई जा रही है, लेकिन दोनों ही पक्षों ने विधानसभा चुनावों में आसानी से बहुमत हासिल करने का शनिवार को दावा किया।

 महाकूटमी अवसरवादी , ‘3-M’ के दम पर जीत का दावा
संपादक की पसंद

महाकूटमी अवसरवादी , ‘3-M’ के दम पर जीत का दावा

तेलंगाना में चुनाव प्रचार अंतिम चरण में है, मतदान और नतीजे आने में कुछ ही दिन बचे हुए हैं। तेलंगाना में कांग्रेस पार्टी की जीत की संभावनाएं उस वक्त अचानक बढ़ गई जब उसने तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) के साथ गठबंधन किया। कांग्रेस-टीडीपी गठबंधन की वजह से टीआरएस के विश्वास में कमी आ गई है। 

गडकरी के बोल- प्रजाकुटमी को बताया अवसरवादी तो TRS को प्राइवेट लिमिटेड कंपनी 
तेलंगाना

गडकरी के बोल- प्रजाकुटमी को बताया अवसरवादी तो TRS को प्राइवेट लिमिटेड कंपनी 

केंद्रीय मंत्री नितीन गडकरी ने रविवार को कांग्रेस, टीआरएस और तेदेपा को ‘प्राइवेट लिमिटेड पार्टियां’ बताते हुए तेलंगाना में सरकार बदलने की बात कही। उप्पल में यहां एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए गडकरी ने दावा किया कि सिर्फ भाजपा ही एकमात्र लोकतांत्रिक पार्टी है जहां उनके जैसा छोटा कार्यकर्ता पार्टी का अध्यक्ष और एक चाय वाला देश का प्रधानमंत्री बन सकता है।