Sat Aug 24, 2019 Telugu English E-Paper Education
ब्रेकिंग न्यूज़
आंध्र प्रदेश के पेन्ना सीमेंट फैक्टरी में विस्फोट, 5 मजदूर गंभीर रूप से घायल
दिल्लीः अरुण जेटली का अंतिम संस्कार कल 2 बजे निगमबोध घाट पर
राहुल गांधी संग श्रीनगर पहुंचा विपक्ष का डेलिगेशन, एयरपोर्ट पर हंगामा  
जेटली जी के असामयिक निधन से मन व्यथित है, भगवान उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे: तेजस्वी यादव
अमित शाह बोले- अरुण जेटली जी के निधन से अत्यंत दुःखी हूं, उनका जाना मेरी व्यक्तिगत क्षति है

`Mahashivratri` से सम्बंधित परिणाम

 महाशिवरात्रि पर वाईएस जगन ने लोगों को दी शुभकामनाएं
तेलंगाना

महाशिवरात्रि पर वाईएस जगन ने लोगों को दी शुभकामनाएं

वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के सुप्रीमो व आंध्र प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने दोनों तेलुगु भाषी राज्यों के लोगों को महाशिवरात्रि की शुभकामनाएं दीं।

जानिए..कहां- कहां स्थित हैं प्रमुख 12 ज्योतिर्लिंग, क्या है इनके दर्शन का महत्व..!
यात्रा

जानिए..कहां- कहां स्थित हैं प्रमुख 12 ज्योतिर्लिंग, क्या है इनके दर्शन का महत्व..!

हिन्दू धर्म में पुराणों के अनुसार शिवजी जहाँ-जहाँ स्वयं प्रगट हुए उन बारह स्थानों पर स्थित शिवलिंगों को ज्योतिर्लिंगों के रूप में पूजा जाता है..क्या है कहां की महत्ता और कहां पर किस रुप में पूजे जाते हैं शिव

 मध्य प्रदेश के बड़वानी में दूषित खाना खाने से 300 बीमार  
समाचार

मध्य प्रदेश के बड़वानी में दूषित खाना खाने से 300 बीमार  

मध्य प्रदेश बड़वानी जिले में महाशिवरात्रि के पर्व पर आयोजित सामूहिक भोज में खाना खाने के बाद 300 लोगों की तबीयत बिगड़ गई। उन्हें उल्टियां हुईं। सभी को जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है।

आप अपनी राशि के अनुसार ऐसे कर सकते हैं भगवान शिव का अभिषेक 
समाचार

आप अपनी राशि के अनुसार ऐसे कर सकते हैं भगवान शिव का अभिषेक 

आज से महाशिवरात्रि का महापर्व पूरे देश में मनाया जा रहा है और कल भी देश के अधिकांश भाग में धूमधाम से मनाया जाएगा। वैसे तो महाशिवरात्रि के व्रत को अमोघ फल देने वाला होता है और इस दिन शिव यानि बाबा भोलेनाथ, शिवशंकर, शिवशम्भू, शिवजी, नीलकंठ और रूद्र आदि नाम से भगवान शंकर की पूजा की जाती है। इन्हें हिंदुओं का शीर्ष देवता कहा जा ता है और इसील‌िए वे देवों के देव महादेव कहे जाते हैं।

महाशिवरात्रि के पूजन में क्या करें और क्या न करें शिवभक्त 
समाचार

महाशिवरात्रि के पूजन में क्या करें और क्या न करें शिवभक्त 

भारतीय धर्मशास्त्रों की मान्यता और प्राचीन भारतीय परंपरा के अनुसार फाल्गुन मास की चतुर्दशी के दिन आने वाली शिवरात्रि को महाशिवरात्रि के रूप मनाया जाता है। ऐसी मान्यता है कि आज के ही दिन पार्वती जी भगवान शिव को अर्धांगिनी के रुप में मिलीं थी अर्थात् आज के ही दिन भगवान भोलेनाथ का विवाह मां पार्वती के साथ हुआ था।