Wed Jan 29, 2020 Telugu English E-Paper Education
ब्रेकिंग न्यूज़
राजस्थान के सीकर में शाहीन बाग की तरह प्रदर्शन, 3 दिनों से धरने पर बैठी हैं महिलाएं
बोडो समझौते के बाद 7 फरवरी को गुवाहाटी में समारोह, पीएम मोदी, अमित शाह हो सकते हैं शामिल
भारत-न्यूजीलैंड के बीच हैमिल्टन में तीसरा टी-20 मैच आज, सीरीज जीतना चाहेगी टीम इंडिया
शाहीन बाग में प्रदर्शन स्थल पर हथियार के साथ नजर आया व्यक्ति, आंदोलनकारियों को दी धमकी
देशद्रोहियों की सात पुश्तें भी असम को हिन्दुस्तान से अलग नहीं कर सकतीं : अमित शाह

`Dhyan Chand` से सम्बंधित परिणाम

ऐसी थी ध्यानचंद की देशभक्ति, हिटलर का भी ठुकरा दिया था बहुत बड़ा ऑफर 
अन्य खेल

ऐसी थी ध्यानचंद की देशभक्ति, हिटलर का भी ठुकरा दिया था बहुत बड़ा ऑफर 

देश के लिए कुछ कर गुजरने का दावा करने वालों के लिए मेजर ध्यानचंद एक मिसाल हैं। देशभक्ति का जज्बा उनके अंदर इतना था कि जर्मनी के तानाशाह हिटलर को भी उन्होंने न कह दिया था। हिटलर के प्रस्ताव को ठुकराने के लिए विशेष तौर पर उन्हें याद किया जाता है। तीन दिसंबर को उनकी पुण्यतिथि है, इस मौके पर जानते हैं उनसे जुड़ा यह दिलचस्प वाकया।

ध्यानचंद की पुण्यतिथि : खिलाड़ियों का होना चाहिए एकमात्र लक्ष्य सर्वश्रेष्ठ तथा ऐतिहासिक प्रदर्शन
संपादक की पसंद

ध्यानचंद की पुण्यतिथि : खिलाड़ियों का होना चाहिए एकमात्र लक्ष्य सर्वश्रेष्ठ तथा ऐतिहासिक प्रदर्शन

हाकी के सर्वश्रेष्ठ सितारे मेजर ध्यानचंद की 3 दिसंबर 1979 में मृत्यु बीमारी के कारण हो गयी थी। हम इस महान खिलाड़ी की पुण्य तिथि पर सभी देशवासियों की तरफ से शत शत नमन करते है।

 ध्यानचंद की वो बातें, जिसने उन्हें बनाया हॉकी का जादूगर और सबसे बड़ा ‘खेल रत्न’ 
संपादक की पसंद

ध्यानचंद की वो बातें, जिसने उन्हें बनाया हॉकी का जादूगर और सबसे बड़ा ‘खेल रत्न’ 

ध्यानचंद को खेल जगत की दुनिया में ‘दद्दा’ कहकर पुकारते हैं। उनके जन्मदिन को राष्ट्रीय खेल दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसी दिन सर्वोच्च खेल सम्मान राजीव गांधी खेल रत्न के अलावा अर्जुन, ध्यानचंद पुरस्कार और द्रोणाचार्य पुरस्कार आदि दिए जाते हैं।