कोलकाता : इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण के अपने पहले मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम रविवार को अपने नए कप्तान दिनेश कार्तिक की अगुवाई में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर का सामना करेगी। कोलकाता विराट कोहली की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ अपने घर ईडन गार्डेन स्टेडियम में यह मुकाबला खेलेगी। एक अन्य मुकाबले में दिल्ली की भिड़ंत पंजाब से है।

कार्तिक के लिए यह आईपीएल किसी परीक्षा से कम नहीं है। वह भी जानते हैं कि उनके ऊपर कितनी बड़ी जिम्मेदारी है। कोलकाता को हालांकि लीग की शुरुआत से पहले ही बड़ा झटका लग चुका है। आस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क चोट के कारण कोलकाता के लिए इस सीजन में नहीं खेल पाएंगे। उनकी गैरमौजूदगी में उनके हमवतन मिशेल जॉनसन पर टीम की गेंदबाजी का भार होगा।

स्टार्क की जगह टीम प्रबंधन ने इंग्लैंड के टॉम कुरेन को टीम में शामिल किया है। उनके आने से टीम की गेंदबाजी को धार मिली है। वहीं भारत को अंडर-19 विश्व कप में जीत दिलाने वाले कमलेश नागरकोटी और शिवम मावी इस बार कोलकाता के साथ आईपीएल पदार्पण कर रहे हैं। वहीं स्पिन विभाग में कुलदीप यादव, पीयूष चावला और वेस्टइंडीज के सुनील नरेन हैं।

बल्लेबाजी में टीम के पास क्रिस लिन जैसा तूफानी बल्लेबाज है। शीर्ष क्रम में लिन और टीम के उप-कप्तान रोबिन उथप्पा पर बड़ी जिम्मेदारी है। पिछली बार कोलकाता ने सभी को चौंकाते हुए कुछ मैचों में नरेन को पारी की शुरुआत करने के लिए भेजा था और उसका यह दांव काफी हद तक सफल भी रहा था। इस बार ऐसा फिर देखने को मिले तो अचरच नहीं है।

शीर्ष क्रम में युवा बल्लेबाज शुभमन गिल के लिए अपने आप को साबित करने का अच्छा मौका है। कोलकाता के पास आंद्रे रसेल जैसा हरफनमौला खिलाड़ी भी है। वहीं अभी तक खिताब से महरूम रहने वाली बेंगलोर की टीम में कोहली, अब्राहम डिविलियर्स, युजवेंद्र चहल और सरफराज खान जैसे खिलाड़ी हैं।

टी-20 का बड़ा नाम न्यूजीलैंड के ब्रेंडन मैक्कलम, दक्षिण अफ्रीका के क्विंटन डी कॉक, इंग्लैंड के हरफनमौला खिलाड़ी क्रिस वोक्स, मोइन अली और न्यूजीलैंड के हरफनमौला खिलाड़ी कोरी एंडरसन, कोलिन डी ग्रांडहोम भी इस टीम को हिस्सा है। गेंदबाजी में टीम के पास टिम साउदी, उमेश यादव, मोहम्मद सिराज जैसे खिलाड़ी हैं। स्पिन में चहल का साथ देने के लिए ऑफ स्पिनर वॉशिंगटन सुंदर भी टीम में हैं।

यह भी पढ़ें :

भुवनेश्वर बोले : दोबारा बनना है चैंपियन, इसलिए इन बातों पर देंगे ध्यान

IPL-11 : जोश से भरी सनराइजर्स हैदराबाद ने ऐसे किया नए खिलाड़ियों का स्वागत

IPL 2018 का शानदार आगाज : ऋतिक, जैकलिन के साथ बॉलीवुड के सितारों ने बिखेरा जलवा

पहली भिड़ंत के लिए तैयार दिल्ली, पंजाब

आज होने वाले दिल्ली डेयरडेविल्स और किंग्स इलेवन पंजाब अपने पहले मुकाबले में जीत के साथ टूर्नामेंट का आगाज करना चाहेंगी। दिल्ली और पंजाब की टीमें लीग के इतिहास में अब तक एक बार भी चैंपियन नहीं बनी हैं। हालांकि, इस बार दोनों टीमें अपने नए कप्तानों के साथ टूर्नामेंट में उतरी हैं और दोनों कप्तानों ने अपनी-अपनी टीम को चैम्पियन भी बनाने का वादा किया है।

दिल्ली की टीम जहां गौतम गंभीर की अगुवाई में, तो वहीं पंजाब की टीम अपने नए कप्तान रविचंद्रन अश्विन की अगुवाई में मैदान में उतरकर जीत के साथ टूर्नामेंट की शुरुआत करना चाहेगी। मेजबान पंजाब को अपने विस्फोटक बल्लेबाज क्रिस गेल से इस बार धुआंधार शुरुआत की उम्मीद होगी। गेल, मयंक अग्रवाल के साथ पारी का आगाज कर सकते हैं।

इसके अलावा टीम के सबसे अनुभवी बल्लेबाज लोकेश राहुल, युवराज सिंह, डेविड मिलर, मार्कस स्टोयनिस और अक्षर पटेल टीम की बल्लेबाजी को मजबूती दे सकते हैं। गेंदबाजी में कप्तान अश्विन पर काफी दारोमदार होगा। दूसरी तरफ, दिल्ली की टीम कोलकाता को दो बार चैंपियन बनाने वाले गंभीर के अनुभव से इस बार कुछ नया कर सकती है।

बल्लेबाजी में गंभीर, कोलिन मुनरो के साथ ओपनिंग कर सकते हैं जबकि ऋषभ पंत, श्रेयस अय्यर और विस्फोटक बल्लेबाज ग्लैन मैक्सवेल दिल्ली की बल्लेबाजी को मजबूती देंगे। आलराउंडर विजय शंकर और क्रिस मोरिस भी अपनी अहम भूमिका निभा सकते हैं।

गेंदबाजी में अमित मिश्रा और शाहबाज नदीम के अलावा ट्रेंट बोल्ट युवा गेंदबाजों के साथ मिलकर पंजाब के बल्लेबाजों की चुनौती को रोक सकते हैं। पंजाब और दिल्ली ने अबतक कुल 20 मुकाबले खेले हैं, जिसमें पंजाब ने 11 और दिल्ली ने नौ मैच जीते हैं।