तेलंगाना में गोलीबारी के लिए इस्तेमाल की गई AK 47 थाने से चुराई गई थी : एन श्वेता

कॉन्सेप्ट फोटो सोशल मीडिया के सौजन्य से - Sakshi Samachar

हैदराबाद : तेलंगाना के सिद्दीपेट में एक व्यक्ति द्वारा हाल में अपने पड़ोसी के घर पर गोलीबारी करने के लिए इस्तेमाल की गई एके-47 राइफल को लगभग तीन वर्ष पहले एक पुलिस थाने से कथित तौर पर चुराया गया था। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

सिद्दीपेट पुलिस आयुक्त (प्रभारी) एन श्वेता ने पत्रकारों को बताया कि पूछताछ के दौरान आरोपी ने पुलिस को बताया कि उसने 13 मार्च, 2017 की तड़के सिद्दीपेट में पुलिस थाने से एके-47 और एक कार्बन राइफल चोरी की थी। उन्होंने बताया कि हुसनाबाद थाने में ड्यूटी पर रहे पुलिसकर्मियों की ‘लापरवाही' पर उच्च अधिकारियों को एक विस्तृत रिपोर्ट सौंपी जायेगी। इसी थाने से ये हथियार चुराये गये थे।

अक्कानापेट गांव में एक मजदूर देवुनी सदनदाम ने गत छह फरवरी को एक मामूली बात को लेकर अपने पड़ोसी के घर पर एके-47 से कथित तौर पर गोलीबारी की थी लेकिन इसमें कोई घायल नहीं हुआ था और गोलियां एक दीवार में लगी थी। इसके बाद वह मौके से फरार हो गया था।

यह भी पढ़ें :

मुंगेर की धरती उगल रही AK-47, अवैध हथियारों के लिए कुख्यात है इलाका

अपराधियों के आगे ‘सरकार’ ने जोड़े हाथ, पुलिस से ज्यादा बदमाशों के पास AK-47 होने का दावा

हैदराबाद में पुलिस कॉन्स्टेबल ने किया एके 47 से आत्महत्या का प्रयास

पुलिस ने बाद में उसे गिरफ्तार कर लिया था और उसके घर से एके-47 और एक कार्बन राइफल बरामद की थी। पुलिस ने इस सिलसिले में हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया था।

आपको बता दें कि गत 7 फरवरी को तेलंगाना के सिद्दिपेट जिले में एक युवक ने एके-47 बंदूक से फायरिंग की। जिले के अक्कन्नापेट गांव में सदानंदम नामक युवक ने बगल के मकान वालों पर एके-47 बंदूक से फायरिंग की। फायरिंग करने के बाद युवक फरार हो गया है। इस घटना के चलते इलाके में सनसनी फैल गई है।

घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई है। पुलिस ने बताया कि दोनों परिवारों के बीच कुछ समय से झगड़ा चल रहा था। इसी बीच युवक ने एके-47 बंदूक से फायरिंग की है।

Advertisement
Back to Top