हैदराबाद : पब्लिक रिलेशन सोसाइटी ऑफ इंडिया (पीआरसीआई) की ओर से आयोजित 41वाँ अखिल भारतीय जन-संपर्क सम्मेलन-2019 का उद्घाटन तेलंगाना के गृहमंत्री मोहम्मद महमूद अली ने किया। यह सम्मेलन रविवार को भी जारी रहेगा। इस अवसर पर मुख्य अतिथि भाषण में उपमुख्यमंत्री ने कहा कि कार्पेोरेट संस्थाएं सामाजिक जिम्मेदारी पर अधिक ध्यान देते हुए जन-संपर्क का दायरा और बढ़ाये।

उन्होंने आगे कहा कि सरकार की ओर से अमल में लाये जा रहे कल्याणकारी कार्यक्रमों के साथ साथ कार्पोरेट संस्थाएं भी सामाजिक जिम्मेदारी के साथ सेवा कार्यक्रम चलाये। सेवा कार्यक्रम किये जाने के कारण लोगों की जीवनशैली में बहुत बढ़ा परिवर्तन आएगा। उपमुख्यमंत्री ने सामाजिक सेवाएं कर रहे संस्थाओं की पहचान करके उन्हें प्रोत्साहित करने वाली पीआरएसआई बधाई दी।

सम्मेलन को संबोधित करते हुए डॉ ़डोबाल और डॉ विक्रमन 
सम्मेलन को संबोधित करते हुए डॉ ़डोबाल और डॉ विक्रमन 

इस कार्यक्रम में सरकार के सलाहकार केवी रमणाचारी ने आह्वान किया कि गरीबों की मदद करने के लिए हर संस्था को आगे आना चाहिए। इस दौरान पीआरएसआई की ओर से राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित प्रतिस्पर्धाओं के विजेताओं को मंत्री मोहम्मद अली और सलाहकार रमणाचारी ने पुरस्कार प्रदान किये।

यह भी पढ़ें :

डॉ. वेणुगोपाल रेड्डी PRSI हैदराबाद चैप्टर के अध्यक्ष चुने गए

PRSI हैदराबाद चैप्टर के अध्यक्ष डॉ वेणुगोपाल रेड्डी को मिला राष्ट्रीय पुरस्कार

पब्लिक रिलेशन सोसाइटी ऑफ इंडिया हैदराबाद ने दिया इस आवश्यकता पर दिया बल

दूसरे दिन में सम्मेलन में डॉ डानियल, डॉ डोबाल, डॉ विक्रमन और अन्य वक्ताओं ने अपने-अपने क्षेत्र में किये जा रहे सेवा कार्यक्रमों की जानकारी दी। साथ ही उनके संस्थाओं द्वारा किये जा रहे कार्यक्रमों से जुड़ी जानकारी दी और इसकी लघु फिल्म भी प्रदर्शित की। जिसका उपस्थित दर्शकों ने तालियों के साथ लघु फिल्मों का स्वागत किया।

सदस्यों से खचाखच भरा सभागार
सदस्यों से खचाखच भरा सभागार

इस कार्यक्रम में देश भर के लगभग 400 प्रतिनिधि भाग ले रहे हैं। इनमें केंद्र और राज्य सरकारी संगठन के जन-संपर्क अधिकारी, विश्वविद्याल, पीआर एजेंसी, कार्पोरेट कम्युनिकेशन विभागों के प्रतिनिधि और अन्य भाग ले रहे है। इस अवसर पर पीआरएसआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजित पाठक, चैप्टर चैयरमैन डॉ पी वेणुगोपाल रेड्डी, महासचिव विवेदिता बनर्जी, दक्षिण क्षेत्र के उपाध्यक्ष यूएस शर्मा, सचिव पी मोहन राव, बाबजी, डॉ सीवी नरसिम्हा रेड्डी, डॉ जे चेन्नय्या, यादगिरी, प्रेम कुमार, याकेश, प्रवीण, जयपाल रेड्डी और अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।