हैदराबाद : दिशा गैंगरेप एवं मर्डर के चारों आरोपियों का हैदराबाद पुलिस ने शुक्रवार को एनकाउंटर कर दिया था। अब यह पूरा मामला कोर्ट तक जा पहुंचा है। सुप्रीम कोर्ट में इस मामले से जुड़ी एक याचिका दायर की गई है।

आरोपियों के एनकाउंटर में शामिल रहे पुलिसकर्मियों के खिलाफ एफआईआर, जांच और कार्रवाई की मांग करने के लिए सुप्रीम कोर्ट में शनिवार को यह याचिका दायर की गई है। इसके अलावा कई सामाजिक संगठनों ने भी एनकाउंटर की जांच की मांग की है।

शुक्रवार को राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग (एनएचआरसी) ने मुठभेड़ की घटना का स्वत: संज्ञान लिया। आयोग ने मामले का संज्ञान मीडिया रिपोर्ट के आधार पर लिया।

आयोग ने एक बयान में कहा, "रिपोर्ट के अनुसार, सभी चारों आरोपियों को हैदराबाद से करीब 60 किलोमीटर दूर अपराध स्थल पर घटना के 'रिक्रिएशन' के लिए ले जाया गया। ऐसा जांच के हिस्से के तौर पर किया गया।"

आयोग ने कहा कि पुलिस वर्जन के अनुसार, आरोपियों में एक ने दूसरों को भागने का संकेत दिया और इस प्रक्रिया में उन्होंने पुलिस कर्मियों से हथियार छीनने की कोशिश की। इस पर पुलिस ने उन पर गोलीबारी की और वे कथित तौर पर क्रॉस फायरिंग में मारे गए।

यह भी पढ़ें :

दिशा के गुनहगारों को पुलिस ने मुठभेड़ में किया ढेर, देखें Video

हैदराबाद एनकाउंटर : इस शख्स ने एक हफ्ते पहले ही ट्वीट कर बता दिया था पुलिस को पूरा प्लान !

आयोग ने कहा कि इस मामले की बहुत सावधानीपूर्वक जांच की जरूरत है और अपने महानिदेशक (जांच) को इस मामले में तुंरत एक टीम फैक्ट फाइंडिंग के लिए भेजने को कहा। एनएचआरसी ने कहा, "एक एसएसपी की अगुवाई में आयोग के जांच विभाग का एक दल के तुरंत रवाना होने और जल्द से जल्द रिपोर्ट देने की उम्मीद है।