अमरावती : आंध्र प्रदेश की महिला एवं शिशु कल्याण मंत्री तानेटी वनिता ने कहा कि तेलंगाना में लोग सही मायने में आज दिपावली मना रहे हैं। राष्ट्रीय स्तर पर सनसनी फैलानेवाले दिशा रेप और हत्या मामले में सीन रिक्रीएशन के दौरान आरोपियों ने पुलिस पर हमला कर फरार होने का प्रयास किया। इस बीच पुलिस ने एकाउंटर किया। एनकाउंटर में मामले के चारों आरोपी मारे गये। इस घटना घटना से उन्हें बहुत खुशी हुई।

शुक्रवार की सुबह उन आरोपियों का एनकाउंटर होने से लोगों में खुशी की लहर दौड़ गई है। तेलंगाना पुलिस द्वारा लिया गया निर्णय प्रशंसनीय है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2012 में निर्भया घटना के बाद पोक्सो कानून लागू किया गया लेकिन उसे कारगर रूप से अमल में नहीं लाया गया। इसलिए उस तरह की घटना की पुनरावृत्ती हुई।

No post found for this url

मंत्री वनिता ने कहा कि निर्भया का आरोपी अभी भी जेल में है। इस तरह के आरोपियों को मौत की सजा देने की मांग राष्ट्रीय स्तर पर हो रही है। उन्होंने कहा कि दिशा मामले में आरोपियों की ओर कोई वकील सामने नहीं आया।

इसे भी पढ़ें :

दिशा केस के चारों आरोपी पुलिस एनकाउंटर में ढेर, भागने की कर रहे थे कोशिश

दिशा मामले में एनकाउंटर हुये आरोपियों का पोस्टमार्टेम मौके पर ही

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने इस तरह की घटना की पुनरावृत्ती न हो, इसलिए कारगर कदम उठाये हैं। वनिता ने कहा कि महिला को प्रताड़ित करनेवालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।