पुलिस ने चटानपल्ली में आत्मरक्षा के तहत कार्रवाई करते हुए मौके से फरार होने की कोशिश में जुटे चारों आरोपियों की मुठभेड़ में मार गिराया। साइबराबाद के पुलिस आयुक्त वीसी सज्जनार के मुताबिक मामले में आरोपी नंबर-1 मोहम्मद आरिफ और आरोपी नंबर -4 चिंता केशवलु ने पुलिस से हथियार छीनने की कोशिश करने के अलावा पत्थरों व लाठियों से हमला करने का प्रयास किया। 
पुलिस ने चटानपल्ली में आत्मरक्षा के तहत कार्रवाई करते हुए मौके से फरार होने की कोशिश में जुटे चारों आरोपियों की मुठभेड़ में मार गिराया। साइबराबाद के पुलिस आयुक्त वीसी सज्जनार के मुताबिक मामले में आरोपी नंबर-1 मोहम्मद आरिफ और आरोपी नंबर -4 चिंता केशवलु ने पुलिस से हथियार छीनने की कोशिश करने के अलावा पत्थरों व लाठियों से हमला करने का प्रयास किया। 
दिशा हत्या मामले में आरोपियों के मुठभेड़ में मारे जाने की खबर न केवल हैदराबाद बल्की पूरे देश में फैल गई। गौरतलब है कि 30 तारीख को जब पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार कर अदालत में पेश करने जा रही थी तब लोगों ने उनपर हमला करने का प्रयास किया था और पुलिस को लाठीचार्ज तक करना पड़ा था। हालांकि बाद में पुलिस ने चारों आरोपियों को चेर्लापल्ली मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया और अदालत ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था।
दिशा हत्या मामले में आरोपियों के मुठभेड़ में मारे जाने की खबर न केवल हैदराबाद बल्की पूरे देश में फैल गई। गौरतलब है कि 30 तारीख को जब पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार कर अदालत में पेश करने जा रही थी तब लोगों ने उनपर हमला करने का प्रयास किया था और पुलिस को लाठीचार्ज तक करना पड़ा था। हालांकि बाद में पुलिस ने चारों आरोपियों को चेर्लापल्ली मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया और अदालत ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था।
मुठभेड़ के बाद पूरे शादनगर में लोगों का हुजूम देखने को मिला। दिशा के हत्यारों के मारे जाने की खबर मिलने के तुरंत बाद लोगों का बड़ी संख्या में पहुंचना शुरू हो गया। फलस्वरूप राष्ट्रीय राजमार्ग 44 पर वाहनों का यातायात प्रभावित हुआ। 
मुठभेड़ के बाद पूरे शादनगर में लोगों का हुजूम देखने को मिला। दिशा के हत्यारों के मारे जाने की खबर मिलने के तुरंत बाद लोगों का बड़ी संख्या में पहुंचना शुरू हो गया। फलस्वरूप राष्ट्रीय राजमार्ग 44 पर वाहनों का यातायात प्रभावित हुआ। 
मामले की जांच के तहत पुलिस ने अदालत से चारों आरोपियों को 10 दिन के लिए अपनी हिरासत में लिया था। 4 और 5 दिसंबर को पूछताछ के बाद पुलिस सीन रिक्रिएशन के लिए आरोपियों को शुक्रवार सुबह 5.30 बजे शादनगर स्थित चटानपल्ली ले गई, जहां आरोपियों ने दिशा का बलात्कार के बाद हत्या कर लाश को जलाया था। पुलिस ने आरोपियों से मिली सूचना के आधार पर घटनास्थल से दिशा का सेलफोन, पॉवरबैंक और घड़ी बरामद की। 
मामले की जांच के तहत पुलिस ने अदालत से चारों आरोपियों को 10 दिन के लिए अपनी हिरासत में लिया था। 4 और 5 दिसंबर को पूछताछ के बाद पुलिस सीन रिक्रिएशन के लिए आरोपियों को शुक्रवार सुबह 5.30 बजे शादनगर स्थित चटानपल्ली ले गई, जहां आरोपियों ने दिशा का बलात्कार के बाद हत्या कर लाश को जलाया था। पुलिस ने आरोपियों से मिली सूचना के आधार पर घटनास्थल से दिशा का सेलफोन, पॉवरबैंक और घड़ी बरामद की। 
पूछताछ के दौरान आरोपी मोहम्मद आरिफ और चिंताकुंटा केशवलु ने पुलिसकर्मियो के हथियार छीनकर फरार होने की कोशिश की। इसी के तहत बाकी आरोपी वहां से फरार होने लगे। तभी पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए चारों आरोपियों को मार गिराया। आरोपियों के मारे जाने के लोग पटाखे जलाकर खुशी मना रहे हैं। 
पूछताछ के दौरान आरोपी मोहम्मद आरिफ और चिंताकुंटा केशवलु ने पुलिसकर्मियो के हथियार छीनकर फरार होने की कोशिश की। इसी के तहत बाकी आरोपी वहां से फरार होने लगे। तभी पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए चारों आरोपियों को मार गिराया। आरोपियों के मारे जाने के लोग पटाखे जलाकर खुशी मना रहे हैं। 
दिशा के हत्यारों के मुठभेड़ में मारे जाने की खुशी में एक-दूसरे को मिठाई खिलाकर खुशियां मनाती हुईं महिलाएं । आरोपियों के मुठभेड़ मेें मारे जाने को लेकर न केवल हैदराबाब और तेलंगाना बल्कि पूरे देश में महिलाएं खुशी जाहिर कर रही हैं।
दिशा के हत्यारों के मुठभेड़ में मारे जाने की खुशी में एक-दूसरे को मिठाई खिलाकर खुशियां मनाती हुईं महिलाएं । आरोपियों के मुठभेड़ मेें मारे जाने को लेकर न केवल हैदराबाब और तेलंगाना बल्कि पूरे देश में महिलाएं खुशी जाहिर कर रही हैं।