हैदराबाद : देश को हिलाकर रख देने वाले हैदराबाद के दिशा गैंगरेप और मर्डर के चारों आरोपियों का पुलिस ने शादनगर के पास एनकाउंटर कर दिया है। बताया जा रहा है कि आरोपी भागने का प्रयास कर रहे थे। पुलिस आरोपियों को लेकर घटना स्थल पर गई थी और वहां उनसे पूछताछ कर रही थी।

बताया जा रहा है कि पूछताछ के दौरान आरोपियों ने भागने का प्रयास किया। पुलिस ने रोकने की कोशिश की। बाद में पुलिस ने उनका एनकाउंटर कर दिया। घटनास्थल पर पुलिस के आलाधिकारी मौजूद हैं। साइबराबाद सीपी सज्जनार ने घटनास्थल का निरीक्षण किया है।

जानकारी के अनुसार, नेशनल हाईवे 44 पर क्राइम सीन रीक्रियेट करने के लिए पुलिस इन आरोपियों को ले गई थी। वहां से चारों आरोपी भागने की कोशिश करने लगे। तभी पुलिस ने इन चारों को ढेर कर दिया। यह घटना सुबह करीब 3.30 बजे की है।

मुठभेड़ में मारे गए चार अभियुक्तों की पहचान लॉरी चालक मोहम्मद आरिफ (26) और चिंताकुंटा चेन्नाकेशवुलु (20) और लॉरी क्लीनर जोलू शिवा (20) और जोलू नवीन (20) के रूप में हुई है। सभी तेलंगाना के नारायणपेट जिले के रहने वाले थे।

आपको बता दें चार दिसंबर (बुधवार) को इन सभी आरोपियों को न्यायिक हिरासत से पुलिस हिरासत में पूछताछ के लिए भेज दिया गया था। पुलिस ने बताया कि उन्हें बेहद गोपनीय तरीके से सीन रीक्रिएट करने के लिए ले जाया गया था। वहां पर आरोपियों ने पुलिस पर पथराव किया और हथियार छीनने का प्रयास किया था।

यह भी पढ़ें :

निर्भया कांड के बाद ये 5 बलात्कार के बड़े मामले, जिसने सबको दहलाया

संसद तक पहुंची हैदराबाद की ‘दिशा’ की चीख, बीच चौराहे रेपिस्ट को लटकाने की उठी मांग

पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि इस मुठभेड़ में दो पुलिसकर्मी घायल भी हुए हैं। आरोपियों ने मौके से भागने की कोशिश की थी। आरोपियों को हथकड़ी नहीं लगाई गई थी। भागने के दौरान पुलिस ने उन्हें मना किया, लेकिन वह नहीं माने। इसके बाद पुलिस ने फायरिंग की।