प्रियंका रेड्डी की कहानी प्रोफेसर की जुबानी 

डिजाइन फोटो  - Sakshi Samachar

हैदराबाद : गैंगरेप के बाद निर्मम हत्या की शिकार हुईं प्रियंका रेड्डी प्रतिभाशाली थी और वह शिक्षा के साथ सामाजिक समस्याओं पर समय-समय पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करती थी। पीवी नरसिम्हा राव वेटरनरी यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर रामसिंह ने बताया कि प्रियंका रेड्डी ने उनकी यूनिवर्सिटी में पढ़ाई की थी।

उन्होंने बताया कि 2017 में आखिरी स्नातकोत्सव के दौरान प्रियंका ने उन्हें जॉब मिलने की खबर दी थी। प्रियंका ने तेलंगाना लोक सेवा आयोग के जरिए मैरिट जॉब हासिल की थी।

उन्होंने बताया कि प्रियंका जब यूनिवर्सिटी में पढ़ रही थी तब उन्हें हास्टल का खाना और पानी नहीं जजता था तो वह बुद्वेल में अपनी मां के पास रहकर पढ़ाई की। कॉलेज में प्रियंका काफी प्रतिभावान छात्र थी और कैंपस में किसी भी तरह की समस्या पैदा होने पर वह भी सभी के साथ मिलकर उसे सुलझाया करती थी।

इसे भी पढ़ें :

प्रियंका के हत्यारों को फांसी देने के लिए लोगों का आंदोलन, जेल के पास बढ़ाई गई सुरक्षा

प्रियंका रेड्डी हत्याकांड पर सोशल मीडिया में अभद्र पोस्ट करने वालों के खिलाफ मामले दर्ज

उन्होंने कहा कि प्रियंका बहुत ही संवेदनशील थी और वह अपने काम से मतलब रखती थी और किसी के मामले में कभी हस्तक्षेप नहीं करती थी। उन्होंने कहा कि प्रियंका जैसी मासूम युवती का रेप करने वालों को कड़ी से कड़ी सजा देनी चाहिए।

Advertisement
Back to Top