हैदराबाद : मुख्यमंत्री केसीआर ने आरटीसी कर्मचारियों को हड़ताल की अवधि (52 दिवस) का वेतन भी देने का भरोसा दिया। साथ ही उन्होंने आरटीसी कर्मचारी की सेवानिवृत्ती की आयुसीमा 60 वर्ष तक बढाने का निर्णय लिया।

सीएम केसीआर ने आरटीसी महिला कर्मचारियों को विशेष सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। उन्होंने अधिकारियों को इस संदर्भ में निर्देश दिये। सीएम ने कहा कि आरटीसी का लाभांश बढ़ाया जाता है तो उन्हें सिंगरेनी की तर्ज पर बोनस दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री केसीआर ने कहा कि महिला कर्मचारियों की हर समस्या का समाधान करने के लिए मॉनिटरिंग सेल बनाया जाएगा। इसके लिए सीएम ने अधिकारियों को आदेश दिये। महिला कर्मचारी की ड्यूटी रात 8 बजे तक रखने पर ध्यान दिया जाएगा। महिला कर्मचारियों के प्रसुति अवकाश को बढ़ाया जाएगा। सीएम ने कहा कि यात्री टिकट नहीं लेता है तो उसकी जिम्मेदारी अब कर्मचारी पर नहीं होगी बल्कि यात्री पर ही होगी।

इसे भी पढ़ें :

RTC संगठन के नेताओं की रिलीफ डयूटी रद्द, टीएमयू कार्यालय पर लगा ताला

ड्यूटी पर लौट आ रहे हैं आरटीसी के कर्मचारी, सभी के चेहरे पर खुशियां ही खुशियां

सीएम केसीआर ने रविवार को प्रगति भवन में आरटीसी कर्मचारियों के साथ बैठक आयोजित की। उन्हें भरोसा दिया। बैठक में राज्य के 97 बस डिपो के लगभग 750 आरटीसी कर्मचारी उपस्थित थे। उन्होंने कहा कि आरटीसी कर्मचारियों का सितंबर का लंबित वेतन देने का अधिकारियों को आदेश दिया।