हैदराबाद : तेलंगाना में आरटीसी हड़ताल के दौरान कर्मचारियों की मौत को सरकार के जिम्मेदार ठहराते हुए दायर की गई याचिका पर हाई कोर्ट में सुनवाई हुई। सुनवाई की अदालत ने पूछा कि तेलंगाना सरकार के रवैये से ही आरटीसी कर्मचारियों की जाने गई, इसके लिए क्या आधार है? किसी व्यक्ति का दिल का दौरा पड़ने से मौत होती है तो उसके अलग अलग कारण हैं।

अदालत ने कहा कि तेलंगाना सरकार ने किसी भी कर्मचारी नौकरी निकालने की अधिकृत घोषणा नहीं की। फिर इन हालातों में कर्मचारियों ने ऐसे कैसे समझ लिया कि उन्हें नौकरी से हटाया गया है। अदालत ने कहा कि हड़ताल की घोषणा करनेवाले यूनियन के नेता इसकी जिम्मेदारी ले।

इसे भी पढ़ें :

TSRTC हड़ताल: एक और मौत, अब तक 30 से ज्यादा कर्मचारियों की गई जान

TSRTC का नामो निशान मिटाने पर आमादा KCR, गुरुवार को कैबिनेट में होगा अंतिम फैसला