TSRTC Strike : कर्मचारियों को भिखारिन ने की वित्तीय सहायता, इस पूर्व MLA ने भी दिये चावल 

भिखारिन सैदम्मा आरटीसी संयोजक को रकम सौंपते हुए  - Sakshi Samachar

हैदराबाद : तेलंगाना के मिर्यालगुडा बस स्टैंड में भीख मांगकर जीने वाली भिखारिन सैदम्मा ने आरटीसी कर्मचारियों को वित्तीय सहायता की। पिछले 45 दिनों से हड़ताल कर रहे कर्मचारियों की दयनीय हालत को देखकर वित्तीय सहायता करने का फैसला लिया।

इसी उद्देश्य से सैदम्मा ने 4,043 हजार रुपये दिये। उसने यह रकम नलगोंडा जेएसी के संयोजक श्रीनिवास को सौंपा। आरटीसी के पूर्व चेयरमैन और पूर्व विधायक सोमरपु सत्यनारायण ने भी एक क्विंटल चावल और रकम दी है।

इस अवसर पर सैदम्मा ने मीडिया से कहा, "मैं पिछले 30 सालों से मिर्यालगुडा बस स्टैंड में भीख मांगकर जीवन जी रही हूं। यहां लगभग सभी कर्मचारी मेरे परिचित है। वे इन दिनों भूखे सो रहे है। यह भी मुझसे देखा नहीं गया। इसीलिए मैं भीख मांगने से मिली 4,043 हजार रुपये की रकम जेसीए के संयोजक को सौंपी है।"

यह भी पढ़ें:

MRPS के नेता मंदा कृष्णा मादिगा गिरफ्तार, अश्वत्थामा रेड्डी का अनशन जारी और...

हड़ताल 45 दिन भी जारी

आपको बता दें कि आरटीसी की हड़ताल पिछले 45 दिनों से जारी है। इसके चलते लोगों को अनेक प्रकार की मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।

एक क्विंटल चावल

दूसरी ओर आरटीसी के पूर्व चेयरमैन व पूर्व विधायक सोमरपु सत्यनारायण ने हड़ताल कर रहे कर्मचारियों की सहायतार्थ 56 हजार रुपये और एक क्विंटल चावल आरटीसी कर्मचारियों को दी है।

अनशन जारी

इसी क्रम में आरटीसी जेएसी के संयोजक अश्वत्थामा रेड्डी का आमरण अनशन उस्मानिया अस्पताल में आज तीसरे दिन भी जारी है। साथ ही संतोषनगर डीआरडीए अस्पताल में भर्ती जेएसी के अन्य नेता राजी रेड्डी का भी अनशन जारी है।

Advertisement
Back to Top