हैदराबाद : तेलंगाना राज्य सड़क परिवहन निगम (टीएसआरटीसी) जेएसी के नेता राज्यपाल तमिलिसाई सौंदरराजन से भेंट की। जेएसी के संयोजक अश्वत्थामा रेड्डी के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मंडल सोमवार शाम को राज्यपाल से भेंटकर आरटीसी की हड़ताल पर हस्तक्षेप करने का आग्रह है।

नेताओं ने राज्यपाल को बताया कि हाईकोर्ट ने आदेश दिया कि वार्ता के लिए आरटीसी कर्मचारियों को बुलाये। मगर अब तक सरकार की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। सितंबर महीने का वेतन भी नहीं मिला है। इसके कारण कर्मचारियों को अनेक प्रकार की मुश्किलों का सामना करना पड़ा है।

इसके बाद नेताओं ने मीडिया को बताया कि राज्यपाल ने हिम्मत से रहने का आश्वासन दिया है। कल जुबली बस स्टेशन के पास वंटा-वार्पु का आयोजन किया जाएगा। हड़ताल आज 17वें दिन भी जारी रही है।

इसे भी पढ़ें :

TSRTC Strike: कर्मचारियों को वेतन देने के लिए नहीं हैं रकम, सुनवाई स्थगित

इससे पहले तेलंगाना हाईकोर्ट में आरटीसी कर्मचारियों की वेतन भुगतान को लेकर सोमवार को बहस हुई। बहस के दौरान महाधिवक्ता ने बताया कि टीएसआरटीसी के पास केवल 7.5 करोड़ रुपये हैं। आरटीसी कर्मचारियों के वेतन के लिए 224 करोड़ रुपये चाहिए। दोनों ओर की बहस सुनने के बाद हाईकोर्ट ने मामले की अगली सुनवाई 29 अक्टूबर तक स्थगित कर दी है।

इसे भी पढ़ें :

TSRTC Strike : सरकार की Wait and Watch की नीति, समस्या जस के तस

TSRTC Strike: 16वें दिन भी जारी, JAC ने घोषित की भविष्य आंदोलन की यह रूपरेखा