हैदराबाद : तेलंगाना राज्य सड़क परिवहन निगम (टीएसआरटीसी) कर्मचारियों की हड़ताल आज 16वें दिन भी जारी है। इसी क्रम में रविवार को टीएसआरटीसी कर्मचारी जेएसी ने आरटीसी हड़ताल को लेकर राजनीतिक जेएसी के साथ भेंट की। इस दौरान जारी हड़ताल को लेकर अनेक महत्वपूर्ण फैसले लिये गये।

जेएसी के संयोजक अश्वत्थामा रेड्डी ने मीडिया को बताया कि आरटीसी कर्मचारी जेएसी ने आज एक फिर राज्यपाल तमिलिसाई सौंदरराजन से मिलने का फैसला लिया है। राज्यपाल से मुलाकात के दौरान जारी हड़ताल पर हस्तक्षेप करने का आग्रह किया जाएगा। सोमवार को एक बार फिर आरटीसी जेएसी की बैठक होगी।

उन्होंने आगे कहा, “आरटीसी संपती की रक्षा करना ही हमारा लक्ष्य है। आरटीसी कर्मचारी हिम्मत नहीं हारे। जीत हासिल करने तक संघर्ष जारी रहेगा। आरटीसी और कर्मचारियों का उज्ज्वल भविष्य ही हमारा लक्ष्य है।”

इसे भी पढ़ें :

TSRTC Strike : सरकार की Wait and Watch की नीति, समस्या जस के तस

अश्वत्थामा रेड्डी ने कहा कि 21 अक्टूबर को सभी डिपो के सामने कर्मचारी परिवार के सदस्यों के साथ प्रदर्शन किया जाएगा। 22 को अस्थाई ड्राइवर और कंडक्टरों से ‘पेट न मारे’ का आग्रह किया जाएगा। 23 को नेताओं से मिलकर हड़ताल को समर्थन करने का आग्रह किया जाएगा। 24 को महिला कंडेक्टरों के साथ अनशन किया जाएगा। 25 को राष्ट्रीय राजमार्ग और अन्य मार्गों पर रास्ता रोको किया जाएगा।

इसे भी पढ़ें :

TSRTC Strike : तेलंगाना बंद का दिख रहा असर, कई नेता गिरफ्तार

TSRTC Strike : HC की तेलंगाना सरकार को फटकार, 3 दिन के भीतर हल निकालने का आदेश

उन्होंने बताया कि 26 को सरकार के मन में परिवर्तन ले आने के लिए कर्मचारियों के बच्चों के साथ अनशन किया जाएगा। 27 को दीपावली त्यौहार पर पैसे नहीं मिलने के विरोध में प्रदर्शन किया जाएगा। 28 को हाईकोर्ट में छुट्टी होने के कारण किसी प्रकार का प्रदर्शन नहीं होगा। आगामी 30 अक्टूबर को 5 लाख लोगों के साथ सार्वजिक हड़ताल किया जाएगा। सार्वजनिक हड़ताल मंच के स्थल को शीघ्र ही घोषित की जाएगी।