हैदराबाद: 'लेयर पॉल्ट्री फार्मर्स' की तरफ से हैदराबाद से सटे कंदुकुर मंडल हेडक्वार्टर में वर्ल्ड एग डे पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान अंडों की पोषण क्षमता और स्वास्थ्य के लिहाज से इसके महत्व पर चर्चा की गई। कार्यक्रम में मंडल स्तर के नेताओं के अलावा ग्राम सरपंच, पॉल्ट्री फार्मा कंपनीज के प्रतिनिधि और पशु चिकित्सकों ने प्रमुख रूप से हिस्सा लिया।

यह भी पढ़ें:

तेलंगाना में इस मुर्गी ने रचा अंडे देने का इतिहास, जानने के लिए पढ़ें खबर

कार्यक्रम में शरीक होने वालों में खास तौर पर एम ज्योति (MPP), बी ज्योति (MPTC) B Jyothi, ग्राम सरपंच एस शामंथका मणिमल्ला रेड्डी और पी वसंत, पूर्व सरपंच माधव रेड्डी सहित टी श्रीनिवास रेड्डी, एम श्रीकांत रेड्डी, पूरनचंदर रेड्डी, ई राम रेड्डी, गौरीशंकर, ख्वाजा मोइनुद्दीन शामिल रहे। वहीं इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने भी हिस्सा लिया।

World Egg Day पर हैदराबाद के कंदकूर में कार्यक्रम आयोजित 
World Egg Day पर हैदराबाद के कंदकूर में कार्यक्रम आयोजित 

आपको जानकर हैरानी होगी कि भारत में सालाना प्रति व्यक्ति महज 70 अंडों की खपत है। जबकि चीन में ये संख्या 300 है और जापान में 320 अंडे सालाना। मतलब ये कि औसत रूप से एक भारतीय चीनी या फिर जापानी के तुलना में अंडों का पांचवा हिस्सा ही ले पाते हैं। जिसे बढ़ाने की जरूरत है।

World Egg Day पर हैदराबाद के कंदकूर में कार्यक्रम आयोजित 
World Egg Day पर हैदराबाद के कंदकूर में कार्यक्रम आयोजित 

आयोजकों ने इस दौरान ग्रामीणों के बीच करीब पांच हजार अंडों का वितरण कंदकूर, कोटूर, कोथागुडेमस गुडूर और जैतवरम गांवों में किया। इस दौरान लोगों को समझाया गया कि बच्चों के विकास और गर्भवती महिलाओं के लिए अंडों का सेवन कितना जरूरी है। साथ ही मोटापा से परेशान व अधिक उम्र के बुजुर्गों के लिए भी अंडे काफी फायदेमंद साबित हो सकते हैं।

मरीजों के लिए अंडे जरूरी
मरीजों के लिए अंडे जरूरी