हैदराबाद : तेलंगाना की राज्यपाल तमिलसाई सुंदरराजन राज्य के लोगों से सीधा संवाद करने और उनकी शिकायतें सुनने के लिए ‘प्रजा दरबार' लगाने पर विचार कर रही हैं। हैदराबाद के पूर्व पार्षद और ‘मजलिस बचाओ तहरीक' के नेता अमजद उल्ला खान के आग्रह के जवाब में राज्यपाल ने कहा कि इस पर पहले से ही विचार किया जा रहा है।

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘परामर्श के लिए धन्यवाद। पहले से ही मेरे विचार में है।'' इससे पूर्व खान ने ट्वीट कर राज्यपाल से सप्ताह में कम से कम एक बार ‘प्रजा दरबार' लगाने का आग्रह किया था जिससे कि समस्या का सामना कर रहे आम लोग उनसे मिल सकें और अपनी शिकायतों से उन्हें अवगत करा सकें।

खान ने बताया कि उन्होंने राज्यपाल को पत्र लिखकर ‘जनता दरबार' लगाने का परामर्श दिया था जिस पर उन्होंने सकारात्मक जवाब दिया। पत्र में उन्होंने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव तक लोगों की पहुंच नहीं है और पिछले तीन साल से लोकायुक्त, उप लोकायुक्त, राज्य सूचना आयोग और राज्य मानवाधिकार आयोग की नियुक्ति नहीं हुई है।

इसे भी पढ़ें:

नोबेल शांति पुरस्कार के लिए पीएम नरेंद्र मोदी हो रहे नामित, तमिलनाडु से शुरू हुई मुहिम

फ्लाइट में मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी करने पर लड़की गिरफ्तार, स्टालिन ने कहा- मैं भी करूंगा ऐसा

उन्होंने राज्यपाल से सप्ताह में कम से कम एक बार ‘प्रजा दरबार' लगाने का आग्रह किया। तमिलनाडु से भाजपा नेता सुंदरराजन ने गत आठ सितंबर को तेलंगाना की राज्यपाल के रूप में कार्यभार संभाला था।