हैदराबाद : वह पत्नी को जान से भी ज्यादा चाहता है। उसके बिना उसकी जिंदगी अधूरी सी हो गई। मायके गई पत्नी को वापस बुलाने की सभी कोशिशे नाकाम हो गई। मगर उसकी पत्नी को उस पर दया नहीं आई। आखिर उसने आत्महत्या करने का फैसला लिया।

परेशान व्यक्ति गांव में बने पानी की टंकी पर चढ़ गया और गांव वालों को बताने लगा कि उसकी पत्नी वापस आने को तैयार नहीं है। कई बार समझाने के बावजूद वह वापस नहीं आ रही है।

पानी की टंकी पर से कूद पड़ा यादगिरी
पानी की टंकी पर से कूद पड़ा यादगिरी

व्यक्ति ने कहा, “मैं यह नहीं जानता हूं कि वह क्यों नहीं आ रही है। अगर वह नहीं आती है तो मेरे जीने का कोई मतलब नहीं है। इसीलिए मैं आत्महत्या कर रहा हूं।” इसी बीच पुलिस भी वहां आ पहुंची। उन्होंने उसे पानी की टंकी पर नीचे उतर आने का बहुत आग्रह किया। मगर इसके लिए वह राजी नहीं हुआ।

यह भी पढें:

भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा का हैदराबाद दौरा आज, टूट सकते हैं कई पार्टियों के नेता

गंभीर रूप से घायल यादगिरी
गंभीर रूप से घायल यादगिरी

आखिर में उस व्यक्ति ने पानी की टंकी पर से छलांग लगा दी। इसे देखकर गांव के लोग भयभीत हो गये। गांव वाले यह कहते हुए पाये गये कि यदि ऐसा करने से अच्छा होता कि पत्नी को तलाक देकर दूसरी शादी कर लेता। मगर गांव वालों को यह पता नहीं कि वह उस पत्नी को कितना चाहता है। यह घटना तेलंगाना के सिद्दिपेट जिले के चेरयाल मंडल के कडावेरगू गांव में शनिवार को घटी।

पुलिस और मिली जानकारी के अनुसार, कडावेरगू गांव निवासी यादगिरी की पत्नी कुछ समय से मायके गई पत्नी के वापस नहीं लौटने के कारण बहुत दुखी था। अचानक वह पानी की टंकी पर चढ़ गया। वहां से नीचे छलांग लगा दी। इस घटना वह गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे तुरंत गांधी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। जहां वह जिंदगी और मौत की लड़ाई लड़ रहा है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।