हैदराबाद : तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने उनके पैतृक गांव चिंतमड़का में हर परिवार को 10 लाख रुपए का लाभ पहुंचाने वाली योजना शुरू करने की घोषणा की है। केसीआर सोमवार को चिंतमड़का गांव के दौरे के तहत वहां आयोजित आत्मीय गौरव सभा में बोल रहे थे।

इस मौके पर केसीआर ने कहा, 'लंबे समय बाद उनकी मन्नत पूरी हो रही है। जिस दिन रैतु बंधु और रैतु बीमा की सुविधा मुहैया करवाई थी उस दिन मुझे बहुत खुशी मिली। तेलंगाना की तरह देश में किसानों के बारे में नहीं सोचा जा रहा है। ये योजनाएं गरीबों के लिए उपयोगी हैं। चिंतमड़का बहुत अच्छा गांव है और इसका वास्तु भी सही है। गांव में जल्द ही फिर से कुएं जैसे जलसंसाधन देखने को मिलेंगे। आपके गांव का बेटा मुख्यमंत्री बना है और तीन गांव मुझे शिक्षा प्रदान किए हैं।'

उन्होंने बताया कि पिछले पांच वर्षों में राज्य के सभी वर्गों की समस्याएं सुलझा ली गई हैं। बिजली और पेयजल की समस्या नहीं है। इस बार स्वग्राम विकास का संकल्प लिया गया है। उन्होंने कहा कि एर्रावेल्ली गांव को दत्तक लेकर उसका विकास किया है, लेकिन अब आपके पास अच्छे काम करने वाले कलेक्टर हैं। उन्होंने कहा कि गांव के लिए तत्काल दो सड़कों की जरूरत है और उन्हें अगले तीन महीने में बिछाया जाएगा।

इसे भी पढ़ें :

हैदराबाद: उज्जैनी महाकाली मंदिर में भव्य बोनालु जातरा उत्सव

मुख्यमंत्री ने कहा कि चिंतमड़का में विकास कार्यों के लिए निधि मंजूर की जाएगी और पलायन कर चुके लोगों को वापस बुलाकर उनतक योजनाओं का लाभ पहुंचाया जाएगा। गांव के हर परिवार को 10 लाख रुपये का लाभ पहुंचाया जाएगा। सरकार द्वारा दी जाने वाली सुविधाओं से युवाओं को रोजगार हासिल करना चाहिए। रोजगार के कोई भी मार्ग अपना सकते हैं। हर परिवार को 10 लाख का फायदा पहुंचाने वाली योजना शुरू की जाएगी।