हैदराबाद : दुबई निवासी एक महिला ने अपने पति से स्वयं को और बच्चों को बचाने के लिए भारतीय विदेश मंत्रालय से गुहार लगाई है । महिला ने अपनी जान का खतरा बताते हुए भारत के विदेश मंत्रालय को पत्र लिखा है।

जानकारी के अनुसार हैदराबाद निवासी शयेमा बेगम का का निकाह 15 साल पहले भूपाल निवासी मंसूर दुर्रानी के साथ हुआ था। निकाह के बाद मंसूर जेद्दा चला गया और वहां एक वाणिज्यिक बैंक में वाइस प्रेसिडेंट के रूप में काम करने लगा। वहीं पर उसका भाई उसके सहयोग से एक स्कूल भी चला रहा है।

शयेमा बेगम ने बताया कि सऊदी में रहते हुए उस ने 6 बच्चों को जन्म दिया। फिलहाल कुछ दिनों से घरेलू झगड़ों के चलते मंसूर और उसके बीच अनबन चल रही है और इसके कारण वह बच्चों और उसके साथ मारपीट भी करता रहता है।

ये भी पढ़ें: हैदराबाद में कपड़े बदल रही महिला का बनाया वीडियो, फिर करने लगे ब्लैकमेल

अपने पति की हरकतों से परेशान शयेमा ने अपने बच्चों को लेकर सऊदी में ही रहने वाले एक रिश्तेदार के घर में चली गयी है। उसने हैदराबाद लौटने के लिए सऊदी दूतावास से भी संपर्क किया है, लेकिन बच्चों का पासपोर्ट मंसूर के पास होने के कारण वह बच्चों के साथ हैदराबाद लौटने में सफल नहीं हो पा रही है।

शयेमा ने कहा है कि उसके पति ने उसे और उसके बच्चों को जान से मारने की धमकी दी है। इसीलिए उसने भारतीय विदेश मंत्रालय को पत्र लिखकर अपने पति से बचाने की अपील की है और हैदराबाद लौटने के लिए उचित मदद की गुहार लगाई है।