हैदराबाद : तेलंगाना के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री ईटेला राजेंदर ने कहा कि राजपूतों को ओबीसी का दर्जा दिलाने के प्रयास में सहयोग देंगे। साथ ही सामाजिक विकास के अंतर्गत विभिन्न योजनाओं का लाभ भी पहुंचाने का प्रयास करेंगे।

हैदराबाद में अंबरपेट स्थित महाराणा प्रताप फंक्शन पैलेस में क्षत्रिय राजपूत ट्रस्ट बोर्ड के क्षत्रिय राजपूत महासम्मेलन में उन्होंने कहा कि क्षत्रिय राजपूत की गाथा देश भर में प्रचलित है। राष्ट्रीय सुरक्षा में राजपूत समाज सदैव तत्पर रहा है। उन्होंने कहा कि तेलंगाना में राजपूतों को ओबीसी में शामिल किया गया है, जबकि राष्ट्रीय स्तर पर ओबीसी में शामिल नहीं किया गया है।

तेलंगाना सरकार इस दिशा में राजपूत समाज को सहयोग देगी। महासम्मेलन में पूर्व विधायक एवं तेरास के नेता प्रेम सिंह राठौड़ ने कहा कि राजपूत समाज के एकजूट होने पर कोई शक्ति उन्हें रोक नहीं सकेगी। इतिहास गवाह है कि राजपूतों ने देश को बचाने में त्याग और बलिदान का परिचय दिया है। उन्होंने कहा कि युवा पीढ़ी को समाज जोड़ना जरुरी है।

इसे भी पढ़ेें :

चेयरमैन प्रजापति का बोंदिली राजपूत वेलफेयर एसोसिएशन ने किया सम्मान

मराठा सांस्कृतिक ट्रस्ट एवं तेलंगाना मराठा मंडल का दशहरा- दीपावली मिलन सम्मेलन 11 को

महासम्मेलन में तेलंगाना बीसी कार्पोरेशन के प्रबंध निदेशक के. आलोक कुमार, टी जीवन सिंह, कल्वाकुर्ती के तेरास नेता टी बालाजी सिंह, बीसी आयोग के सदस्य कृष्णा मोहन राव, अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमर सिंह भदोरिया, अमरनाथ सिंह गहरवर, गोपाल सिंह, नरेंद्र सिंह बैंस, कुंवर अनूप कुमार सिंह, टी. रघुवीर सिंह, टी सुखराज सिंह, टी के राजेश सिंह, रणजीत सिंह, टी सुरेखादीप सिंह, टी रघुनंदन सिंह, ठाकुर विजय सिंह बैंस, सूरज सिंह पवार, हृदयनाथ सिंह व अन्य उपस्थित थे।