हैदराबाद : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को तेलंगाना एवं आंध्र प्रदेश में कांग्रेस और क्षेत्रीय दलों पर हमला बोला और आरोप लगाया कि उन्होंने विकास ‘‘बाधित किया'' और लोगों की भावनाओं से खिलवाड़ किया है। आदित्यनाथ ने कहा कि इन पार्टियों ने वंशवादी और पारिवारिक राजनीति को ‘‘बढ़ावा'' दिया और आम लोगों के जीवन को ‘‘मुश्किल'' बनाया।

आदित्यनाथ ने यहां समाचार एजेंसी से एक साक्षात्कार में कहा, ‘‘पिछले कुछ वर्षों में आंध्र प्रदेश में या तो कांग्रेस या क्षेत्रीय दल सत्ता में रहे हैं। उन्होंने लोगों से विकास के नाम पर धोखा किया है।

ये लगाए आरोप

आदित्यनाथ ने यहां वंशवादी और पारिवारिक राजनीति को ‘‘बढ़ावा'' दिया और विकास प्रक्रिया को बाधित किया।'' आदित्यनाथ ने कहा, ‘‘इन्होंने केवल आकर्षक नारे दिये और आम लोगों का जीवन मुश्किल बनाया। तेलंगाना में पिछले पांच वर्षों से टीआरएस की सरकार है। यह सरकार भी कांग्रेस के दिखाये रास्ते पर चल रही है। ये भी वंशवादी और पारिवारिक राजनीति में लिप्त हो रही है।''

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री चुनावी सभाओं को संबोधित करने के लिए तेलंगाना में हैं। वे आंध्र प्रदेश में भी लोगों को संबोधित करेंगे। आदित्यनाथ ने कहा, ‘‘चाहे वह आंध्रप्रदेश में तेदेपा हो, तेलंगाना में कांग्रेस या टीआरएस हो, सभी ने तुष्टिकरण की राजनीति की है।'' उन्होंने कहा, ‘‘इन सभी ने बड़े और आकर्षक वादे करके लोगों की भावनाओं से खेला है।''

चंद्रबाबू पर सवाल

उन्होंने कहा कि यह लंबे समय नहीं चलेगा। उन्होंने कहा कि भाजपा आंध्र प्रदेश विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज करेगी और अपने प्रतिद्वंद्वियों का ‘‘विकास विरोधी चेहरा'' और उनके द्वारा की जा रही तुष्टिकरण की राजनीति को उजागर करेगी। उन्होंने विश्वास जताया कि भाजपा दोनों राज्यों में अच्छी संख्या में सीटें जीतेगी। यह पूछे जाने पर कि तेदेपा प्रमुख एवं आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू राजग से क्यों अलग हुए और क्या इससे दक्षिण भारत में भाजपा पर असर होगा जहां पार्टी अपनी सीटों की संख्या बढ़ाने की कोशिश कर रही है, आदित्यनाथ ने कहा, "यह अवसरवाद की राजनीति है। राजग में उनका सम्मान किया गया। भाजपा ने पार्टी कार्यकर्ताओं की अनदेखी करते हुए चंद्रबाबू नायडू को सम्मान दिया था।''

उन्होंने कहा, ‘‘राजग से उनके अलग होने से भाजपा की चुनावी संभावनाओं पर कोई असर नहीं पड़ेगा। भाजपा आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, तमिलनाडु, केरल और कर्नाटक में बहुत अच्छा प्रदर्शन करेगी और इन राज्यों में अच्छी संख्या में सीटें जीतेगी।'' आदित्यनाथ ने कहा कि ओडिशा, पश्चिम बंगाल और पूर्वोत्तर राज्यों में भी भाजपा अच्छी संख्या में सीटें जीतेगी।

ओवैसी परिवार पर निशाना

मुख्यमंत्री ने ओवैसी भाइयों..एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी और अकबरुद्दीन ओवैसी...पर भी हमला बोला और आरोप लगाया कि उनके द्वारा दिए गए नकारात्मक बयान हैदराबाद और तेलंगाना के लोगों का अपमान है। उन्होंने कहा, ‘‘हम विकास और सुरक्षा की बात करते हैं। हैदराबाद के ओवैसी बंधुओं द्वारा की गई नकारात्मक राजनीति और बयानबाजी न केवल तेलंगाना और हैदराबाद के लोगों के लिए अपमानजनक है बल्कि यह देश की मूल भावनाओं का भी अपमान है।'' उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि उनके द्वारा की जा रही नकारात्मक राजनीति के लिए भारतीय लोकतंत्र में कोई जगह नहीं होनी चाहिए।''

हैदराबाद लोकसभा क्षेत्र परंपरागत रूप से एआईएमआईएम का गढ़ है। असदुद्दीन ओवैसी यहां से 2004 से जीत रहे हैं। इसमें सात विधानसभा क्षेत्र हैं और इनमें से छह पर 2018 तेलंगाना विधानसभा चुनाव में एआईएमआईएम ने जीत दर्ज की थी।

इसे भी पढ़ें :

KCR का मोदी पर हमला, कहा- ऐसा चिल्लर PM नहीं देखा, जो निजी टिप्पणियां करता हो

कांग्रेस के लोग आतंकियों को बिरियानी खिलाते हैं और मोदी जी गोली : योगी आदित्यनाथ

उन्होंने कहा, ‘‘हम विकास और सुरक्षा की बात करते हैं। हैदराबाद के ओवैसी बंधुओं द्वारा की गई नकारात्मक राजनीति और बयानबाजी न केवल तेलंगाना और हैदराबाद के लोगों के लिए अपमानजनक है बल्कि यह देश की मूल भावनाओं का भी अपमान है।''

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि उनके द्वारा की जा रही नकारात्मक राजनीति के लिए भारतीय लोकतंत्र में कोई जगह नहीं होनी चाहिए।''

हैदराबाद लोकसभा क्षेत्र परंपरागत रूप से एआईएमआईएम का गढ़ है। असदुद्दीन ओवैसी यहां से 2004 से जीत रहे हैं। आदित्यनाथ ने बाद में तेलंगाना के पेड्डापल्ली में भाजपा उम्मीदवार एस कुमार के समर्थन में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस और टीआरएस दोनों को ‘‘राष्ट्रविरोधी'' बताया।

उन्होंने आरोप लगाया कि दोनों पार्टियां ऐसी गतिविधियों का समर्थन कर रही हैं जो राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरनाक है। उन्होंने इसके साथ ही पूर्ववर्ती कांग्रेस नीत संप्रग सरकार पर आतंकवादियों को ‘‘बिरयानी परोसने'' का आरोप लगाया और कहा कि दूसरी ओर मोदी सरकार ने आतंकवादी हमलों से गोलियों से निपटने का निश्चय दिखाया है।

आदित्यनाथ ने आरोप लगाया कि संप्रग सरकार ने सुरक्षा बलों को आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने दी। वैज्ञानिकों के भी हाथ ‘बंधे' थे लेकिन मोदी सरकार ने उपग्रह रोधी मिसाइल विकसित करके उनका कौशल दिखाया।

उन्होंने टीआरएस...एआईएमआईएम गठबंधन को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि ऐसा लगता है कि टीआरएस तेलंगाना में ‘निजामशाही' स्थापित कर लोगों को फिर से ‘‘गुलाम'' बनाना चाहती है। उन्होंने टीआरएस सरकार के मुस्लिमों को 12 प्रतिशत आरक्षण लागू करने के कदम को ‘‘असंवैधानिक'' बताया। उन्होंने कहा कि ‘‘मुस्लिमों को आरक्षण संविधान के खिलाफ है।'