हैदराबाद : तेलंगाना लोकसभा के चुनाव में निजामाबाद लोकसभा का चुनाव निर्वाचन आयोग बैलेट पेपर के द्वारा कराने की तैयारी शुरू कर रहा है। अधिकारियों से मिल रही जानकारी के अनुसार, इस लोकसभा क्षेत्र में कुल 189 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं, जिसके चलते यहां पर ईवीएम से मतदान कराना संभव नहीं है। इसलिए निर्वाचन आयोग ने निजामाबाद में बैलेट पेपर से चुनाव कराने की तैयारियों को तेज कर दिया है।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी रजत कुमार का कहना है कि ईवीएम में केवल 63 उम्मीदवार और एक लोटा सहित 64 एंट्री ही की जा सकती है। ऐसे ऐसी हालत में बैलट पेपर के अलावा चुनाव कराने का कोई और विकल्प ही नहीं है, इसलिए इस संदर्भ में तैयारी की जा रही है।

निजामाबाद में 189 उम्मीदवार मैदान में होने की उम्मीद है। इसलिए प्रदेशभर से बड़े-बड़े बैलट बॉक्स मनाए जा रहे हैं और संबंधित जिले के अधिकारियों को इसके लिए सूचित कर दिया गया है। हालांकि, रजत कुमार ने निजामाबाद में चुनाव की तारीख बदले जाने या किसी और इस तरह की कोई संभावना पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया।

सांसद के. कविता
सांसद के. कविता

इसे भी पढ़ें :

भाजपा और कांग्रेस कर रही हैं यह झूठा प्रचार : सांसद कविता

निजामाबाद लोस सीट पर कविता के खिलाफ मैदान में 244 उम्मीदवार, किसानों का अनूठा विरोध

आपको बता दें कि निजामाबाद इलाके में लाल ज्वार और हल्दी उत्पादक किसानों ने सरकार की नीतियों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर यहां पर बड़ी संख्या में नामांकन दाखिल कर चुनाव में अपना विरोध जताने का ऐलान किया था। उसी के मद्देनजर यह किसान चुनाव में उतरे हैं ।हालांकि नामांकन पत्र की जांच में निजामाबाद लोकसभा सीट के 14 विद्वानों के नामांकन पत्र खारिज भी किए दिए है नहीं तो या संख्या और भी बढ़ सकती थी।

यहां पर मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव की बेटी के.कविता चुनाव मैदान में हैं और दोबारा इस सीट से लोकसभा में जाने की कोशिश कर रही हैं।