हैदराबाद : न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च की मस्जिदों में हुई गोलीबारी में घायल हुए हैदराबाद के दो और शख्स की मौत हो गई है। इनमें से एक का नाम फरहाज अहसान है और दूसरे व्यक्ति का नाम उजैर कादिर है।

एआईएमआईएम अध्यक्ष और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी का कहना है कि न्यूजीलैंड में मस्जिदों में हुई गोलीबारी में घायल हुए हैदराबाद के निवासियों में से एक की मौत हो गई है।

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल-मुस्लीमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष ने शनिवार रात ट्वीट किया, ‘‘बड़े दुख के साथ सूचित करना पड़ रहा है कि क्राइस्टचर्च हमले में घायल पीड़ितों में से एक फरहाज अहसान की मौत हो गई।''

उन्होंने लिखा है, ‘‘उनके परिवार में माता-पिता, पत्नी और बच्चे हैं। मैं दुख की इस घड़ी में सभी से फरहाज और उनके परिवार के लिए दुआ की अपील करता हूं।'' पेशे से सॉफ्टवेयर इंजीनियर फरहाज पिछले सात साल से न्यूजीलैंड में काम कर रहे थे। फरहाज विवाहित हैं और उनके दो बच्चे हैं।

हैदराबाद के ही नूर खान बाजार के रहने वाले उजैर कादिर की भी मौत हो गई है। वह भी गोलीबारी में घायल हुए थे। उजैर न्यूजीलैंड के एक एवियेशन कॉलेज में पढ़ाई करते थे। उनकी उम्र 25 साल थी।

यह भी पढ़ें :

न्यूजीलैंड मस्जिद हमले में हैदराबाद के शख्स की मौत, भावुक हुए असदुद्दीन ओवैसी

न्यूजीलैंड की क्राइस्टचर्च मस्जिद में फायरिंग, 40 लोगों की मौत, बाल-बाल बचे बांग्लादेशी क्रिकेटर

अब तक 5 भारतीयों की मौत

न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च में जुमे की नमाज के दौरान दो मस्जिदों में हुए हमले में मारे गए 50 लोगों में पांच भारतीय भी शामिल हैं। भारतीय उच्चायोग ने रविवार को इस बात की पुष्टि की कि हमले में पांच भारतीयों की मौत हुई है। उच्चायोग ने ट्वीट किया, ‘‘अत्यंत दु:ख के साथ हम क्राइस्टचर्च में हुए भयावह आतंकवादी हमले में हमारे पांच नागरिकों की मौत की सूचना दे रहे हैं।''

क्राइस्टचर्च में जुमे की नमाज के दौरान दो मस्जिदों पर एक दक्षिणपंथी चरमपंथी ने हमला किया था। इस हमले में 50 लोगों की मौत हो गई है।

हमले के कुछ ही देर बाद न्यूजीलैंड में भारत के उच्चायुक्त संजीव कोहली ने शुक्रवार को ट्वीट किया था कि ‘‘भारतीय नागरिकता/मूल के नौ नागरिक लापता हैं'' लेकिन उन्होंने यह भी कहा था कि आधिकारिक पुष्टि का इंतजार किया जा रहा है।